1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. hazaribagh police arrested 10 accused including mastermind of inter state vehicle thief gang know bihar connection of accused smj

इंटर स्टेट वाहन चोर गिरोह के मास्टर माइंड समेत 10 आरोपी गिरफ्तार, जानें आरोपियों का बिहार कनेक्शन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
इंटर स्टेट वाहन चोर गिरोह के 10 आरोपियों की गिरफ्तारी की जानकारी देते हजारीबाग एसपी.
इंटर स्टेट वाहन चोर गिरोह के 10 आरोपियों की गिरफ्तारी की जानकारी देते हजारीबाग एसपी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News (शंकर प्रसाद, हजारीबाग) : हजारीबाग पुलिस के वाहन चोरी मामले में इंटर स्टेट वाहन चोर गिरोह के 10 आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़े हैं. इस गैंग के द्वारा चोरी की गयी हजारीबाग पुलिस आवास कॉलोनी से इंस्पेक्टर मंजीत कुमार और इंस्पेक्टर सुदामा दास के स्कार्पियो व मुफ्फसिल थाना क्षेत्र स्थित पंचशील कॉलोनी से चोरी हुए स्कार्पियो वाहन को भी बरामद किया है. वाहन चोरी में इस्तेमाल एक कार को भी पुलिस ने बरामद किया है. इस बात की जानकारी एसपी कार्तिक एस ने पत्रकारों को दी.

इन 10 आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

गिरफ्तार आरोपियों में बिहार स्थित मुजफ्फरपुर सदर थाना क्षेत्र के सुस्ता गांव निवासी रवींद्र कुमार पिता स्वर्गीय विरेंद्र पासवान, मनिहारी थाना क्षेत्र मोहम्मदपुर मुबारक के मो मुकीम पिता मो नईम, बक्सर बीरकुंवर सिंह कॉलोनी चरित्रवन के शैलेश मिश्रा पिता स्वर्गीय शिवशंकर मिश्रा, राजपुर थाना क्षेत्र के खानपुर गांव के चंद्रजीत कुमार पिता जयनाथ सिंह, नालंदा के गिरियक थाना क्षेत्र स्थित रेटर गांव के राजेश कुमार पिता जनार्धन प्रसाद, कैमूर भभुआ जिला मोहनियां थाना क्षेत्र के मुबारकपुर के धर्मेंद्र चौधरी पिता स्वर्गीय कमला प्रसाद, धनबाद जिला मधुबन थाना क्षेत्र के खरखरी गांव के बिट्टू सोनार पिता बीरू सोनार, हजारीबाग बरकट्ठा थाना क्षेत्र के कोसना गांव के दीपक कुमार पिता महेंद्र प्रसाद, कोर्रा थाना क्षेत्र के मटवारी मुहल्ला के विशेष कुमार सोनी पिता किशोर कुमार और रामगढ़ जिला के घाटो के रितिक अनुराग पिता नारायण प्रसाद शामिल है.

स्काॅर्पियो चोरी का मास्टरमाइंड रितिक अनुराग

एसपी कार्तिक एस ने कहा कि स्कार्पियो वाहन चोरी करने वाला मास्टर माइंड रितिक अनुराग है. आरोपी विशेष कुमार और बिट्टू और दीपक कुमार स्कॉर्पियो वाहन को रेकी करता था. इसके बाद मोहम्मद मुकीम एवं अन्य साथियों को बुलाकर स्काॅर्पियो की चोरी करते थे. घटना को अंजाम देने के लिए सेंट्रो कार का इस्तेमाल करते थे.

चोरी की वाहन को शैलेश खरीदता था

एसपी ने कहा कि हजारीबाग से चुराये गये स्काॅर्पियो को शैलेश मिश्रा खरीदता था. इसके बाद वाहन के इंजन व चेचिस नंबर को पंच कर फर्जी नंबर लगाकर और फर्जी दस्तावेज बनाकर बेच देता था. इसके पास से धर्मेंद्र चौधरी, चंद्रजीत कुमार और राजेश कुमार खरीदकर अवैध शराब का कारोबार उक्त वाहनों से करते थे. इन आरोपियों के पास से बिना नंबर के दो काला रंग के स्काॅर्पियो जो दो पुलिस इंस्पेक्टर, एक सफेद रंग के स्कॉर्पियो पंचशील से चोरी हुई थी और एक सेंट्रो कार जो रेकी करने व चोरी करने में इस्तेमाल होता था, इन चारों वाहनों को पुलिस ने बरामद किया है.

4 आरोपियों का आपराधिक इतिहास

एसपी ने कहा कि बिट्टू सोनार पर बरकट्ठा थाना में बोलेरो चोरी व बोकारो के चास थाना में आर्म्स एक्ट, महुदा थाना में छिनतई और सिकिदिरी थाना में छिनतई का मामला दर्ज है. वहीं, दीपक पर बरकट्ठा थाना में बोलेरो चोरी, विशेष कुमार सोनी पर कोरा थाना में गोली चलाने, मो मोकिम पर बोकारो के चास थाना में आर्म्स एक्ट, मुजफ्फरपुर में रंगदारी का मामला, राजेश कुमार पर नालंदा गिरियक थाना में अवैध शराब कारोबार करने का मामला दर्ज है.

SIT ने की छापेमारी, मिली सफलता

एसपी कार्तिक एस ने बताया कि हजारीबाग में लगातार स्कॉर्पियो वाहनों की चोरी होने की घटना हो रही थी. ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए SIT टीम गठित किया. टीम में मुफ्फसिल थाना प्रभारी बजरंग महतो, चरही प्रभारी, बरही इंस्पेक्टर रोहित कुमार और चौपारण थाना प्रभारी शामिल थे. टीम का नेतृत्व बरही एसडीपीओ ने किया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें