1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. neet jee main exam 2020 kolkata west bengal chief minister mamata banerjee 75 percent of the states candidates could not participate in the jee examination corona virus epidemic and in other states only half of the students reached their centers blamed the central government gur

NEET, JEE Main Exam 2020 : जेईई परीक्षा में शामिल नहीं हो सके बंगाल के 75 फीसदी छात्र, सीएम ममता ने केंद्र सरकार को घेरा

By Agency
Updated Date
NEET, JEE Main Exam 2020 : जेईई परीक्षा में शामिल नहीं हो सके बंगाल के 75 फीसदी छात्र, सीएम ममता ने केंद्र सरकार को घेरा
NEET, JEE Main Exam 2020 : जेईई परीक्षा में शामिल नहीं हो सके बंगाल के 75 फीसदी छात्र, सीएम ममता ने केंद्र सरकार को घेरा
pti photo

NEET, JEE Main Exam 2020 : कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को दावा किया कि मंगलवार को हुई जेईई की परीक्षा में कोरोना वायरस महामारी की वजह से राज्य के 75 प्रतिशत अभ्यर्थी भाग नहीं ले सके और अन्य राज्यों में भी सिर्फ आधे विद्यार्थी ही अपने केंद्रों पर पहुंचे. इसके लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार के अहंकार को जिम्मेदार ठहराया.

सीएम ममता बनर्जी ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) मेन्स और राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) कराने के केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ हैं. उन्होंने केंद्र से उन लोगों के बारे में पुनर्विचार करने की गुजारिश की, जो परीक्षा में शामिल होने में कामयाब रहे और जो इम्तिहान नहीं दे सके. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि छात्र बहुत मुश्किल में हैं. उनमें से कई जेईई की परीक्षा नहीं दे सके. इसलिए उन्होंने केंद्र से आग्रह किया था कि उच्चतम न्यायालय में अपील की जाए या मामले की फिर से समीक्षा हो, ताकि छात्र इससे वंचित नहीं रहें.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि उनकी सरकार ने छात्रों के लिए सभी इंतजाम किए थे, लेकिन मंगलवार को सिर्फ 1,167 बच्चों ने परीक्षा दी, जबकि कुल 4,652 अभ्यर्थियों को इस परीक्षा में शामिल होना था. उन्होंने समाचार एजेंसी भाषा से कहा कि इसका मतलब है कि पश्चिम बंगाल में सिर्फ 25 प्रतिशत छात्र ही परीक्षा दे पाए, जबकि 75 फीसदी इम्तिहान नहीं दे सके.

केंद्र सरकार के निर्देश के मुताबिक उन्होंने परीक्षा के लिए इंतजाम किए थे. तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए सवालिया लहजे में पूछा कि अगर परीक्षा को कुछ और दिनों के लिए टाल दिया जाता तो क्या गलत हो जाता ? इतना अहंकार क्यों है ? केंद्र सरकार इतनी जिद्दी क्यों है ? उसे छात्रों के भविष्य को बर्बाद करने का अधिकार किसने दिया ?

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें