1. home Home
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. varanasi news apna dal s adhikar yatra banned pallavi patel said efforts are being made to suppress the ideology of the people

Varanasi News: अपना दल की अधिकार यात्रा पर रोक, पल्लवी पटेल ने कहा- विचारधारा को दबाने का किया जा रहा प्रयास

वाराणसी में अपना दल की अधिकार यात्रा को अनुमति नहीं दी गयी. इस पर पल्लवी पटेल ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार में लोगों की विचारधारा को दबाने का प्रयास किया जा रहा है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
Varanasi News: अपना दल की अधिकार यात्रा पर रोक
Varanasi News: अपना दल की अधिकार यात्रा पर रोक
प्रभात खबर

Varanasi News: अपना दल (पल्लवी गुट) की अधिकार यात्रा पर प्रशासन द्वारा परमिशन नहीं देने के बाद वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस आधी रात से ही अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल और नेता डॉ. पल्लवी पटेल सहित अन्य नेताओं की तलाश में छापा मार रही थी. पुलिस द्वारा छापे की कार्रवाई और अधिकार यात्रा रोके जाने से नाराज होकर पल्लवी पटेल अपने समर्थकों के साथ सारनाथ के महाबोधि इंटर कॉलेज के पास धरने पर बैठ गईं. पल्लवी पटेल ने कहा कि सरकार ने जिस तरह लोकतांत्रिक आयोजन को रोका है, वह इसके खिलाफ प्रदेश भर में पुरजोर तरीके से आवाज उठाएंगी.

डॉ. पल्लवी पटेल ने कहा कि अधिकार रैली का मुख्य उद्देश्य देश में हर व्यक्ति का अधिकार सुनिश्चित करना है क्योंकि इस देश का सबसे बड़ा समाज बहुजन समाज है. आज हम जिस बौद्ध स्थली पर खड़े हैं, वहां से गौतम बुद्ध ने भी बहुजन हिताय और बहुजन सुखाय का धर्मादेश दिया था. समाज में रहने वाले चाहे वह दलित हो, पिछड़ा हो या फिर किसान वर्ग हो, इस देश में उसका विकास नहीं है. जो भी वर्ग सबसे निचले स्थान पर खड़े हैं, हम उन्हें बराबरी में खड़ा करना चाहते हैं और इसी उद्देश्य के तहत अधिकार यात्रा शुरू करने का निर्णय लिया गया है.

यात्रा को प्रशासन द्वारा रोके जाने के सवाल पर डॉ. पल्लवी पटेल ने कहा कि हमने लगभग 4 से 5 दिन पहले ही इसकी लिखित सूचना प्रशासन को दे दी थी. यदि प्रशासन चाहती तो हमें यह लिखित में बता सकती थी कि हमें इसकी अनुमति मिली है या नहीं, लेकिन केंद्र और राज्य सरकार के दबाव में आकर प्रशासन जिस तरह अपनी मशीनरी का प्रयोग हम पर हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष पर कर रही है, उससे यह साबित होता है कि देश में अब लोकतंत्र कहीं रह ही नहीं गया है. लोगों की विचारधारा को दबाने का प्रयास किया जा रहा है.

रिपोर्ट- विपिन सिंह

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें