1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus in bihar covid in bihar hopes to get compassionate benefits to the families of the teachers who died policy is being made asj

बिहार में कोविड से मरे शिक्षकों के परिजन को अनुकंपा लाभ मिलने की उम्मीद, बन रही पॉलिसी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिहार सरकार
बिहार सरकार
फाइल

पटना. कोरोना संक्रमण से मरे शिक्षकों के परिजनों को अनुकंपा पर नियुक्ति मिल सकती है़ हालांकि इस संदर्भ में अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है़ दरअसल नियोजित शिक्षकों के लिए एक अनुकंपा पॉलिसी बनायी जा रही है़

सूत्रों के मुताबिक पॉलिसी पर तकनीकी सहमति के लिए फाइल सामान्य प्रशासन विभाग भेजी गयी है़ इस संदर्भ में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार और प्राथमिक शिक्षक संघ के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष मनोज कुमार के बीच सोमवार को विकास भवन में एक औपचारिक बातचीत हुई़

अपर मुख्य सचिव ने उन्हें बुलाया था़ करीब 40 मिनट चली बातचीत में अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने साफ कर दिया कि कोविड से मरे शिक्षकों को शिक्षा विभाग हर संभव मदद करने के लिए तैयार है. उन्होंने शिक्षक संघ से कहा है कि मृत शिक्षकों की सूची मुहैया कराइए़ शिक्षक संगठन का दावा है कि कोविड काल में प्रदेश में 700 से अधिक शिक्षकों की मौत हुई है़

इस दौरान अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने इपीएफ ऑफीसर से भी अधीनस्थ अफसरों से बातचीत भी करायी़ कहा कि अगर शिक्षक ने इपीएफ की एक भी किस्त भर दी है तो उसे पेंशन की निर्धारित राशि और ढाई हजार रुपये न्यूनतम पेंशन भी दी जाये़ नियोजित शिक्षकों को इपीएफ का लाभ सितंबर 2020 से ही प्रारंभ किया गया है़ इधर कोरोना संक्रमण से मरे शिक्षकों को मुख्यमंत्री रिलीफ फंड से दी जाने वाली राशि भी मिल सकती है़ बशर्ते की मरे शिक्षकों के कोरोना संक्रमण की पॉजिटिव रिपोर्ट हो़

बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि अपर मुख्य सचिव ने आश्वस्त किया कि जल्दी ही वे चिकित्सा विभाग को पत्र लिख कर शिक्षकों को कोरोना वॉरियर के रूप में चिन्हित करने के लिए कहेंगे़ ताकि शिक्षकों को उचित पारिश्रमिक मिल सके़

शिक्षक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि कोविड से मृत शिक्षकों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति के लिए मान्य करने की बात कही है़ उन्होंने आश्वस्त किया है कि नयी पॉलिसी में इसका ध्यान रखा जायेगा़ बातचीत के दौरान माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरिवर दयाल सिंह और सहायक निदेशक अमित कुमार भी मौजूद रहे़

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने कहा कि विभाग कोविड से मरे शिक्षकों के लिए हर संभव मदद करने जा रहा है़ इपीएफ से लेकर हर तरह की वित्तीय मदद करेंगे़ हालांकि शिक्षक संगठन के पदाधिकारी को मृत शिक्षकों की सूची एवं अन्य दस्तावेज लेकर दो दिन बाद फिर बुलाया है़ उस समय निर्णय लिया जायेगा.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें