1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. neet 2020 latest news west bengal kolkata sfi complete lockdown in west bengal a day before neet 2020 student wing of left parties sfi demands this from mamata banerjee government mth

NEET 2020 से एक दिन पहले बंगाल में कम्प्लीट लॉकडाउन, SFI ने ममता बनर्जी सरकार से की यह मांग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
ममता बनर्जी की तृणमूल सरकार से कम्प्लीट लॉकडाउन वापस लेने की एसएफआइ ने की है मांग.
ममता बनर्जी की तृणमूल सरकार से कम्प्लीट लॉकडाउन वापस लेने की एसएफआइ ने की है मांग.
Prabhat Khabar

कोलकाता : नेशनल एलिजिबिलिटी कम इंट्रेंस टेस्ट (NEET 2020) की 13 सितंबर को आयोजित होने वाली परीक्षा से ठीक एक दिन पहले पश्चिम बंगाल में कम्प्लीट लॉकडाउन है. स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) ने राज्य की ममता बनर्जी सरकार से इस लॉकडाउन को वापस लेने की मांग की है.

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की छात्र इकाई एसएफआइ ने पश्चिम बंगाल सरकार से अपील की है कि वह नीट परीक्षार्थियों की खातिर 12 सितंबर के राज्यव्यापी लॉकडाउन को वापस ले ले. ऐसा नहीं करने पर दूर-दराज से आने वाले विद्यार्थियों को परीक्षा देने में काफी कठिनाइयों का सामना करना होगा.

पश्चिम बंगाल सरकार ने 7 सितंबर के अलावा 11 और 12 सितंबर को राज्य में पूर्ण बंदी की घोषणा कर रखी है. स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआइ) की राज्य इकाई के अध्यक्ष प्रतीक उर रहमान ने एक बयान जारी कर छात्रों के सामने आने वाली समस्याओं के बारे में अपनी चिंता जतायी है.

प्रतीक ने कहा है कि बंद (लॉकडाउन) के चलते राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के अभ्यर्थियों को दूर-दराज क्षेत्रों से 13 सितंबर को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने में परेशानियां होंगी.

बयान में राज्य सरकार से 12 सितंबर के बंद को यह कहते हुए वापस लेने की अपील की गयी है कि विद्यार्थी महामारी की वजह से पहले से ही काफी तनाव में हैं और लॉकडाउन में गाड़ियां नहीं चलने से उनकी परेशानियां और बढ़ेंगी.

एसएफआइ ने कहा है कि अगर प्रशासन 12 सितंबर के बंद को वापस नहीं लेता है, तो उन्हें परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा के दिन विशेष ट्रेनों का प्रबंध करना चाहिए. इससे पहले एक से छह सितंबर के बीच हुई जेईई मुख्य (JEE Mains) परीक्षा के दौरान कई अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने में दिक्कतें आयी थी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें