17.1 C
Ranchi
Tuesday, March 5, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

कांग्रेस प्रभारी डॉ अजय कुमार का बीजद-भाजपा पर निशाना, बोले- सांठगांठ से चल रही ओडिशा की नौकरशाही सरकार

ओडिशा के कांग्रेस प्रभारी नियुक्त किये जाने के बाद पहली बार दौरे पर आये कुमार ने आरोप लगाया कि राज्य के बाहर के लोगों ने राजनीतिक पदों के अलावा महत्वपूर्ण नौकरियों, खनन अनुबंधों और व्यवसायों पर ‘कब्जा’ कर लिया है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय कुमार ने रविवार को आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) और विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राज्य के मामलों में ‘बाहरी लोगों’ को शामिल करके ओडिशा के आत्मसम्मान के खिलाफ काम कर रहे हैं. ‘ओडिया के लिए ओडिशा’ (ओडिशा फॉर ओडिया) का नारा बुलंद करते हुए उन्होंने दावा किया कि ‘बाहरी लोग’ अब राज्य की राजनीति, अर्थव्यवस्था और नौकरशाही में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं, जबकि ओडिया का महत्व दिन-ब-दिन कम होता जा रहा है. उन्होंने कहा, 35 हजार करोड़ रुपये के सरकारी काम के ठेके बाहरी लोगों को दिये गये हैं. क्या ओडिशा के पास कोई ठेकेदार नहीं है? राज्य को बाहरी राजनीतिज्ञ चला रहे हैं. राज्य के विधायक, सांसद और मंत्री कहां गायब हो गए हैं?

अजय कुमार बोले

  • ‘बाहरी लोग’ अब राज्य की राजनीति, अर्थव्यवस्था और नौकरशाही में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं, जबकि ओडिया का महत्व दिन-ब-दिन कम होता जा रहा है

  • 35 हजार करोड़ रुपये के सरकारी काम के ठेके बाहरी लोगों को दिये गये हैं. क्या ओडिशा के पास कोई ठेकेदार नहीं है?

  • राज्य को बाहरी राजनीतिज्ञ चला रहे हैं. राज्य के विधायक, सांसद और मंत्री कहां गायब हो गए हैं?

  • राज्य के बाहर के लोगों ने राजनीतिक पदों के अलावा महत्वपूर्ण नौकरियों, खनन अनुबंधों और व्यवसायों पर ‘कब्जा’ कर लिया है

Also Read: पशुपालन व अंडा उत्पादन में आत्मनिर्भर बनेगा ओडिशा, बोले नवीन पटनायक के सलाहकार असित कुमार त्रिपाठी

हर जगह बाहरियों का कब्जा : डॉ अजय कुमार

ओडिशा के कांग्रेस प्रभारी नियुक्त किये जाने के बाद पहली बार दौरे पर आये कुमार ने आरोप लगाया कि राज्य के बाहर के लोगों ने राजनीतिक पदों के अलावा महत्वपूर्ण नौकरियों, खनन अनुबंधों और व्यवसायों पर ‘कब्जा’ कर लिया है. उन्होंने यह भी कहा कि ओडिशा का सारा पैसा बाहरी लोगों के पास जाता है. यही वजह है कि ओडिशा एक गरीब राज्य बना हुआ है. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि क्या आपने ओडिशा में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) और प्रवर्तन निदेशाल (इडी) की कोई छापेमारी देखी है? विभिन्न राज्यों में छापेमारी कर रही केंद्रीय एजेंसियां ओडिशा को भूल गयी हैं. यह बीजद और भाजपा के बीच घनिष्ठ संबंध साबित करता है.

Also Read: ओडिशा में धीरज साहू के ठिकाने से कितने रुपए मिले, आयकर विभाग ने कर दिया खुलासा, ऐसी-ऐसी जगहों पर छिपाए थे पैसे

धीरज साहू और बीजद के संबंध स्पष्ट करे कांग्रेस : भाजपा

उन्होंने कहा कि कांग्रेस एकमात्र विकल्प है. यात्रा के दौरान कुमार राज्य के पार्टी नेताओं के साथ लगातार बैठकें आयोजित करते रहे हैं और चुनाव से पहले संगठन का जायजा ले रहे हैं. राज्य में विधानसभा चुनाव आमतौर पर लोकसभा चुनाव के साथ ही होते हैं. प्रदेश भाजपा प्रवक्ता बिरंची त्रिपाठी ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि दूसरों पर उंगली उठाने से पहले कांग्रेस को अपने सांसद धीरज साहू और बीजद के बीच संबंध स्पष्ट करने की जरूरत है. साहू ने ओडिशा में अवैध रूप से 350 करोड़ रुपये नकद रखे हुए थे. सत्तारूढ़ बीजद ने कांग्रेस नेता द्वारा लगाये आरोपों पर अभी तक प्रतिक्रिया नहीं दी है.

ओडिशा में सीट बंटवारे पर झामुमो और कांग्रेस की बैठक

कांग्रेस के नेताओं ने रविवार को झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की ओडिशा इकाई के पदाधिकारियों के साथ बैठक की. दोनों दलों के नेताओं ने राज्य में एक साथ होने वाले लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव के लिए सीट के बंटवारे पर चर्चा की. झामुमो प्रदेश अध्यक्ष अंजनी सोरेन ने बैठक में कांग्रेस नेताओं से कहा कि वह ओडिशा में सीट बंटवारे की बातचीत के बारे में झामुमो की केंद्रीय समिति के अलावा अपने भाई और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से चर्चा करेंगी. बातचीत का अगला दौर 10 जनवरी को होगा.

Also Read: ओडिशा पंचायत चुनाव से पहले कांग्रेस के झटका, प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप मांझी ने दिया इस्तीफा

कांग्रेस एक बिकाऊ पार्टी है : प्रदीप नायक

इधर, भाजपा विधायक प्रदीप्त नायक ने अजय कुमार और शरत पटनायक की ‘भाजपा और बीजद भाई-भाई’ वाली टिप्पणी के लिए उनकी आलोचना की. उन्होंने कहा कि कांग्रेस बीजद को बेच दी गयी पार्टी है. यह बीजद से पैसा लेती है और हर चुनाव हार जाती है. राष्ट्रीय स्तर की पार्टी का उम्मीदवार होने के नाते उन्हें तीन से चार हजार वोट मिल रहे हैं. इस बीच निर्दलीय उम्मीदवार को उनसे ज्यादा वोट मिल रहे हैं और उन्हें बीजेपी पर हमला करने में कोई शर्म नहीं आ रही है. बीजेपी को जीतने के लिए बीजेडी या कांग्रेस की जरूरत नहीं है. प्रदीप्ता ने कहा, हम बिना किसी के साथ गठबंधन किए 15 लोकसभा सीटें आसानी से जीत लेंगे.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें