1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav galasi assembly seat bjp trying to get vote of 30 percent minorities up cm yogi aadityanath and smriti irani are coming for election campaign pwn

Bengal Chunav 2021 : गलसी विधानसभा सीट के 30 फीसदी आदिवासी वोटर्स को लुभाने के लिए कार्य कर रही है बीजेपी, प्रचार के लिए आएंगे योगी - ईरानी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गलसी विधानसभा सीट के 30 फीसदी आदिवासी वोटर्स को लुभाने के लिए कार्य कर रही है बीजेपी
गलसी विधानसभा सीट के 30 फीसदी आदिवासी वोटर्स को लुभाने के लिए कार्य कर रही है बीजेपी
Prabhat Khabar

2016 के विधानसभा चुनावों में यह 30 फीसदी वोट टीएमसी के खाते में गयी थी. 2019 के लोकसभा चुनाव में भी गलसी सीट गलसी एक और दो ब्लॉक के अल्पसंख्यक वोट भी तृणमूल के खाते में ही गये थे. इसके बावजूद इस सीट से भाजपा के सांसद एस एस अहलूवालिया ने जीत दर्ज की थी.

हालांकि फिलहाल जो हालात हैं उससे सभी दलों को यह लग रहा है कि यह वोट भाजपा के झोली में नहीं जाएगा. आदिवासी-अविकसित समुदायों के पास लगभग 30 प्रतिशत वोट है. जानकार बताते है कि लगता है कि हिंदू वोटर्स बीजेपी की सबसे बड़ी उम्मीद है. इस बीच, गलसी के उम्मीदवार विकास विश्वास ने कहा कि स्मृति ईरानी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी तूफानी चुनावी प्रचार हेतु पानागढ़ आ रहे हैं और शुभेंदु अधिकारी को गलसी में लाने की कोशिश की जा रही हैं.

गलसी में जब भी बागदी समाज के उम्मीदवार तपन बागदी की बात होती है , तो बीजेपी के उम्मीदवार विकास विश्वास काफी असहज होते हैं. पर अब बिकास बिश्वास यह मान रहे है कि तपन बागदी को बलात्कार के झूठे आरोपों में फंसाया गया था, पर जब बीजेपी सत्ता में आयेगी तो इस मामले की उचित जांच करायी जाएगी.

बीजेपी उम्मीदवार की इस टिप्पणी के बाद तृणमूल ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा है भाजपा एक उच्च जाति की पार्टी है. तृणमूल नेता जाकिर हुसैन ने कहा, 'जब भाजपा झूठे आरोप लगा रही है, तो इन झूठे आरोपों के आधार पर उम्मीदवार क्यों बदला गया? वास्तव में, ब्राह्मणवादी भाजपा बागदी समुदाय के गरीब उम्मीदवार को स्वीकार नहीं कर सकती थी, इसलिए उम्मीदवार बदल दिया गया है.

तृणमूल नेता ने कहा कि देश में किसानों को मारने के लिए जो पार्टी कानून लाई है, वह किसानों के हितों की देखभाल करेगी.? किसान इसे नहीं मानते हैं.इस बीच, भाजपा ने सोशल मीडिया पर भाजपा के उम्मीदवार के लिए प्रचार शुरू कर दिया है.सोशल मीडिया पर स्थानीय सीपीएम नेतृत्व भाजपा उम्मीदवार के साथ तृणमूल के साथ संबंधों की कुछ तस्वीरें पोस्ट कर रहा है.

सीपीएम नेतृत्व ने पहले ही स्थानीय लोगों के बीच प्रचार करना शुरू कर दिया है कि भाजपा उम्मीदवार वास्तव में भाजपा आधारित है इसलिए इस उम्मीदवार को वोट न दें.हालांकि, भाजपा का कहना है कि सीपीएम अब तृणमूल को लेकर काम कर रही है और झूठ फैला रही है.भाजपा प्रत्याशी विकास विश्वास ने एक चाय पार्टी में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और इलाके में चुनाव प्रचार शुरू किया.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें