24.1 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार से पलायन रोकने की तैयारी पहली बार घर-घर जाकर होगा युवाओं और श्रमिकों का स्किल सर्वे, मिलेगा रोजगार

श्रम अधिकारियों के मुताबिक बिहार से हजारों लोगों का पलायन हर साल दूसरे राज्यों में होता है. इस कारण राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि युवाओं और कामगारों के लिए बिहार में अधिक से अधिक रोजगार का सृजन करें. इस कारण से यह सर्वे कराने का निर्णय लिया गया है.

पटना. श्रम संसाधन विभाग बिहार में पहली बार एजेंसी के माध्यम से डोर-टू-डोर युवाओं और कामगारों का सर्वे करायेगी. यह सर्वे इस साल के अंत दिसंबर तक होगा. इसमें युवाओं के स्किल की पहचान कर एक रिपोर्ट तैयार होगी और उसी के आधार पर विभाग राज्य सरकार के सहयोग से युवाओं के लिए रोजगार का सृजन करेगी. सर्वे में बिहार और दूसरे राज्यों में रहने वाले कामगारों को भी जोड़ा जायेगा, ताकि बिहार से पलायन को रोका जा सके और लोगों को बिहार में ही काम मिल सके.

पलायन रोकने के लिए हो रही है तैयारी

श्रम अधिकारियों के मुताबिक बिहार से हजारों लोगों का पलायन हर साल दूसरे राज्यों में होता है. इस कारण राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि युवाओं और कामगारों के लिए बिहार में अधिक से अधिक रोजगार का सृजन करें. इस कारण से यह सर्वे कराने का निर्णय लिया गया है.

युवाओं के लिए खुलेंगे स्व रोजगार के रास्ते, कुशल युवा प्रोग्राम का होगा विस्तार

सर्वे से युवाओं के स्किल की पहचान होगी और उसी के आधार पर सरकार आइटीआइ और अन्य जगहों पर पढ़ाई हो सके. युवा स्वरोजगार से जुड़ सकें. उसी की ट्रेनिंग कौशल विकास सेंटर के माध्यम से दी जायेगी. वर्तमान में अभी सेंटरों पर कंप्यूटर और अंग्रेजी का कोर्स होता है. लेकिन सर्वे के बाद इन सेंटरों पर ट्रेनिंग का दायरा बढ़ेगा और युवा किस क्षेत्र में रोजगार करना चाहते है. उसी क्षेत्र में उनके लिए विभाग ट्रेनिंग की व्यवस्था करेगी.

बिहार और बाहर गये श्रमिकों को मिलेगी एसएमएस जानकारी

विभाग स्किल डेटा के आधार पर बिहार और बिहार से बाहर गये श्रमिकों को रोजगार से जोड़ने के लिए मैसेज भेजा जायेगा. इसमें उनके स्किल के मुताबिक रोजगार से संबंधित जानकारी और मोबाइल नंबर रहेगा. जिस पर वह खुद बातचीत करके अपने लिए रोजगार की खोज करेंगे या उनके लिए दूसरे राज्यों में कहां- कहां रोजगार है, इसकी पूरी जानकारी उन्हें मिलनी आसान होगी.

जिला स्तर ही सभी योजनाओं का मिलेगा लाभ

बिहार से बाहर काम करने वाले कामगारों को विभागीय योजनाओं का लाभ लेने के लिए बिहार में दौड़ना नहीं पड़ेगा. श्रमिक या उनके परिजन अपने गृह जिला से लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते है. इसको लिए विभाग तक आने की कोई जरूरत नहीं है. सर्वे के बाद देश-विदेश में काम करने वाले युवाओं की पूरा डेटाबेस विभाग के पास रहेगा.

Also Read: बिहार से रोजगार के लिए रिकार्ड संख्या में विदेश जा रहे कामगार, जानें किस जिले से कितना हो रहा पलायन
Also Read: बिहार पर्यटन नीति 2023 को मंजूरी, होटल-रेस्टोरेंट बनाने पर मिलेगी सब्सिडी, पैदा होंगे रोजगार के एक लाख अवसर

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें