18.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यझारखण्डसावधान: ठंड के कारण झारखंड में तेजी से बढ़ रहे ब्रेन स्ट्रोक के मरीज, इन लोगों को विशेष ध्यान...

सावधान: ठंड के कारण झारखंड में तेजी से बढ़ रहे ब्रेन स्ट्रोक के मरीज, इन लोगों को विशेष ध्यान रखने की जरूरत

18 बुजुर्ग मरीजों का इलाज किया जा रहा है. सीसीयू में बेड उपलब्ध नहीं होने के कारण ब्रेन स्ट्रोक की समस्या वाले मरीजों को मेडिसिन आइसीयू में रखा गया है.

रांची : ठंड के कारण ब्रेन स्ट्रोक और सांस की समस्या वाले मरीजों की संख्या बढ़ गयी है. इन दिनों रिम्स की क्रिटिकल केयर यूनिट (सीसीयू) में 45 में से 22 ब्रेन स्ट्रोक के मरीज भर्ती हैं. इनमें बुजुर्गों की संख्या अधिक है. इसके अलावा अस्थमा, सीओपीडी और सांस की समस्या वाले मरीजों का भी इलाज चल रहा है. कई मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है. पिछले 48 घंटे में ब्रेन स्ट्रोक के चार मरीजों को भर्ती कराया गया है.

इधर, रिम्स के मेडिसिन आइसीयू में भी बुजुर्ग मरीजों की संख्या बढ़ गयी है. यहां 18 बुजुर्ग मरीजों का इलाज किया जा रहा है. सीसीयू में बेड उपलब्ध नहीं होने के कारण ब्रेन स्ट्रोक की समस्या वाले मरीजों को मेडिसिन आइसीयू में रखा गया है.

Also Read: Jharkhand: मौत की दूसरी बड़ी वजह ब्रेन स्ट्रोक, रिम्स के न्यूरो सर्जन डॉ विकास कुमार दे रहे पूरी जानकारी

मौसमी बीमारी के मरीज भी बढ़े

रिम्स के मेडिसिन ओपीडी में मौसमी बीमारी से पीड़ित मरीजों की संख्या 30 फीसदी बढ़ गयी है. ठंड की वजह से ओपीडी में बुखार, सर्दी-खांसी और गला दर्द की समस्या लेकर मरीज पहुंच रहे हैं. विभागाध्यक्ष डॉ विद्यापति ने बताया कि ठंड के कारण मरीजों की संख्या बढ़ी है. फिलहाल ओपीडी में रोजाना 50 से 55 मरीजों को परामर्श दिया जा रहा है.

रिम्स की क्रिटिकल केयर यूनिट में ब्रेन स्ट्रोक के 22 मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है. इसमें बुजुर्गों की संख्या अधिक है. ठंड में लापरवाही के कारण यह समस्या होती है. इसलिए हाई बीपी के मरीजों को विशेष ख्याल रखना चाहिए.

डॉ प्रदीप भट्टाचार्या, विभागाध्यक्ष, सीसीयू

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें