22.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Jharkhand Budget Session 2024 LIVE: विधानसभा का बजट सत्र 26 फरवरी तक के लिए स्थगित

Jharkhand Assembly Budget Session 2024 LIVE: आज, 23 फरवरी से झारखंड विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो गया है. 27 फरवरी को बजट आयेगा. सत्र के लिए पक्ष-विपक्ष दोनों तैयार हैं. चंपाई सोरेन सरकार का यह पहला बजट है. इस सत्र में सात कार्य दिवस होंगे. पहले दिन सरकार वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए 4 हजार 981 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट लेकर आयी. विपक्ष सरकार को घेरने के लिए तैयार है. पंचम विधानसभा के अंतिम बजट सत्र से जु़ड़े तमाम अपडेट के लिए बने रहें Prabhatkhabar.com के LIVE सेक्शन में...

लाइव अपडेट

विधानसभा का बजट सत्र 26 फरवरी तक के लिए स्थगित

झारखंड विधानसभा का बजट सत्र 26 फरवरी तक के लिए स्थगित हो गया है. सदन में जेएसएससी सीजीएल 2023 पेपर लीक मामले में जोरदार हंगामा हुआ. इसके बाद विधानसभा के पिछले सत्र से अब तक जितने लोगों का निधन हुआ है, उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने तृतीय अनुपूरक बजट पेश किया. इसके बाद सदन को 26 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया गया. सात दिवसीय बजट सत्र के पहले दिन चंद्रिका महथा, ब्रह्मानंद मंडल, गुणानंद झा, सरयुग मंडल, फली एस नरीमन, आचार्य विद्यासागर महाराज, डॉ प्रभा अत्रे, उस्ताद राशिद खान और अमीन सयानी को श्रद्धांजलि दी गई.

विधानसभा ने इन लोगों को दी श्रद्धांजलि

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन चंद्रिका महथा, ब्रह्मानंद मंडल, गुणानंद झा, सरयुग मंडल, फली एस नरीमन, आचार्य विद्यासागर महाराज, डॉ प्रभा अत्रे, उस्ताद राशिद खान और अमीन सयानी को श्रद्धांजलि दी. विधनसभा में स्पीकर रबींद्रनाथ महतो ने कहा कि बिहार के मुंगेर से तीन बार लोकसभा के सांसद रहे ब्रह्मानंद मंडल का 30 जनवरी 2024 को निधन हो गया. बिहार विधानसभा के पूर्व सदस्य गुणानंद झा का भी 30 जनवरी को निधन हुआ. वह मधुबनी जिला के बाबूबरही विधानसभा से 1985 में चुने गए थे. बिहार विधानसभा के पूर्व सदस्य सरयुग मंडल का 31 जनवरी को निधन हुआ. वह पूर्णिया जिला के रुपौली विधानसभा क्षेत्र से 1990 में चुने गए थे. कानून जगत के भीष्म पितामह कहे जाने वाले न्यायविद फली एस नरीमन का 21 फरवरी को निधन हुआ. दशकों तक उन्होंने वकीलों का मार्गदर्शन किया. वर्ष 1991 में उन्हें पद्मभूषण एवं वर्ष 2007 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था.

स्पीकर के ऑफिस में कार्य मंत्रणा समिति की बैठक

विधानसभा अध्यक्ष रबींद्रनाथ महतो की अध्यक्षता में झारखंड विधानसभा स्थित स्पीकर कक्ष में 'कार्य मंत्रणा समिति' की बैठक हुई. इसमें मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन और विपक्ष के नेता अमर बाउरी शामिल हुए. इनके अलावा मंत्री रामेश्वर उरांव, मंत्री बादल पत्रलेख, मंत्री बसंत सोरेन, विधायक सीपी सिंह, सुदेश महतो, सरयू राय, नीलकंठ सिंह मुंडा, मथुरा महतो, नलिन सोरेन, प्रदीप यादव, अपर्णा सेन गुप्ता, विनोद सिंह एवं डॉ लंबोदर महतो उपस्थित रहे.

झारखंड विधानसभा बजट सत्र के पहले दिन 4 हजार 981 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट पेश किया गया है.

शोक प्रस्ताव के बाद सदन में मौन धारण कर दिवंगत आत्माओं को श्रद्धांजलि अर्पित की गई.

सदन की कार्यवाही शुरू, सत्र हंगामेदार होने के आसार

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही शुरू हो चुकी है. विधानसभा में घुसते ही विपक्ष के विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया है. वे वेल में पहुंच गए. हालांकि, शोक प्रस्ताव के लिए सभी शांत हो गए. पूरे सत्र के हंगामेदार होने के प्रबल आसार हैं.

सदन की कार्यवाही शुरू, सत्र हंगामेदार होने के आसार

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही शुरू हो चुकी है. विधानसभा में घुसते ही विपक्ष के विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया है. वे वेल में पहुंच गए. हालांकि, शोक प्रस्ताव के लिए सभी शांत हो गए. पूरे सत्र के हंगामेदार होने के प्रबल आसार हैं.

JSSC CGL पेपर लीक मामले में सरकार को घेरेगा विपक्ष, विधानसभा के बाहर जोरदार हंगामा

बजट सत्र के पहले दिन जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले को सदन में उठाने के लिए विपक्ष तैयार है. राजमहल से भाजपा विधायक अनंत ओझा ने कहा कि सरकार छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. एक तो इतने अंतराल के बाद परीक्षा हुई, उसमें भी पेपर लीक हो गया. सरकार ने एसआईटी जांच बिठाई है. हमारा सवाल है कि इस पर सीबीआई जांच क्यों नहीं की गई. सरकार ने छात्रों के भविष्य को मजाक में लिया है. वहीं बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि हम चाहते हैं कि सरकार सदन के अंदर और बाहर दोनों ही जगह पर पेपर लीक मामले में सफाई दे, क्योंकि बिल्ली को हवाले मलाई की रखवाली नहीं दी जा सकती है. भाजपा छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होने नहीं देगी. सरकार को सीबीआई पर भरोसा नहीं है, लेकिन साढ़े तीन करोड़ जनता को है. ऐसे में जनता की बात सुनी जानी चाहिए.

JSSC CGL पेपर लीक मामले में सरकार को घेरेगा विपक्ष, विधानसभा के बाहर जोरदार हंगामा

बजट सत्र के पहले दिन जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले को सदन में उठाने के लिए विपक्ष तैयार है. राजमहल से भाजपा विधायक अनंत ओझा ने कहा कि सरकार छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. एक तो इतने अंतराल के बाद परीक्षा हुई, उसमें भी पेपर लीक हो गया. सरकार ने एसआईटी जांच बिठाई है. हमारा सवाल है कि इस पर सीबीआई जांच क्यों नहीं की गई. सरकार ने छात्रों के भविष्य को मजाक में लिया है. वहीं बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि हम चाहते हैं कि सरकार सदन के अंदर और बाहर दोनों ही जगह पर पेपर लीक मामले में सफाई दे, क्योंकि बिल्ली को हवाले मलाई की रखवाली नहीं दी जा सकती है. भाजपा छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होने नहीं देगी. सरकार को सीबीआई पर भरोसा नहीं है, लेकिन साढ़े तीन करोड़ जनता को है. ऐसे में जनता की बात सुनी जानी चाहिए.

जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले में विपक्ष के हंगामे पर क्या कहते हैं सत्तापक्ष

जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले में सरकार में मंत्री बने दीपक बिरुवा ने कहा कि सरकार एसआईटी जांच करवा रही है, जो भी आरोपी होंगे वह पकड़े जाएंगे. इसमें किसी भी तरह से विपक्ष को परेशान होने की जरूरत नहीं है. कांग्रेस से विधायक उमाशंकर ने कहा कि जो झारखंड में भ्रष्टाचार की बात कर रहे हैं, उनके कारण पूरा देश भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है. आज उनके कारण ही किसान और नौजवान सड़कों पर है. विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है. इसलिए वह समुद्र को उठा रही है और कोई बात नहीं है.

JSSC CGL पेपर लीक मामले में सरकार को घेरेगा विपक्ष

बजट सत्र के पहले दिन जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले को सदन में उठाने के लिए विपक्ष तैयार है. राजमहल से भाजपा विधायक अनंत ओझा ने कहा कि सरकार छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. एक तो इतने अंतराल के बाद परीक्षा हुई, उसमें भी पेपर लीक हो गया. सरकार ने एसआईटी जांच बिठाई है. हमारा सवाल है कि इस पर सीबीआई जांच क्यों नहीं की गई. सरकार ने छात्रों के भविष्य को मजाक में लिया है. वहीं बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि हम चाहते हैं कि सरकार सदन के अंदर और बाहर दोनों ही जगह पर पेपर लीक मामले में सफाई दे, क्योंकि बिल्ली को हवाले मलाई की रखवाली नहीं दी जा सकती है. भाजपा छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होने नहीं देगी. सरकार को सीबीआई पर भरोसा नहीं है, लेकिन साढ़े तीन करोड़ जनता को है. ऐसे में जनता की बात सुनी जानी चाहिए.

JSSC CGL पेपर लीक मामले में सरकार को घेरेगा विपक्ष, विधानसभा के बाहर जोरदार हंगामा

बजट सत्र के पहले दिन जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले को सदन में उठाने के लिए विपक्ष तैयार है. राजमहल से भाजपा विधायक अनंत ओझा ने कहा कि सरकार छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. एक तो इतने अंतराल के बाद परीक्षा हुई, उसमें भी पेपर लीक हो गया. सरकार ने एसआईटी जांच बिठाई है. हमारा सवाल है कि इस पर सीबीआई जांच क्यों नहीं की गई. सरकार ने छात्रों के भविष्य को मजाक में लिया है. वहीं बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि हम चाहते हैं कि सरकार सदन के अंदर और बाहर दोनों ही जगह पर पेपर लीक मामले में सफाई दे, क्योंकि बिल्ली को हवाले मलाई की रखवाली नहीं दी जा सकती है. भाजपा छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होने नहीं देगी. सरकार को सीबीआई पर भरोसा नहीं है, लेकिन साढ़े तीन करोड़ जनता को है. ऐसे में जनता की बात सुनी जानी चाहिए.

चंपाई सोरेन सरकार का पहला बजट सत्र शुरू होने वाला है. सत्र शुरू होने से पहले सीएम चंपाई सोरेन ने पुष्पगुच्छ देकर विधानसभा स्पीकर का अभिवादन किया.

पक्ष और विपक्ष दोनों तैयार

बजट सत्र को लेकर स्पीकर रवींद्र नाथ महतो ने सभी पार्टियों के विधायक दल के नेताओं के साथ बैठक की. बैठक में मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन, संसदीय कार्यमंत्री आलमगीर आलम सहित कई विधायक पहुंचे थे. बैठक में सत्र के सफल संचालन के लिए स्पीकर ने पक्ष-विपक्ष से सकारात्मक सहयोग मांगा. इधर, बजट सत्र को लेकर पक्ष-विपक्ष ने तैयारी कर ली है. सत्ता पक्ष के विधायकों ने बैठक कर सदन को लेकर रणनीति बनायी. विपक्ष के हमले का एकजुट होकर जवाब देंगे. मुख्यमंत्री आवास पर सत्ता पक्ष के झामुमो, कांग्रेस और राजद के विधायक जुटे. मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने कहा कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर सदन में पूरी मजबूती के साथ विधायक अपनी बात रखें. इधर, विपक्षी भाजपा के विधायकों की बैठक भी देर शाम भाजपा कार्यालय में हुई. बैठक में सरकार को घेरने की रणनीति बनायी गयी. विपक्ष रोजगार, कानून व्यवस्था, भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सरकार को घेरेगा.

झारखंड विधानसभा का बजट सत्र आज से, पहले दिन अनुपूरक बजट लाएगी सरकार

झारखंड विधानसभा का बजट सत्र आज, शुक्रवार (23 फरवरी) से शुरू हो रहा है. वर्तमान पंचम विधानसभा का यह अंतिम बजट सत्र होगा. वहीं, चंपाई सोरेन सरकार का यह पहला बजट होगा. 27 फरवरी को सरकार वित्तीय वर्ष 2024-25 बजट रखेगी. दो मार्च तक चलनेवाले बजट सत्र में तीन दिनों तक बजट पर चर्चा होगी. इससे पूर्व सदन में पहले दिन सरकार वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए अनुपूरक बजट लेकर आयेगी. वर्तमान बजट सत्र में सात कार्य दिवस होंगे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें