26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

रास्ता को अतिक्रमणमुक्त करने की चेतावनी

नगर के मुख्य बाजार को अतिक्रमणमुक्त कराने को ले नगर पंचायत कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा करीब तीन दर्जन अतिक्रमणकारियों को नोटिस भेजी गयी है.

सुरसंड. नगर के मुख्य बाजार को अतिक्रमणमुक्त कराने को ले नगर पंचायत कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा करीब तीन दर्जन अतिक्रमणकारियों को नोटिस भेजी गयी है. कार्यपालक पदाधिकारी देवानंद द्वारा भेजे गए नोटिस में तीन दिनों के अंदर बाजार की अतिक्रमित भूमि व रास्ता को अतिक्रमणमुक्त करने की चेतावनी दी गयी है. हालांकि 10 अप्रैल 2024 को ही नगर पंचायत कार्यालय द्वारा नोटिस भेजी गयी थी. पर नोटिस प्राप्ति के एक सप्ताह बाद भी अतिक्रमणकारियों द्वारा अतिक्रमित किए गए बाजार का रास्ता खाली नहीं किया जा सका है. नगर के वार्ड संख्या दो निवासी शिवकुमार लाठ ने डीएम को आवेदन देकर बाजार की अतिक्रमित भूमि व रास्ता को अतिक्रमणमुक्त कराने की मांग की थी. ताकि आपातकाल की स्थिति में बाजार में अग्निशाम सेवा व एम्बुलेंस सुविधा से पहुंच सके. डीएम ने सीओ को पत्र प्रेषित कर इस दिशा में त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दिया था. डीएम के निर्देश पर सीओ ने अंचल अमीन से बाजार की मापी कर जांच रिपोर्ट देने का आदेश दिया था. अंचल अमीन अजय कुमार पंडित ने बताया कि सीओ के निर्देश पर उनके द्वारा अलुवा बाजार (भगवती पथ), मछली बाजार, घड़ा बाजार व बाजार में प्रवेश करनेवाली सभी अतिक्रमित रास्ता व भूखंड की मापी कर प्रतिवेदन समर्पित कर दिया गया है. सीओ सतीश कुमार ने बताया कि अंचल अमीन से प्राप्त मापी प्रतिवेदन नपं के कार्यपालक पदाधिकारी को भेज दी गयी है. वहीं नपं कार्यपालक पदाधिकारी देवानंद ने बताया कि अंचल से प्राप्त मापी प्रतिवेदन आधा अधूरा है. मापी के दौरान बाजार के लोगों ने अंचल अमीन को बरगला दिया, जिससे सही मापी नहीं हो सकी है. मापी प्रतिवेदन में ज्यादातर अस्थायी दुकानदार का नाम है. एक भी मुख्य अतिक्रमणकारी का नाम मापी प्रतिवेदन में नहीं है. बाजार का पुनः मापी कराने को ले सीओ को प्रतिवेदन भेजी गयी है. प्रतिवेदन प्राप्त होते ही चुनाव के बाद पूरे बाजार को अतिक्रमणमुक्त करा दिया जाएगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें