18.1 C
Ranchi
Thursday, February 22, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeटेक्नोलॉजी15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट

15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट

भारत की अर्थव्यवस्था के लिए यह कदम फायदेमंद हो सकता है. भारत में स्मार्टफोन की लागत कम होने से निर्यात बढ़ेगा. मोबाइल फोन की मैन्युफैक्चरिंग बढ़ेगी. इससे देश में नये रोजगार सृजित होंगे.

Undefined
15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट 7

मोदी सरकार की ओर से स्मार्टफोन यूजर्स को बड़ा गिफ्ट दिया जा सकता है. दरअसल, सरकार मोबाइल फोन के पार्ट्स पर इंपोर्ट ड्यूटी घटा सकती है. इसमें 10 से 15 प्रतिशत की कटौती हो सकती है.

Undefined
15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट 8

ऐसा होने पर 50 हजार रुपये वाले स्मार्टफोन की कीमत 7500 रुपये घट जाएगी, वहीं 1 लाख रुपये वाला स्मार्टफोन 15 हजार रुपये तक सस्ता हो जाएगा.

Also Read: Motorola ने उतारे 2 सस्ते स्मार्टफोन, 10 हजार के बजट में मिलेंगे महंगे फोन वाले फीचर्स
Undefined
15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट 9

वित्त मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार, मोबाइल फोन के पार्ट्स पर लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी जैसे बैटरी, मेन लेंस और अन्य मैटेरियल आइटम जैसे प्लास्टिक और मेटल की कीमत में 10 प्रतिशत की कटौती हो सकती है.

Undefined
15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट 10

भारत की अर्थव्यवस्था के लिए यह कदम फायदेमंद हो सकता है. भारत में स्मार्टफोन की लागत कम होने से निर्यात बढ़ेगा. मोबाइल फोन की मैन्युफैक्चरिंग बढ़ेगी. इससे देश में नये रोजगार सृजित होंगे.

Also Read: मिल गया गरीबों को वरदान! 32MP सेल्फी और 256GB स्टोरेज वाले फोन ने मारी एंट्री
Undefined
15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट 11

रिपोर्ट्स की मानें, तो सरकार की तरफ से मोबाइल फोन और पार्ट्स पर इंपोर्ट ड्यूटी घटाने से हाई एंड स्मार्टफोन की मैन्युफैक्चरिंग में तेजी आयेगी. साथ ही ऐपल, सैमसंग, वीवो और ओप्पो के स्मार्टफोन की कीमत घट सकती है.

Undefined
15000 रुपये तक सस्ते होंगे फोन, मोदी सरकार का स्पेशल गिफ्ट 12

रिपोर्ट्स के अनुसार, भारत में बिकने वाले 99.2 प्रतिशत मोबाइल फोन देश में ही बने होते हैं. भारत का स्मार्टफोन निर्यात वित्त वर्ष 2022-23 में पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 100 प्रतिशत बढ़कर 11.1 बिलियन डॉलर हो गया. इस संख्या में ज्यादा बढ़ोतरी की उम्मीद है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें