29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

वित्तीय अनियमितता के आरोप में चिकित्सा पदाधिकारी पर गिरी गाज

गावां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भारी गड़बड़ झाला व वित्तीय अनियमितता की बात सामने आई है. उक्त आशय का खुलासा गत मंगलवार को सीएस ने स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के क्रम में उजागर किया.

बंद पड़े बदहाल कर्मचारी भवन से मिली हजारों की दवा, सीओ ने जांच के बाद कमरे में जड़ा ताला

गावां.

गावां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भारी गड़बड़ झाला व वित्तीय अनियमितता की बात सामने आई है. उक्त आशय का खुलासा गत मंगलवार को सीएस ने स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के क्रम में उजागर किया. वहीं गावां के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति को रद्द करते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तिसरी में पदस्थापित डॉ महेश्वरम को गावां का अतिरिक्त प्रभार सौपा है. इधर, गुरुवार को हॉस्पिटल से बाहर एक जीर्ण-शीर्ण बंद पड़े स्टाफ रूम में भारी मात्रा में दवा व बेबी किट आदि की खेफ छिपा कर रखे जाने की चर्चा फैली. सूचना पर जिला परिषद सदस्य पवन कुमार चौधरी स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे. कर्मियों से बंद पड़े कमरे का दरवाजा खोलने का आग्रह किया लेकिन प्रधान लिपिक भोजन करने के बहाने हॉस्पिटल से चला गया. बाद में मामले की सूचना सीएस व सीओ को दी गयी.

बता दें कि मंगलवार को रक्तदान शिविर के उद्धाटन के बाद सीएस ने स्वास्थ्य केंद्र में दस्तावेजों की जांच की थी. जांच के क्रम में पाया गया कि कागजी हेराफेरी करके भारी अनियमितता बरती गई है. इसके साथ ही भंडार कक्ष में भी काफी गड़बड़ी मिली. सूत्रों से पता चला कि स्टॉक रजिस्टर में विवरण के अनुसार सामग्रियों के मिलान में काफी खामियां पायी गयीं. कागजी हेराफेरी कर के सामानों के बंदरबांट की बात भी सामने आ रही है. मौके पर सीएस ने उपस्थित चिकित्सा पदाधिकारी व अन्य कर्मियों को काफी डांट फटकार लगाई.

सीओ ने कमरे में जड़ा ताला

स्टाफ रूम में भारी मात्रा में दवा व बेबी किट छिपाकर रखे जाने के मामले की सूचना पर सीओ अविनाश रंजन स्थल पर पहुंचे बंद पड़े कमरे का ताला खोलवाकर कमरों की तलाशी ली तो वहां का मंजर देखकर वे स्तब्ध रह गये. एक कमरे में भारी मात्रा में बेबी किट पड़े हुये थे. जबकि दूसरे कमरे में भारी मात्रा में दवायें पायी गईं. सालों से बंद पड़े खंडहरनुमा आवास में दवा रखने को ले वहां कई राजनैतिक दल के कार्यकर्ता व ग्रामीण उपस्थित हो गये. इस दौरान उन्होंने मामले के उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की. मामले में जिप सदस्य पवन चौधरी ,विधायक प्रतिनिधि मुन्ना सिंह, आदि ने सीएस से टीम भेजकर मामले के जांच की मांग की. मौके पर उपस्थित सीओ अविनाश रंजन ने कहा कि मामले की सूचना सीएस को देकर जांच की बात कही गई है.

मामले की जांच की जा रही है : सीएस

मामले में सीएस एसपी मिश्रा ने कहा कि वित्तीय अनियमितता का मामला सामने आने पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को गावां से हटा दिया गया है. मामले की जांच की जा रही है. जांच के क्रम में जिनका भी नाम आएगा विधि संवत कार्रवाई की जाएगी. हॉस्पिटल के बाहर बंद पड़े कमरे में दवा रखने के बाबत उन्होंने कहा कि टीम भेज कर इसकी भी जांच कार्रवाई जाएगी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें