1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. private tutor binay mishra earned thousands of crore in few years cbi investigating political connection in cow smuggling case mtj

विनय मिश्रा : ट्यूशन मास्टर के हजारों करोड़ का मालिक बनने की कहानी, तृणमूल के बड़े नेता का है करीबी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Cow Smuggling: विनय मिश्रा : ट्यूशन मास्टर के हजारों करोड़ का मालिक बनने की कहानी, तृणमूल के बड़े नेता का है करीबी.
Cow Smuggling: विनय मिश्रा : ट्यूशन मास्टर के हजारों करोड़ का मालिक बनने की कहानी, तृणमूल के बड़े नेता का है करीबी.
Prabhat Khabar

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में इन दिनों एक व्यक्ति की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है. नाम है विनय मिश्रा. तृणमूल युवा कांग्रेस का महासचिव. ममता बनर्जी के भतीजे एवं तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अभिषेक बनर्जी का करीबी. 5 साल पहले तक सामान्य जीवन जीने वाला यह शख्स करोड़ों का मालिक बन चुका है. राजनीति की प्रभावशाली हस्तियों तक उसकी पहुंच है. मवेशी तस्करों और राजनेताओं के बीच की सबसे बड़ी कड़ी बन चुका है विनय.

उसकी संदिग्ध गतिविधियों की वजह से ही सीबीआई उसके पीछे पड़ी है. गुरुवार को देर रात तक उसके ठिकानों पर छापामारी की गयी. हालांकि, विनय मिश्रा अब तक सीबीआई के हत्थे नहीं चढ़ा है. गायों की तस्करी के मामले की जांच कर रही सीबीआई के हाथ कुछ ऐसे सबूत लगे हैं, जिससे पता चला है कि विनय मिश्रा इस जांच की अहम कड़ी साबित हो सकता है. गायों की तस्करी को जारी रखने के लिए करोड़ों रुपये का लेन-देन होता है, उसके माध्यम से ही होता है.

खुफिया अधिकारियों का कहना है कि विनय मिश्रा के नाम कोलकाता में कई फ्लैट हैं. रासबिहारी, चेतला, लेकटाउन के अलावा कैखाली में भी उसके फ्लैट हैं. कैखाली स्थित उसके एक फ्लैट को तो सीबीआई ने सील भी कर दिया है. सीबीआई के सूत्र बताते हैं कि विनय मिश्रा के एक प्राइवेट ट्यूटर से करोड़पति बनने का सफर किसी को भी हैरत में डाल सकता है. कॉमर्स में ग्रेजुएशन करने के बाद उसने होम ट्यूटर का काम शुरू किया था.

मेधावी छात्र रहे विनय मिश्रा ने कई चार्टर्ड फर्म में काम किया. इसी दौरान कई राजनीतिक हस्तियों के साथ उसकी मुलाकात हुई. नेताओं के साथ उसका परिचय बढ़ता गया. ट्यूशन पढ़ाने वाले विनय ने मार्बल का कारोबार भी किया. कुछ ही दिनों में वह अकूत संपत्ति का मालिक बन गया. रासबिहारी में एक मकान है, चेतला के एक अपार्टमेंट में तीन आलीशान फ्लैट हैं. लेकटाउन में भी एक मकान का पता चला है. कैखाली में उसके फ्लैट को सीबीआई ने सील कर दिया है.

विनय ने फर्जी कंपनी के जरिये करोड़ों का लेन-देन

विनय मिश्रा ने फर्जी कंपनी खोलकर उसके जरिये करोड़ों रुपये का लेन-देन किया, ऐसा सीबीआई ने आरोप लगाया है. एक ओर केंद्रीय जांच एजेंसी विनय मिश्रा की तलाश कर रही है, तो दूसरी तरफ उन प्रभावशाली लोगों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है, जो विनय के मददगार हैं या जिन्होंने विनय की मदद से अवैध कारोबार चला रहे हैं.

विनय की आय का स्रोत तलाश रही पुलिस

प्रभावशाली तृणमूल नेता के करीबी बताये जा रहे विनय मिश्रा आज हजारों करोड़ का मालिक बन चुका है. उसकी आय के स्रोत की जांच के दौरान ही केंद्रीय खुफिया एजेंसी के अधिकारियों को पता चला कि वह कोयला एवं मवेशी तस्करी के कारोबार में उसकी भूमिका है. इसलिए सीबीआई उससे पूछताछ करना चाहती है. इन दोनों ही मामलों में सीबीआई को तस्करी से जुड़े कारोबारियों से राजनीतिक कनेक्शन का पता चला है. सबूत हाथ लगते ही सीबीआई उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें