1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. tmc will hit sixer at sreerampur assembly seat or bjp will make ruling party out congress left isf coalition too is strong in bengal election 2021 mtj

तृणमूल लगायेगी सिक्सर या बाजी मारेगी बीजेपी, श्रीरामपुर में है रोचक मुकाबला, संयुक्त मोर्चा भी दिखा रहा दम

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
श्रीरामपुर में दिलचस्प मुकाबले के आसार
श्रीरामपुर में दिलचस्प मुकाबले के आसार
Prabhat Khabar

कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में हुगली जिले के श्रीरामपुर विधानसभा सीट पर इस बार का मुकाबला काफी रोमांचक होने जा रहा है. पांच बार से जीतती आ रही तृणमूल पार्टी इस बार जीत का छक्का (सिक्सर) लगाने के प्रयास में जुटी है, तो भाजपा अपने बढ़ते जनाधार के सहारे तृणमूल कांग्रेस को आउट करने की जुगत में है.

चुनावी दंगल में माकपा-कांग्रेस-आइएसएफ गठबंधन (संयुक्त मोर्चा) भी दम दिखा रहा है. इसलिए यहां दिलचस्प मुकाबले की उम्मीद है. श्रीरामपुर विधानसभा क्षेत्र को पहले सेरमपुर कहा जाता था. वर्ष 2011 के चुनाव में इसका नाम बदलकर श्रीरामपुर कर दिया गया. यहां राम-सीता का एक बेहद ही प्रसिद्ध मंदिर है.

चुनावी इतिहास पर नजर डालें

श्रीरामपुर सीट से सबसे पहले वर्ष 1951 में कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी. वर्ष 1957 में इस सीट पर सीपीआई ने बाजी मारी. सीपीआई दो बार यहां से जीती, लेकिन 1967 के चुनाव में कांग्रेस ने फिर से इस सीट पर कब्जा जमा लिया. दो साल बाद फिर वर्ष 1969 में चुनाव हुए और सीपीआइ ने एक बार फिर इस सीट को कांग्रेस से छीन लिया.

कांग्रेस भी हार मानने वाली नहीं थी. वर्ष 1971 और 1972 में हुए चुनावों में उसने लगातार दो बार यहां जीत हासिल की. वर्ष 1977 में माकपा ने इस सीट को जीता, लेकिन अगले ही चुनाव में कांग्रेस ने एक बार फिर इस सीट पर कब्जा कर लिया. वह चुनाव वर्ष 1982 का था. और तब से लगातार चार बार पार्टी के उम्मीदवार यहां से जीतते रहे.

बंगाल में नयी सहस्राब्दी का पहला चुनाव वर्ष 2001 में हुआ. इस चुनाव में यहां से पहली बार तृणमूल कांग्रेस ने जीत हासिल की और अब तक अजेय है. वर्ष 2001 के बाद 2006, वर्ष 2009 के उपचुनाव, वर्ष 2011 और वर्ष 2016 में तृणमूल के उम्मीदवारों ने यहां विजय पताका लहराया.

हुगली जिला में दो चरणों में हो रहा है मतदान

हुगली जिला के श्रीरामपुर विधानसभा सीट पर चौथे चरण में 10 अप्रैल को वोटिंग होगी. हालांकि, तीसरे चरण में भी हुगली जिला की 8 विधानसभा सीटों पर चुनाव कराये जायेंगे. तीसरे चरण की वोटिंग 6 अप्रैल को होगी. इस दिन हुगली जिला की जंगीपाड़ा, हरिपाल, धनेखाली, तारकेश्वर, पुरसुरा, आरामबाग, गोघाट और खानाकूल विधानसभा सीट पर मतदान होगा.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि बंगाल में इस बार 8 चरणों में चुनाव कराये जा रहे हैं. पहले और दूसरे चरण की वोटिंग क्रमश: 27 मार्च और 1 अप्रैल को हो चुकी है. तीसरे चरण की वोटिंग 6 अप्रैल को है. चौथे, पांचवें, छठे, सातवें और आठवें चरण का मतदान क्रमश: 10 अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को होगा. बंगाल की सभी 294 सीटों पर मतगणना एक साथ 2 मई को होगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें