1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. cyclonic storm yas is visible in jharkhand rain is happening with strong wind administration on alert mode smj

Cyclone Yaas In Jharkhand : राजधानी रांची समेत कई जगहों पर लगातार हो रही बारिश, तेज हवा के कारण बिजली भी रही गुल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
झारखंड की राजधानी रांची समेत कई इलाकों में लगातार बारिश. तेतेज हवा से बढ़ने लगा ठंड का अहसास.
झारखंड की राजधानी रांची समेत कई इलाकों में लगातार बारिश. तेतेज हवा से बढ़ने लगा ठंड का अहसास.
प्रभात खबर.

बड़कागांव में लाखों रुपये की सब्जियां और ईंट का हुआ नुकसान

हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव प्रखंड तथा आसपास के क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान यास का असर दिखने लगा है. बड़कागांव तथा आसपास के क्षेत्रों में 25 मई से ही बादल छाने लगे थे. दोपहर बाद छिटपुट बारिश होनी शुरू हुई थी. 26 मई की अहले सुबह से ही बारिश हो रही है. दोपहर बाद हवा के साथ बारिश होने लगी. इससे जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा. बारिश ने लाखों रुपये की सब्जियां व ईंट भट्ठे को नुकसान पहुंचाया है. वहीं, बारिश के कारण रात से ही बड़कागांव प्रखंड क्षेत्र में बिजली कटी रही जो 26 मई की देर शाम तक थी. बड़कागांव- हजारीबाग रोड स्थित प्रेम नगर, रेंज ऑफिस, बड़कागांव अंबेडकर चौक, मुख्य चौक व दैनिक बाजार में नालिया नहीं रहने के कारण बारिश का पानी सड़कों पर बहता रहा.

Jharkhand news : पूर्वी सिंहभूम के चाकुलिया- मटियाना मार्ग लोधासोली के पास सड़क पर गिरी पेड़. गिरे पेड़ को सड़क से हटाया जा रहा.
Jharkhand news : पूर्वी सिंहभूम के चाकुलिया- मटियाना मार्ग लोधासोली के पास सड़क पर गिरी पेड़. गिरे पेड़ को सड़क से हटाया जा रहा.
प्रभात खबर.

चाकुलिया- मटियाना मार्ग के पास पेड़ गिरा, आवागमन बाधित

चक्रवाती तूफान के कारण तेज हवा पेड़ों को उखाड़ रही है. ऐसा ही नजारा पूर्वी सिंहभूम जिला अंतर्गत चाकुलिया- मटियाना मार्ग स्थित लोधासोली के पास देखने को मिला. तेज हवा के कारण लोधासोली के पास सड़क पर पेड़ गिरने से आवागमन ठप हो गयी. इसकी सूचना प्रशासन को मिली. तत्काल सड़क पर गिरे पेड़ को हटाना शुरू किया गया.

Jharkhand news : पश्चिमी सिंहभूम के जगन्नाथपुर-जैंतगढ़ में पेड़ गिरने से आवागमन ठप.
Jharkhand news : पश्चिमी सिंहभूम के जगन्नाथपुर-जैंतगढ़ में पेड़ गिरने से आवागमन ठप.
प्रभात खबर.

जगन्नाथपुर-जैंतगढ़ के पास पेड़ गिरने से आवागमन ठप

चक्रवाती तूफान यास के कारण तेज हवा से पश्चिमी सिंहभूम में जगन्नाथपुर-जैंतगढ़ के बेलपोसी में विशाल पेड़ गिरने से आवागमन पूरी तरह ठप हुआ. इसकी जानकारी मिलते ही प्रखंड विकास पदाधिकारी संतोष कुमार मौके पर पहुंचे. यहां पहुंचा कर बीडीओ संतोष कुमार ने सड़क से पेड़ को हटाने का काम शुरू कराया, ताकि आवागमन सुचारू रूप से हो सके.

बदल गयी है चक्रवाती तूफान की दिशा

चक्रवाती तूफान यास के बुधवार को ओडिशा के तट पर टकराने के बाद झारखंड की ओर उसकी दिशा होगी. झारखंड में डीप डिप्रेशन के तौर पर आने वाले तूफान से राज्य के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश होगी. पहले जहां इस तूफान के बोकारो-धनबाद के नजदीक से गुजरने की संभावना जतायी गयी थी, वहीं अब इसकी दिशा थोड़ी बदल गयी है. अब पूर्वी सिंहभूम से रांची के पश्चिमी हिस्से से गुमला की ओर चला जायेगा. दिशा बदलते ही तूफान का कोयलांचल से इसका फासला बढ़ जायेगा जिससे सीधे तौर पर तूफान का खतरा कुछ कम होगा. हालांकि, तेज हवा चलने और भारी बारिश की संभावना बनी हुई है.

Jharkhand news : गुमला के भरनो में बिपैत मुंडा के घर में बरगद का पेड़ टूटकर गिरा. बाल- बाल बचे परिवार के 6 सदस्य.
Jharkhand news : गुमला के भरनो में बिपैत मुंडा के घर में बरगद का पेड़ टूटकर गिरा. बाल- बाल बचे परिवार के 6 सदस्य.
प्रभात खबर.

पेड़ व बिजली पोल गिरा, महिला व 6 बच्चे बाल- बाल बचे

गुमला जिला के भरनो में चक्रवाती तूफान यास का असर दिखने लगा है. तेज हवा के साथ रात से ही मूसलाधार बारिश हो रही है. बुधवार की सुबह करंज पंचायत के ओलमोरा गांव में अचानक बिपैत मुंडा के घर में एक बड़ा बरगद का पेड़ टूटकर गिर गया. जिससे घर को आंशिक क्षति पहुंची. उस वक्त घर में पत्नी व 6 बच्चे भी थे. सभी लोग बाल-बाल बचे. साथ ही पेड़ गिरने से बिजली का खंभा और तार टूटकर गिर गया. इधर, प्रखंड प्रशासन के द्वारा एक दिन पहले ही लोगों को यास चक्रवात को लेकर अलर्ट किया गया है. सीओ संजीव कुमार चक्रवात से होने वाले नुकसान को लेकर लगातार पंचायत प्रतिनिधि व पत्रकारों से संपर्क बनाये हुए हैं. उन्होंने कहा कि किसी प्रकार की घटना या नुकसान होने पर तुरंत मुझे सूचना दें. प्रशासन राहत कार्य के लिए मुस्तैद है. पीड़ित परिवार को तत्काल सहायता पहुंचायी जायेगी.

बोकारो व आसपास के जिलों में दिखने लगा है चक्रवात का असर

बंगाल की खाड़ी में आये चक्रवात यास की सक्रियता बुधवार से बढ़ गयी. बुधवार को दोपहर तक ओडिशा के समुद्री तट से टकरायेगा. इधर, बुधवार सुबह से ही बोकारो व आसपास के जिलों में आसमान में बादल गरज रहा है. तेज हवाएं चल रही है. कहीं-कहीं बारिश हो रही है. माैसम साफ नहीं है. अंधेरा छाया हुआ है. लोग सड़कों पर कम निकले हैं. रुक-रुक कर हल्की बारिश भी हो रही है.

Jharkhand news : चक्रवाती तूफान से बचने के लिए लोगों को सर्तक रहने की अपील करते सरायकेला एसपी.
Jharkhand news : चक्रवाती तूफान से बचने के लिए लोगों को सर्तक रहने की अपील करते सरायकेला एसपी.
प्रभात खबर.

सरायकेला एसपी ने लोगों से सचेत रहने की अपील की

चक्रवाती तूफान यास को लेकर सरकार समेत जिला प्रशासन सचेत है. सरायकेला- खरसावां के एसपी अर्शी ने चक्रवाती तूफान से बचने की अपील लोगों से की है. उन्होंने लोगों से घरों में ही रहने को कहा है. साथ ही बारिश के समय खुद को कैसे बचायें इसके बारे में भी कहा. इसके अलावा परेशानी होने पर मदद के मामले में घबराएं नहीं, बल्कि नजदीकी सहायता केंद्र और पुलिस स्टेशन से संपर्क करने की बात कही.

तूफान को लेकर धनबाद और बोकारो में सतर्कता

चक्रवाती तूफान यास को लेकर धनबाद जिले के सभी अंचलों में जानमाल की क्षति रोकने के लिए हर संभव कदम उठाये गये हैं. हर प्रखंड व अंचल में आपदा विभाग की गाइडलाइन के अनुसार तैयारी की गयी है. डीसी सह जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार अध्यक्ष उमा शंकर सिंह ने मंगलवार को बताया कि जान-माल की सुरक्षा को लेकर कई निर्देश जारी किये गये हैं. साथ ही सभी हॉस्पिटल जहां मरीज भर्ती हैं वहां बिजली आपूर्ति की वैकल्पिक व्यवस्था करने के लिए जेनरेटर की व्यवस्था दुरुस्त करने को कहा है. तूफान के कारण सड़कों पर पेड़ गिरने की स्थिति में आवश्यक कदम उठाने, ऑक्सीजन प्रोडक्शन तथा ऑक्सीजन रीफिलिंग इकाइयों के साथ-साथ अन्य को आवश्यक सामग्री की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है.

पूर्वी सिंहभूम में 27 मई की सुबह 6 बजे तक दुकान बंद रखने का आदेश

चक्रवाती तूफान यास की गंभीरता को देखते हुए पूर्वी सिंहभूम डीसी सूरज कुमार ने 26 मई की सुबह 6 बजे से 27 मई की सुबह 6 बजे तक सभी बाजार और दुकानों को बंद रखने का आदेश जारी किया है. इस दौरान मेडिकल की दुकानें खुली रहेंगी. वहीं, लोगों का आवागमन केवल चिकित्सीय कारणों से हॉस्पिटल जाने या दवा लेने के लिए हो सकेगा. दूसरी ओर, एसएसपी डॉ एम तमिल वाणन ने बताया कि जिले में NDRF की दो टीमों को पुलिस के साथ लगाया गया है. एक टीम को घाटशिला और दूसरी टीम को बहरागोड़ा में तैनात किया गया है.

झारखंड में हल्के से मध्यम दर्जे की होगी बारिश

चक्रवाती तूफान यास ने झारखंड में दे दी है. राजधानी रांची में सुबह से ही बारिश हो रही है. मौसम केंद्र, रांची के सीनियर वैज्ञानिक अभिषेक आनंद के मुताबिक, झारखंड में इसका व्यापक असर पड़ेगा. 26 मई को पूरे राज्य में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी. झारखंड के रांची, रामगढ़, गुमला और खूंटी जिले में तेज बारिश होगी. 27 मई को पूर्वी और पश्चिमी सिंहभूम के साथ-साथ राजधानी रांची और आसपास के जिलों में भारी बारिश की चेतावनी है. वहीं, 28 मई को गुमला, लातेहार, लोहरदगा, पलामू, गढ़वा, चतरा में भारी बारिश की आशंका है. इसके अलावा 29 मई से राज्य में चक्रवाती तूफान यास का असर खत्म होने लगेगा.

Jharkhand news : सरायकेला- खरासावां जिले में भी बुधवार सुबह से हो रही है बारिश.
Jharkhand news : सरायकेला- खरासावां जिले में भी बुधवार सुबह से हो रही है बारिश.
प्रभात खबर.

सरायकेला- खरसावां में हो रही तेज बारिश

चक्रवाती तूफान यास के कारण कोल्हान क्षेत्र के सरायकेला- खरसावां जिले में भी हवा के साथ तेज बारिश हो रही है. बुधवार को सुबह से ही आसमान में काले बादल छाने के साथ हवा भी चलने लगी है. इस दौरान सुबह से लगातार बारिश हो रही है. बारिश के कारण आम जनजीवन पर भी असर पड़ रहा है. शहर से लेकर गांव तक के सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है. लोग अपने घरों में दुबके हुए हैं. प्रशासन की ओर से भी लाउडस्पीकर के जरिये लोगों को घरों में ही रहने तथा दुकान, हाट-बाजार बंद रखने को कहा गया है. चक्रवात तूफान की स्थिति पर कंट्रोल रूम से पैनी नजर रखी जा रही है.

किरीबुरु में झमाझम बारिश

चक्रवाती तूफान यास का असर पश्चिमी सिंहभूम जिले के किरीबुरु में देखा जा रहा है. मंगलवार दोपहर तीन बजे से ही लगातार तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है. बारिश होने के कारण इलाके में घना कोहरा भी छा गया है. कोहरा इतना घना है कि 20 मीटर दूर खड़े लोग को देख पाना मुश्किल है. सड़कों पर आवश्यक सामानों की खरीद के लिए घरों से निकले एक-दो वाहने ही चलती दिखायी दे रही है, लेकिन वह भी दिन में वाहनों की लाइट जला कर चल रहे हैं, ताकि दुर्घटना से बचा जा सके.

Posted By : Samir Ranjan. 

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें