1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 the equation of 3 seats in malda south can spoil congress dream bjp is putting emphasis tmc trying to open account in malda district

मालदा दक्षिण की तीन सीटों के समीकरण में फंसी कांग्रेस, BJP का जोर, खाता खोलने की कोशिश में TMC

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मालदा दक्षिण की तीन सीटों के समीकरण में फंसी कांग्रेस, BJP का जोर, खाता खोलने की कोशिश में TMC
मालदा दक्षिण की तीन सीटों के समीकरण में फंसी कांग्रेस, BJP का जोर, खाता खोलने की कोशिश में TMC
Prabhat Khabar

बंगाल चुनाव 2021: मालदा दक्षिण लोकसभा सीट की 5 और मालदा उत्तर लोकसभा सीट की एक विधानसभा सीट पर अंतिम फेज में 29 अप्रैल को वोटिंग है. साल 2019 में मालदा दक्षिण लोकसभा सीट यानी कांग्रेस के गढ़ में सेंधमारी करने में भले ही बीजेपी चूक गयी हो. लेकिन, मालदा दक्षिण की तीन सीटों पर साल 2019 में मोदी की लहर साफ दिखी थी. इन तीन सीट मानिकचक, इंगलिशबाजार और वैष्णवनगर पर बीजेपी ने कांग्रेस को पछाड़ा था. बीजेपी को इन तीन सीटों से सबसे ज्यादा वोट हासिल हुई थी.

हालांकि, साल 2016 विधानसभा चुनाव में मानिकचक कांग्रेस पार्टी के कब्जे में था. जबकि, इंगलिशबाजार सीट पर निर्दलीय ने कब्जा जमाया था. वहीं, मालदा में बीजेपी ने अपना खाता खोला था. वैष्णवनगर में बीजेपी ने कांग्रेस को हराकर अपनी जीत सुनिश्चित की थी. वहीं, मालदा दक्षिण लोकसभा सीट कांग्रेस के कब्जे में रहने के बाद भी इस सीट के अंतर्गत विधानसभा सीट का समीकरण किसी भी वक्त बिगड़ सकता है.

इन सीटों का समीकरण बिगड़ने पर कांग्रेस को धक्का लग सकता है. इस बार साल 2019 के लोकसभा चुनाव परिणाम को दोहराना भी बीजेपी के लिए आसान नहीं है. वहीं, टीएमसी के लिए जीत का रास्ता खोलने के लिए ममता बनर्जी भी पिछले दिनों मालदावासियों पर अपनी छाप छोड़ने की कोशिश कर रही थी. टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी तो यहां तक कहती हुई दिखी, एक बार जीत दिला दो, मालदा का विकास कर दूंगी. अब देखना है, इन तीन सीटों पर बीजेपी की लोकसभा चुनाव का परिणाम फिर से देखने को मिलेगी या कांग्रेस अपने गढ़ को बचा लेगी या मालदा की जनता एक बार टीएमसी को चांस देगी. इसका पता अब 2 मई को चलेगा.

लोकसभा चुनाव में इन तीन सीटों का परिणाम

साल 2019 में मालदा दक्षिण लोकसभा सीट के इन तीन विधानसभा सीट पर बीजेपी को सबसे ज्यादा वोट मिली थी. मानिकचक से बीजेपी को 81,809 वोट मिली थी तो कांग्रेस को 51,920 वोट मिली थी. इंगलिशबाजार से बीजेपी को 1,32,860 वोट मिली थी जबकि कांग्रेस को बहुत कम 37,607 वोट मिली थी. वहीं वैष्णवनगर सीट पर भी बीजेपी को बढ़त मिली थी. बीजेपी को इस सीट से 81,475 वोट हासिल हुई थी जबकि कांग्रेस को 52,291 वोट मिली थी. वहीं, साल 2019 में भी मालदा दक्षिण लोकसभा सीट पर कांग्रेस का दबदबा रहा. कांग्रेस के अब्दुल हासेम खान चौधरी ने जीत हासिल की थी. उन्हें 4,44,270 वोट मिले थे. अब्दुल हासेम खान चौधरी ने बीजेपी की श्रीरूपा मित्रा चौधरी को हराया था. उन्हें 4,36,048 वोट मिली थी.

साल 2016 में इन सीटों पर चुनाव परिणाम

मानिकचक से कांग्रेस के मो. मोताकिन आलम ने टीएमसी की सावित्री मित्रा को 12,603 वोटों से पराजित किया था. इंगलिशबाजार सीट से निर्दलीय निहार रंजन घोष ने जीत हासिल कर सबको चौका दिया था. निहार रंजन घोष ने टीएमसी के कृष्णेंदु नारायण चौधरी को 39,727 वोटों से हराया था. वैष्णवनगर सीट पर बीजेपी जीत दर्ज करने में सफल हुई थी. बीजेपी के स्वाधीन कुमार सरकार ने कांग्रेस के अजीजुल हक को 4,497 वोटों से हराया था.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें