ईंट फेंकने पर पत्थर तो सहना ही पड़ेगा : दिलीप

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलकाता : ईस्ट-वेस्ट मेट्रो सेवा के उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आमंत्रित नहीं किये पर आलोचना का जवाब देते हुए प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा : ईंट फेंकने पर पत्थर तो सहना ही पड़ेगा.

श्री घोष ने कहा : रेलमंत्री रहते वक्त ममता बनर्जी ने भी तत्कालीन मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य को उद्घाटन समारोहों में नहीं बुलाया. उन्होंने ममता पर कटाक्ष किया कि ईट फेंकने पर पत्थर तो सहना ही पड़ता है.
उल्लेखनीय है कि गुरुवार को ईस्ट-वेस्ट मेट्रो परियोजना के प्रथम चरण के उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आमंत्रित नहीं किया गया था. इस पर सत्तारूढ़ दल सहित ममता बनर्जी ने नाराजगी व्यक्त की है. श्री घोष ने कहा: भले ही मुख्यमंत्री को समारोह में नहीं बुलाया गया, लेकिन उनके प्रतिनिधियों को तो आमंत्रित किया गया था. हालांकि ममता को आमंत्रण नहीं मिलने के कारण उनका अन्य कोई प्रतिनिधि समारोह में नहीं पहुंचा था.
श्री घोष ने कहा कि ममता बनर्जी के नहीं चाहने पर तृणमूल के किसी प्रतिनिधि को हिम्मत नहीं है कि वह समारोह में चला जाए, क्योंकि वे सभी नौकरी करते हैं.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें