इराकी बलों का मोसुल बांध पर फिर नियंत्रण

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बगदाद. इराकी सुरक्षा बलों और कुर्द लड़ाकों ने सोमवार को देश के सबसे बड़े बांध को इसलामी आतंकवादियों के कब्जे से वापस छीन लिया. आतंकवादियों ने करीब दो सप्ताह पहले बांध पर कब्जा कर लिया था. यह घटनाक्रम इस महीने के शुरू में अमेरिकी हवाई हमले शुरू होने के बाद से इराकी और कुर्द बलों के लिए पहली बड़ी जीत है. इससे उनका मनोबल काफी बढ़ सकता है जो इसलामी स्टेट समूह द्वारा इस गर्मी में कब्जाये गये क्षेत्र को मुक्त कराने के लिए संघर्षरत हैं. मोसुल बांध इराक के दूसरे सबसे बड़े शहर मोसुल से उत्तर में दजला नदी पर निर्मित है और इसका काफी रणनीतिक महत्व है, क्योंकि इससे देश के एक बड़े हिस्से को बिजली और पानी की आपूर्ति होती है. आतंकवादियों के आगे बढ़ने से चिंतित अमेरिका और इराकी विमानों ने गत दो दिनों के दौरान क्षेत्र में हवाई हमले किये हैं. अमेरिकी सेना ने कहा कि अमेरिकी बलों ने गत शनिवार को नौ हमले और रविवार को 16 हमले किये थे, ताकि इराकी बलों की बांध नियंत्रण लेने के प्रयास में मदद की जा सके. सैन्य प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल कासिम अल मुसावी ने बताया कि कुर्द पेशमर्ग बलों और इराक की आतंकवाद निरोध सैनिकों ने बांध को पूरी तरह से आजाद करा लिया और उस पर इराक का झंडा फहरा दिया. उन्होंने बताया कि सैनिकों को पीछे से संयुक्त हवाई समर्थन हासिल था, लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि बांध के क्षेत्र में क्या कोई अमेरिकी हवाई हमला भी हुआ. क्षेत्र के स्थानीय निवासियों और अन्य से तत्काल सम्पर्क नहीं हो पाया, ताकि उनसे सुरक्षा बलों के बांध पर फिर से नियंत्रण हासिल करने की पुष्टि की जा सके.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें