1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. coronavirus corona infection rate decreased in jharkhand recovery rate increased prt

coronavirus : झारखंड में कोरोना संक्रमण की दर घटी, रिकवरी रेट बढ़ा

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
झारखंड में कोरोना संक्रमण की दर घटी, रिकवरी रेट बढ़ा
झारखंड में कोरोना संक्रमण की दर घटी, रिकवरी रेट बढ़ा
Prabhat Khabar

सुनील चौधरी, रांची : कोरोना को लेकर जैसे-जैसे टेस्ट बढ़ रहे हैं, उस हिसाब से संक्रमितों की संख्या भले ही ज्यादा मिल रही है, लेकिन टेस्ट के अनुपात में झारखंड में संक्रमण की दर कम हो रही है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक माह के अांकड़ों को देखें, तो पता चलेगा कि कोरोना संक्रमण का ग्राफ गिरा है. अगस्त के पहले सप्ताह में जहां संक्रमितों के मिलने की दर 11.28% थी, वह घटकर 3.62% हो गयी है. हालांकि इस दौरान टेस्ट ज्यादा हुए और केस भी ज्यादा मिले. दो से नौ अगस्त के बीच कुल 47627 सैंपल की जांच हुई थी.

5373 पॉजिटिव मिले थे, जो कुल टेस्ट का 11.28 प्रतिशत है. वहीं 31 अगस्त से छह सितंबर के बीच एक सप्ताह में ही तीन लाख 49 हजार 213 सैंपल की जांच हुई और 12629 पॉजिटिव मिले, जो कुल टेस्ट का 3.62% है. यानी संक्रमण की दर घटी है.

रिकवरी रेट दोगुना हुआ : झारखंड में रिकवरी रेट दोगुना हो गया है. दो से नौ अगस्त के बीच रिकवरी रेट 36 प्रतिशत था. वह 31 अगस्त से छह सितंबर के बीच बढ़कर 71 प्रतिशत हो गया है. जिलों के अनुसार, सबसे कम सरायकेला में 52 प्रतिशत और देवघर सबसे अधिक 89 प्रतिशत है. राजधानी रांची में 66 प्रतिशत और जमशेदपुर में 70 प्रतिशत है.

यहां 80 प्रतिशत से अधिक रिकवरी रेट : देवघर,गोड्डा, पलामू, सिमडेगा, धनबाद, गिरिडीह, पाकुड़ और गढ़वा : टेस्ट में भारी इजाफा,9259 टीपीएम : रैपिड एंटीजेन टेस्ट के आने से झारखंड में सैंपलिंग और टेस्ट में भारी वृद्धि हुई है. अगस्त के पहले सप्ताह में झारखंड में प्रति 10 लाख की आबादी (टीपीएम) पर 1263 टेस्ट हो रहे थे. वहीं सितंबर के पहले सप्ताह में 9259 टेस्ट प्रति 10 लाख पर हो रहे हैं. टीपीएम के मामले में खूंटी जिले की दर सर्वाधिक है. यहां 20975 टीपीएम पहले सप्ताह में रहा, जबकि धनबाद में सबसे कम 5064 टीपीएम रहा है. राजधानी रांची में 6294 और जमशेदपुर में 5960 रहा है.

टेस्ट के मामले में देशभर में झारखंड 18 वें स्थान पर, साप्ताहिक टेस्ट में 10वें स्थान पर : 11 लाख से अधिक टेस्ट कर झारखंड देशभर 18 वें स्थान पर है. छह सितंबर तक 65 लाख से अधिक टेस्ट कर उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है. बिहार 40 लाख से अधिक टेस्ट कर पांचवें स्थान पर और बंगाल 21 लाख से अधिक टेस्ट कर 10वें स्थान पर है. हालांकि एक सप्ताह में ज्यादा टेस्ट के मामले में झारखंड 10वें स्थान पर है. 31 से छह सितंबर के बीच झारखंड में 3.49 लाख टेस्ट हुए.

संक्रमण की दर 11.28 से घटकर 3.62% हुई, रिकवरी रेट 36% से बढ़कर 71 % हो गया

देशभर में झारखंड चौथे स्थान पर : संक्रमण दर गिरने से देशभर में झारखंड कम संक्रमितों के मामले में चौथे स्थान पर है. देशभर में सबसे कम दर 1.36% के साथ बिहार सबसे ऊपर है. इसके बाद गुजरात(1.78) और मिजोरम(2.20 ) है. देशभर में सबसे अधिक संक्रमण दर चंडीगढ़ का 29.65%है. इसके बाद पुडीचेरी (29.64‌%), गोवा (25.61%) व महाराष्ट्र (22.48%) है.

ऐसे समझें आंकड़ा

  • सप्ताह कुल टेस्ट मिले केस प्रतिशत

  • 2-9 अगस्त 47627 5373 11.28

  • 31 अगस्त से 6 सितंबर 349213 12629 3.62

रांची और जमशेदपुर में अभी भी संक्रमण दर ज्यादा : विभाग के आंकड़ों के अनुसार, भले ही राज्य में ओवरअॉल संक्रमण दर कम हुई है, लेकिन रांची व जमशेदपुर जैसे जिलों में संक्रमण दर अभी भी 10 प्रतिशत से अधिक है. रांची में दो से नौ अगस्त के बीच यह 20.31% थी, जो सितंबर के पहले सप्ताह में 15.69% हो गयी है.वहीं जमशेदपुर में यह दर 15.34% से घटकर 13.67 प्रतिशत हुई है.

यहां दो प्रतिशत से कम है दर : लातेहार, गिरिडीह, सिमडेगा, साहिबगंज, खूंटी,गढ़वा, गुमला, देवघर व चतरा

यहां 1 % से भी कम संक्रमण दर : जामताड़ा, दुमका, गोड्डा व पाकुड़

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें