1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. non ryot farmers able to sell only 15 quintals of gram and lentils in bihar the government has issued guidelines asj

बिहार में अधिकतम 15 क्विंटल चना और मसूर ही बेच सकेंगे गैर रैयत किसान, सरकार ने जारी किया दिशा निर्देश

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
किसान
किसान
फाइल

पटना़ न्यूनतम समर्थन मूल्य पर दलहन की पंद्रह अप्रैल से खरीदी प्रकिया शुरू होने जा रही है़ इस प्रक्रिया में दलहन बेचने के लिए गैर रैयत किसानों को कुछ राहत दी गयी है़ वे अधिकतम पंद्रह क्विंटल चना और मसूर दोनों बेच सकेंगे़ वे चना और मसूर भी अलग अलग बेचना चाहें तो वह इससे अधिक नहीं बेच सकेंगे़ हालांकि खाद्य विभाग ने शर्त लगा दी है कि गैर रैयत किसानों को स्व घोषणा पत्र पर वार्ड सदस्य से सत्यापन कराना होगा़ यही नहीं उन्हें नेफेड के पोर्टल पर अपना पंजीयन भी कराना होगा़

वहीं प्रदेश के 72 अनुमंडलों में दलहन मसलन चना और मसूर की खरीदी करने का निर्णय लिया गया है़ खाद्य विभाग ने न केवल अनुमंडलों के नाम तय कर दिये हैं, बल्कि गोदाम भी आरक्षित कर दिये हैं. खरीदी कराने वाले अफसरों के नाम भी अनुमंडलों के नाम भी चिह्नित कर दिये हैं.

मालूम हो कि आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय -2 के तहत दलहन के उत्पादन को बढ़ाने के लिए राज्य सरकार ने केंद्र की मदद से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर इसकी खरीदारी करने का निर्णय लिया है. सीएम नीतीश कुमार की पहल पर इसके लिए राज्य सरकार की तरफ से भेजे गये प्रस्ताव को केंद्र ने हरी झंडी दे दी है.

राज्य में दलहन की खरीदारी के लिए किसानों के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया अप्रैल के प्रथम सप्ताह में शुरू हो जायेगी. खरीदारी 15 अप्रैल से की जायेगी. खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्री लेसी सिंह ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

रबी विपणन मौसम 2020-21 के दौरान दलहनी फसलों में चना और मसूर की खरीदारी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर होनी है. केंद्र सरकार ने चना और मसूर का समर्थन मूल्य 5100 -5100 रुपये प्रति क्विंटल तय किया है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें