1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jharkhand panchayat chunav 2022
  5. jharkhand panchayat chunav fate of 999 candidates of 3 blocks of gumla is locked in ballot box counting is on 22nd may smj

गांव की सरकार : गुमला के तीन प्रखंड के 999 प्रत्याशियों की किस्मत मतपेटी में बंद, 22 को काउंटिंग

झारखंड पंचायत चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग गुरुवार को खत्म हो गयी. गुमला के तीन प्रखंड में हुई वोटिंग में कुल 999 प्रत्याशियों की किस्मत बैलेट बॉक्स में कैद हो गयी है. इसके साथ ही इन प्रत्याशियों की धड़कनें भी काफी बढ़ गयी है. 22 मई को सुबह आठ बजे से काउंटिंग होगी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: गुमला के तीन प्रखंडों में हुए चुनाव के बाद मतपेटी जमा कराते मतदान कर्मी.
Jharkhand news: गुमला के तीन प्रखंडों में हुए चुनाव के बाद मतपेटी जमा कराते मतदान कर्मी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Panchayat Chunav: झारखंड पंचायत चुनाव के दूसरे चरण का मतदान गुरुवार (19 मई, 2022) को खत्म हो गया. गुमला जिला के तीन प्रखंड मेें 999 प्रत्याशियों की किस्मत बैलेट बॉक्स में कैद हो गई. कौन जीतेगा और कौन हारेगा इसका फैसला 22 मई को होगा. तीनों प्रखंड में कुल 63.46 फीसदी वोटिंग हुई है.

शांतिपूर्ण हुआ चुनाव

गुमला जिला के गुमला, घाघरा और बिशुनपुर प्रखंड में दूसरे चरण का चुनाव शांतिपूर्ण हुआ. 63.46 प्रतिशत मतदाताओं ने वोटिंग की है. तीनों प्रखंड में विभिन्न पद के लिए 999 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला मतपेटी में बंद हो गया है. यह मतपेटी अब 22 मई को खुलेगा. मतपेटी खुलने के बाद पता चलेगा कि कौन जीता और कौन हारा. तीनों प्रखंडों से मुखिया के 421 उम्मीदवार है. जबकि जिला परिषद सदस्य के 26, पंचायत समिति सदस्य के 86 व वार्ड सदस्यों के 466 उम्मीदवार है.

विभिन्न पदों के लिए प्रत्याशियों की संख्या
पद : प्रत्याशियों की संख्या

मुखिया : 421
जिला परिषद सदस्य : 26
पंचायत समिति सदस्य : 86
वार्ड सदस्य : 466
कुल प्रत्याशियों की संख्या : 999

प्रखंडवार प्रत्याशियों की स्थिति

बता दें कि गुमला सदर प्रखंड से मुखिया के 198 उम्मीदवार, जिला परिषद सदस्य के 14 उम्मीदवार, पंचायत समिति सदस्य के 29 और वार्ड सदस्य के 225 उम्मीदवार हैं. इसी प्रकार घाघरा प्रखंड में मुखिया के 122, जिला परिषद सदस्य के पांच, पंचायत समिति सदस्य के 17 और वार्ड सदस्य के लिए 141 उम्मीदवार है. जबकि बिशुनपुर प्रखंड में मुखिया के 101, जिला परिषद सदस्य के सात, पंचायत समिति सदस्य के 40 व वार्ड सदस्य के 100 उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटी में बंद है.

बिना जागरूक किये वोटरों ने डाले वोट

देखा गया है कि हर चुनाव में प्रशासन द्वारा स्वीप कार्यक्रम चलाया जाता था. जिसमें लाखों रुपये खर्च कर उम्मीदवारों को वोट डालने के लिए जागरूक किया जाता था. लेकिन, इसबार प्रशासन ने स्वीप कार्यक्रम नहीं चलाया. ना ही गांवों में वोटरों को वोट डालने के लिए जागरूक किया गया. इसके बाद भी वोटर अपने घरों से निकले और बूथ तक पहुंच कर मतदान किया. मतदान का प्रतिशत भी बेहतर रहा है. दूसरे चरण के मतदान पर गौर करें, तो गुमला प्रखंड में 65.57 प्रतिशत, घाघरा प्रखंड में 60.63 प्रतिशत और बिशुनपुर प्रखंड में 65.57 प्रतिशत मतदान हुआ है. जिस प्रकार का मतदान हुआ है. इससे स्पष्ट है कि गांव की सरकार चुनने के लिए ग्रामीण खुद तैयार रहते हैं. ग्रामीणों से बात करने पर कहा कि यह हमारे गांव-घर का चुनाव है. इसलिए बिना बुलावे के हम खुद बूथ तक जाकर वोट दिये हैं.

उम्मीदवारों की धड़कन तेज, वोट का कर रहे आकलन

999 प्रत्याशियों की किस्मत मतपेटी में बंद है. मतदाताओं के फैसले के बाद सभी प्रत्याशियों की दिल की धड़कन तेज हो गयी है. वोटरों ने किस बूथ में कितना वोट दिया है. सभी प्रत्याशी इसका आकलन करने में जुटे हैं. खासकर मुखिया और जिला परिषद के उम्मीदवारों की दिल की धड़कन सबसे ज्यादा तेज है. इधर, वज्रगृह में मतपेटी सील किये जाने के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गयी है. केओ कॉलेज, गुमला में वज्रगृह और मतगणना केंद्र बनाया गया है. जहां 22 मई की सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू होगी.

रिपोर्ट : जगरनाथ पासवान, गुमला.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें