1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. kashi vishwanath dham varanasi tourism hike after kashi vishwanath corridor sht

Kashi Vishwanath: कोरोना काल से घाटा झेल रहे उद्यमियों को कॉरिडोर की बूस्टर डोज, छोटे व्यापारियों को भी राहत

पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के लोकार्पण से पहले ही यहां उद्यमियों को राहत मिलने लगी है. पर्यटन उद्योग के चलते कई लोगों की आर्थिक स्थिति सुधरने लगी है. काशी में नित नए परिवर्तन पर्यटन उद्योग को बढ़ावा दे रहे हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Kashi vishwanath corridor
Kashi vishwanath corridor
Prabhat khabar

Varanasi News: बाबा विश्वनाथ धाम ने काशी में न सिर्फ कॉरिडोर निर्माण में भक्तों पर कृपा बरसाई है, बल्कि पर्यटन उद्योग के चलते कई लोगों की आर्थिक स्थिति को भी मजबूती दी है. काशी में नित नए परिवर्तन पर्यटन उद्योग को बढ़ावा दे रहे हैं. आने वाले समय में काशी टूरिज्म का एक बहुत बड़ा हब बनने जा रहा है.

छोटे उद्यमियों की सुधरी स्थिति

यहां होटल से लेकर नाव तक तक की बुकिंग जोरों पर है, जबकि इस सीजन में सिर्फ विदेशी सैलानियों पर ही ये कारोबार टिका होता था, लेकिन अब पहली बार ऐसा हो रहा है जब धार्मिक यात्रा या फिर यूं कहें पर्यटन को तीर्थाटन कारोबार में बदल दिया है और इसका फायदा होटल से लेकर माला-फूल,प्रसाद, नाव कारोबारियों तक को मिल रहा है. कोरोना के बाद पहली बार इन छोटे उद्यमियों को इतना बड़ा मुनाफे का मौका मिल रहा है.

काशी के टूरिज्म को मिली नई पहचान

काशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण ने काशी के टूरिज्म को एक नई पहचान दी है. पहली बार ऑफ सीजन में हो रहे करोड़ों के कारोबार ने काशी के छोटे उद्यमियों को खुशी से भर दिया है. कोरोना काल में जिस तरह से काशी के पर्यटन उद्योग को नुकसान पहुंचा था. उसे देखते हुए घाट से जुड़े कारोबारियों की आर्थिक स्थिति काफ़ी दयनीय हो गई थी.

काशी में बुकिंग का सिलसिला जोरों पर

इस बार विश्वनाथ धाम को देखने का उत्साह पूरे देश में नजर आ रहा है. बैंगलोर, मुम्बई, दिल्ली और यूपी के अलग अलग शहरों से लोग काशी में आ रहे हैं. टूर ऑपरेटरों के अनुसार, 13 तारीख के पहले से ही विश्वनाथ धाम के दर्शन के लिए होटल बुक हो रहे हैं. नाव की बुकिंग की जा रही है और ये पूरा सिलसिला एक महीने तक चलने वाला है.

अब तक का सबसे बड़ा धार्मिक इवेंट

काशी में अब तक का ये सबसे बड़ा धार्मिक इवेंट होने जा रहा है. होटल कारोबारी इसे इवेंट आधारित टूरिज्म मान रहे हैं. ऑफ सीजन में घाटे में चल रहे पर्यटन विभाग को विश्वनाथ धाम के लोकार्पण से नया बूस्टर मिल गया है. ऐसे में कोरोना काल हुए घाटे ने व्यापारियों के चेहरे पर मुस्कान ला दी है. मानों जैसे बाबा विश्वनाथ का आशीर्वाद ही मिल गया हो.

रिपोर्ट- विपिन सिंह

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें