1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar budget 2021 metro in patna start running by september 2024 many more gifts to the city in budget asj

Bihar Budget 2021: सितंबर 2024 तक चलने लगेगी पटना में मेट्रो, बजट में शहर को मिले कई और उपहार

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पटना में 2024 से ‘मेट्रो से सवारी’ की तैयारी
पटना में 2024 से ‘मेट्रो से सवारी’ की तैयारी
प्रभात खबर

पटना. इस बजट में पूरे राज्य के विकास की बात कही गयी है. हर जिले को कुछ न कुछ मिला है. बजट में पटना के लिए भी बहुत कुछ है.

इनमें गंगा घाटों के सौंदर्यीकरण के अलावा, पटना मेट्रो, आयुष अस्पताल, साइंस सिटी, बापू टावर, विकास प्रबंधन संस्थान, नया समाहरणालय भवन सहित कई योजनाएं शामिल है. इन योजनाओं के पूरा होते ही राजधानी की सूरत बदल जायेगी. सुविधाओं में और वृद्धि होगी.

पटना मेट्रो के निर्माण में आयेगी तेजी

पटना मेट्रो रेल परियोजना का कार्य सबसे पहले स्वीकृत प्रथम चरण के दो कॉरिडोर में किया जाना है, जिसकी कुल लंबाई 32.497 किलोमीटर होगी. पहले कॉरिडोर में पूर्वी-पश्चिमी मेट्रो कॉरिडोर (दानापुर से मीठापुर भाया बेली रोड और रेलवे स्टेशन) की कुल लंबाई 17.933 किलोमीटर है. कहा गया है कि पटना में सितंबर 2024 तक मेट्रो की सुविधा लोगों को मिल जायेगी.

दूसरे कॉरिडोर में उत्तरी-दक्षिणी मेट्रो कॉरिडोर (पटना रेलवे स्टेशन से नया अंतरराज्यीय बस अड्डा भाया गांधी मैदान, पीएमसीएच और राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन) की कुल लंबाई 14.45 किलोमीटर है.

पटना मेट्रो रेल परियोजना के दोनों कॉरिडोर के निर्माण की लागत 11165.96 करोड़ रुपये है. पटना मेट्रो रेल परियोजना का काम सितंबर 2024 तक पूर्ण किया जाना है. इसके निर्माण काम में तेजी आयेगी.

करोड़ों से गंगा नदी तट का विकास

पटना गंगा नदी तट विकास योजना के तहत 336.73 करोड़ की योजना स्वीकृत है. नमामि गंगे के अंतर्गत अब तक सीवरेज नेटवर्क और एसटीपी की 15 योजनाएं, रिवर फ्रंट डेवलपमेंट की एक योजना और घाट सौंदर्यीकरण की दो योजनाएं, सहित कुल 33 योजनाएं (रु. 5684.36 करोड़) को स्वीकृत किया गया है.

50 बेड वाले आयुष अस्पताल के लिए नौ करोड़

पटना सिटी नवाब मंजिल में एक 50 बेड वाले उत्क्रमित आयुष अस्पताल की परियोजना नौ करोड़ रुपये की लागत पर स्वीकृत की गयी है.

पटना राजधानी की साइंस सिटी पर खर्च होंगे 640 करोड़ रुपये: पटना में एपीजे अब्दुल कलाम साइंस सिटी बनायी जा रही है. साइंस सिटी के भवन निर्माण के लिए बनी एक्सपर्ट कमेटी की अनुशंसा पर इसका रिवाइज इस्टीमेट 640 करोड़ रुपये का किया गया है. निर्माण कार्य प्रगति पर है.

इन भवनों का निर्माण कार्य भी प्रगति पर

32.98 करोड़ से सिंचाई भवन, 61.62 करोड़ से विश्वेश्वरैया भवन और 61.46 करोड़ से विकास भवन के आधुनिकीकरण का काम प्रगति पर है. 84.49 करोड़ से बापू टावर निर्माण कार्य चल रहा है. फुलवारी में 164 करोड़ से परिवहन विभाग का वर्कशाप और अन्य भवन का निर्माण शुरू हुआ है.

नये समाहरणालय भवन का होगा काम

पटना में नये समाहरणालय भवन का निर्माण, बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय, पटना संग्रहालय का उन्नयन कार्य, राज्य अतिथि गृह, बोधगया की योजनाओं के के लिए प्रारंभिक कार्यवाही शुरू की गयी है.

न्यायाधीश आवास के लिए दो करोड़ मंजूर

पटना हार्डिंग रोड में न्यायाधीश आवास निर्माण कार्य के लिए कुल 02.12 करोड़ रुपये की नयी प्रशासनिक स्वीकृति दी गयी है, जिसका निर्माण कार्य वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रारंभ होने की संभावना है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें