1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. liquor business intensified once again after lockdown maximum liquor seized in champaran and patna asj

लॉकडाउन के बाद एक बार फिर से तेज हुआ बिहार में शराब का कारोबार, पू चंपारण और पटना में सबसे अधिक शराब जब्त

मई माह में लॉकडाउन के बाद एक बार फिर से राज्य में शराब के कारोबार में वृद्धि दर्ज हुई है. शराब की बढ़ती तस्करी पर लगाम लगाने के लिए मद्य निषेध, उत्पादन एवं निबंधन की विभाग की ओर से पूरे राज्य में लगातार कार्रवाई की जा रही है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नकली शराब.
नकली शराब.
Prabhat Khabar

पटना. मई माह में लॉकडाउन के बाद एक बार फिर से राज्य में शराब के कारोबार में वृद्धि दर्ज हुई है. शराब की बढ़ती तस्करी पर लगाम लगाने के लिए मद्य निषेध, उत्पादन एवं निबंधन की विभाग की ओर से पूरे राज्य में लगातार कार्रवाई की जा रही है.

जून माह के दौरान पूरे राज्य में शराब की तस्करी पर लगाम लगाने के लिए की गयी कार्रवाई जैसे छापेमारी, केस दर्ज, गिरफ्तारी व शराब बरामदगी को लेकर रिपोर्ट सामने आयी है. जून माह की रिपोर्ट के अनुसार एक माह में पूर्वी चंपारण में सबसे अधिक 12839.90 लीटर और इसके बाद पटना जिले में 10024.50 लीटर शराब पकड़ी गयी है.

इसके साथ ही शराब तस्करी के मामले में मुजफ्फरपुर में 55 और भोजपुर में 51 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जून माह के दौरान मद्य निषेध, उत्पादन एवं निबंधन की विभाग की ओर से सभी जिलों में कार्रवाई की गयी है.

इस दौरान एक माह में एक लाख 15 हजार सात सौ 71 लीटर देशी-विदेशी शराब की जब्ती की गयी है. इस माह में विभाग के निर्देश पर केंद्रीय टीम व पटना की टीम ने मिल कर 9269 जगहों पर छापेमारी की है, जबकि 1224 मामलों में केस दर्ज किये गये हैं.

छापेमारी के बाद शराब तस्करी, उत्पाद, उपयोग के मामले में 655 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. इसके अलावा तस्करी में संलिप्त 324 वाहनों को जब्त किया गया है. इसमें 189 दो पहिया, 38 तीन पहिया, 21 ट्रक और 76 चार पहिया वाहन जब्त किये गये हैं.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें