1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. arrangement for maintenance of solar lights in panchayats cm nitish said solar light factory should be set up in bihar asj

पंचायतों में सोलर लाइट के रखरखाब की होगी व्यवस्था, सीएम नीतीश बोले- बिहार में लगनी चाहिए सोलर लाइट की फैक्टरी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंचायती राज विभाग के अधिकारियों से कहा कि हर पंचायत में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाये जाने को लेकर योजना बनायी गयी है. इसके लिए सभी स्थलों के चयन को लेकर सर्वे ठीक से कर लें. इसके रखरखाव की भी व्यवस्था हो.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
समीक्षा बैठक में सीएम नीतीश
समीक्षा बैठक में सीएम नीतीश
फाइल

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंचायती राज विभाग के अधिकारियों से कहा कि हर पंचायत में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाये जाने को लेकर योजना बनायी गयी है. इसके लिए सभी स्थलों के चयन को लेकर सर्वे ठीक से कर लें. इसके रखरखाव की भी व्यवस्था हो.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सोलर स्ट्रीट लाइट की ज्यादा संख्या में जरूरत होगी. इसके मद्देनजर बिहार में ही इसकी फैक्टरी लगाने की दिशा में काम करें. इससे स्थानीय लोगों को रोजगार भी मिलेगा.

मुख्यमंत्री ने ये निर्देश गुरुवार को एक अणे मार्ग स्थित संकल्प में मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट योजना से संबंधित पंचायती राज विभाग के प्रेजेंटेशन के दौरान दिये. प्रेटेंशन विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने दिया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा का कार्यान्वयन ठीक ढंग से हो, इसकी राशि का पंचायतों में योजनाबद्ध तरीके से उपयोग करें. उन्होंने कहा कि सोलर स्ट्रीट लाइट को लगाये जाने के क्रम में स्थल चयन इस प्रकार हो कि कोई इस योजना से अछूता नहीं रहे.

पंचायत सरकार भवन के दोनों इंट्री प्वाइंट, अस्पतालों सहित अन्य जरूरी जगहों को ध्यान में रखते हुए स्थल का चयन करें. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोगों का उद्देश्य सिर्फ सोलर स्ट्रीट लाइट लगाना ही नहीं है, बल्कि उसका ठीक से रखरखाव भी करना है.

यह हमेशा फंक्शनल रहे, इसके लिए मेंटेनेंस जरूरी है.रखरखाव का प्रावधान जरूर करें. इससे पहले अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने के लक्ष्य, इसके लिए स्थलों का चयन, रखरखाव, वित्तीय प्रबंधन आदि के संबंध में जानकारी दी.

उन्होंने 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा के कार्यान्वयन के संबंध में भी जानकारी दी. उन्होंने इसकी राशि के उपयोग को लेकर प्रस्तावित गतिविधियों की विस्तृत जानकारी प्रेजेंटेशन के बाद दी.

बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार व चंचल कुमार, सचिव अनुपम कुमार और विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह उपस्थित थे, जबकि वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी, मुख्य सचिव त्रिपुरारि शरण, पंचायती राज विभाग के निदेशक डॉ रंजीत कुमार सिंह, ब्रेडा के निदेशक आलोक कुमार सहित अन्य वरीय अधिकारी जुड़े हुए थे.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें