झारखंड सरकार ने भारत सरकार से मांगी इजाजत, गुड़ाबांदा व डुमरिया में पन्ना का दिया जायेगा प्रोस्पेक्टिंग लाइसेंस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जमशेदपुर. गुड़ाबांदा डुमरिया में पन्ना व नीलम के उत्खनन के लिए प्रोस्पेक्टिंग लाइसेंस (पीएल) दिया जायेगा. पीएल के लिए झारखंड सरकार ने भारत सरकार से इजाजत मांगी है. वर्तमान में राज्य सरकार ने दो भंडार की ही प्रोस्पेक्टिंग लाइसेंस देने के लिए कदम बढ़ायी है. चूंकि पन्ना जेम्स मिनरल के दायरे में आता है, इस कारण भारत सरकार को इसके लिए क्लियरेंस देना होगा. इसके साथ ही वन विभाग के भी क्लियरेंस की जरूरत होगी. प्रोस्पेक्टिंग लाइसेंस मिलने पर किसी कंपनी को निविदा के आधार पर आवंटन दिया जायेगा.
4000 एकड़ में है पन्ना का भंडार, वर्ल्ड क्लास है क्वालिटी. झारखंड सरकार द्वारा कराये गये सर्वेक्षण के मुताबिक, गुड़ाबांदा और डुमरिया में करीब 4000 एकड़ का पन्ना का भंडार पाया गया है.

जियोलॉजी विभाग ने इसका अध्ययन किया था. विभाग के रिपोर्ट में बताया गया है कि यहां का पन्ना देश के सर्वोत्तम पन्ना में से एक है. गुड़ाबांदा से डुमरिया जाने वाले रास्ते, हड़ियान, जियान, बागुनमुटी, महेशपुर, कशियाबेड़ा, बकराकोचा, नामुलेप, मानीकपुर, जहां इसके भंडार हैं.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें