1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. coronavirus update news people seen in gumla without wearing masks covid guidelines not being followed smj

Coronavirus Update News : गुमला में बिना मास्क पहने घूमते दिखे लोग, कोविड गाइडलाइन का नहीं हो रहा पालन

झारखंड में लागू मिनी लॉकडाउन के पहले दिन गुमला में कोरोना गाइडलाइन का पालन करते लोग नहीं दिखे. भीड़-भाड़ वाले इलाके में भी लोग बिना मास्क के घूमते दिखे, वहीं कई दुकानदारों को भी मास्क पहने नहीं देखा गया. दूसरी ओर, मंगलवार से गुमला बार भवन को आमलोगों के लिए बंद कर दिया गया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: मास्क नहीं पहने युवकों को समझाते गुमला के चैनपुर बीडीओ.
Jharkhand news: मास्क नहीं पहने युवकों को समझाते गुमला के चैनपुर बीडीओ.
प्रभात खबर.

Coronavirus Update News : झारखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए राज्य में मिनी लॉकडाउन लगाया गया है. सरकार का निर्देश है कि कोरोना से बचने के लिए घर से निकले तो मास्क जरूर लगाये. सोशल डिस्टैंस का पालन करें. लेकिन, मंगलवार को गुमला में लोगों को मास्क का उपयोग करते नहीं देखा गया. कुछ गिने-चुने लोग ही मास्क पहने हुए थे. अधिकांश लोग बिना मास्क पहने घूम रहे हैं. सोशल डिस्टैंस का भी पालन नहीं हो रहा है. यहां तक कि शहरी क्षेत्र के दुकानदार भी मास्क का उपयोग नहीं कर रहे.

Jharkhand news: बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए गुमला बार भवन में आम जनों के प्रवेश पर लगी रोक.
Jharkhand news: बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए गुमला बार भवन में आम जनों के प्रवेश पर लगी रोक.
प्रभात खबर.

सरकारी कार्यालयों को छोड़ दिया जाये, तो कहीं भी कोरोना गाइडलाइन का पालन करते नहीं देखा गया. गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने लोगों से अपील किया है कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोग मास्क का जरूर उपयोग करें. सैनिटाइजर या साबुन से हाथ साफ करें. भीड़ वाली जगह पर ना जायें.

वहीं, विधायक भूषण तिर्की ने कहा कि कोरोना संक्रमण के भयावह को फेज वन व टू में देखा गया है. कई लोग इससे संक्रमित हुए और मौत भी हुई. इसलिए वर्तमान में कोरोना का जो नया वेरिएंट आया है. उससे बचने के लिए हमें सावधानी बरतनी चाहिए. तभी हम सुरक्षित रहेंगे.

बार भवन में सिर्फ अधिवक्ताओं को प्रवेश

बार काउंसिल रांची के आदेशानुसार मंगलवार से गुमला बार भवन को बंद कर दिया गया है. हालांकि, बार भवन में सिर्फ अधिवक्ता प्रवेश करके अपना कार्य कर सकते हैं. बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नंदलाल ने कहा कि ओमिक्रॉन के बढ़ते मामले को देखते हुए बार काउंसिल द्वारा बार भवन में अधिवक्ताओं के अलावा अन्य के लिए प्रवेश वर्जित करने का निर्देश दिया गया है. यह नियम बार काउंसिल के अगले आदेश तक जारी रहेगा. उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन से बचाव के लिए लोग दो गज की दूरी, मास्क व सैनिटाइजर का प्रयोग करें. अभी तक जो कोरोना वैक्सीन नहीं लिये हैं. वे अवश्य वैक्सीन लें.

चैनपुर : 2091 किशोरों को लगा टीका

चैनपुर प्रखंड में 15 से 18 आयु वर्ग के किशोरों को कोरोना टीका लगा. इसके तहत चैनपुर प्रखंड के 38 विद्यालयों में दो दिनों के अंदर 2091 किशोरों को कोविड-19 की वैक्सीन दी गयी. बीडीओ डॉ शिशिर कुमार सिंह, थाना प्रभारी व प्रखंड के सभी कर्मी के सहयोग से टीकाकरण कराया गया. वहीं, बीडीओ द्वारा लोगों को मास्क पहनकर चलने की अपील की गयी है. उन्होंने कहा है कि बिना मास्क के कोई बाहर नहीं निकले.

बिशुनपुर : नक्सल इलाकों में कोरोना का लगा टीका

बिशुनपुर प्रखंड के दुर्गम इलाका व नक्सल क्षेत्रों में कोरोना का टीकाकरण अभियान चला. 15 वर्ष से ऊपर के लोगों को टीका दिया गया. प्रखंड के बड़की समदारी, छोटकी समदारी, तुमसे, रोले, अंकुरी, हर्राटोली, डाड़टोली एवं बेंदी गांवों में शत-प्रतिशत वैक्सीन का पहला डोज दिया गया.

बता दें कि एक समय इन सभी गांवों के लोग कोरोना का टीका नहीं लगवाना चाहते थे. उनके मनों में टीके को लेकर कई प्रकार की भ्रांतियां थीं, लेकिन जिला प्रशासन, प्रखंड प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के निरंतर प्रयास, सामाजिक उत्प्रेरणा, व्यापक प्रचार-प्रसार के परिणामस्वरूप इन सभी गांवों के लोगों को शत-प्रतिशत कोरोना वैक्सीन का पहला डोज दिया गया.

मालूम हो कि बिशुनपुर प्रखंड के अधिकतम हिस्से पाट एवं दुर्गम है. यहां तक पहुंचने के लिए उचित साधन भी उपलब्ध नहीं है. ऐसी स्थिति में स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा पहाड़, नदी-नालों एवं पगडंडियों का सहारा लेकर ऐसे गांवों में बसने वाले लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है. इस अभियान में बिशुनपुर की बीडीओ छंदा भट्टाचार्य की अहम भूमिका है.

रिपोर्ट : जगरनाथ, गुमला.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें