1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. demand for release of tenughat vidyut nigam limited managing director letter written by general secretary babuli soren of tenughat vidyut mazdoor union lalpania to jharkhand cm hemant soren make these serious allegations read what is the whole matter grj

TVNL के MD को पदमुक्त करने की मांग, झारखंड के CM हेमंत सोरेन को लिखा पत्र, लगाये ये गंभीर आरोप, पढ़िए क्या है पूरा मामला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : TVNL के MD को पदमुक्त करने की मांग
Jharkhand News : TVNL के MD को पदमुक्त करने की मांग
फाइल फोटो

Jharkhand News, महुआटांड़ (रामदुलार पंडा) : झारखंड के बोकारो जिले में तेनुघाट विद्युत मजदूर यूनियन (बबूली गुट) ललपनिया के महामंत्री बबूली सोरेन ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने टीवीएनएल के एमडी (प्रबंध निदेशक) पर गैर जिम्मेदाराना व्यवहार करने व अफसरों और कर्मियों को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि एमडी के खिलाफ पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद द्वारा लिखे गये पत्र के आलोक में सरकार द्वारा गठित जांच कमेटी की जांच रिपोर्ट में आरोप सिद्ध भी हुआ है. इसके बाद से एमडी का व्यवहार और भी गैर जिम्मेदाराना व दुर्भावना से ग्रसित हो गया है. इन्होंने एमडी को पदमुक्त करने की मांग की है.

पत्र में कहा गया है कि आरोप सिद्ध हो जाने के बाद भी एमडी का पद पर बने रहना सरकार के उच्च अधिकारियों की मंशा पर सवाल खड़े करता है. कोरोना महामारी को देखते हुए बीते वर्ष निगम व टीटीपीएस कर्मियों का पांच लाख व अफसरों का दस लाख का बीमा करवाया गया था, लेकिन इस बार नहीं करवाया गया है. टीटीपीएस अस्पताल के दो संविदा कर्मियों का सेवा विस्तार नहीं किया गया है, इससे उन्हें महीनों से वेतन नहीं मिला है और वे भुखमरी के कगार पर हैं. बावजूद इसके वे दोनों कर्मचारी अपनी सेवा दे रहे हैं.

कोरोना की दूसरी लहर में कई अधिकारी, कर्मचारी संक्रमित हैं और कई की तबीयत खराब है. ऐसे में काम करने में वे असमर्थ हैं. एक अफसर व एक कर्मी की मौत भी हो चुकी है, लेकिन एमडी द्वारा अफसरों व कर्मियों को दोनों यूनिट से उत्पादन को लेकर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है, जबकि खुद एमडी दो-तीन माह से टीटीपीएस ललपनिया खबर लेने तक नहीं आये हैं. 7 अप्रैल से कोयला आपूर्ति बाधित है लेकिन वे इस ओर कोई पहल नहीं कर रहे हैं.

पत्र में यह भी कहा गया है कि एमडी अपने आवास में बैठकर अफसरों को सिर्फ प्रताड़ित कर रहे हैं और लेखा निदेशक के संयुक्त हस्ताक्षर से ज्यादातर बाहरी संवेदकों को चेक के माध्यम से विभिन्न बैंक शाखा में भुगतान किया जा रहा है और दुर्भावना से ग्रसित होकर स्थानीय संवेदकों का बिल भुगतान रोक दिया गया है और कार्य भी आवंटित नहीं किया जा रहा है. इससे लोगों में भारी आक्रोश है. महामंत्री श्री सोरेन ने मुख्यमंत्री से स्थिति की गंभीरता को देखते हुए जांच रिपोर्ट के आधार पर एमडी को पदमुक्त करने की मांग की है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें