27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

67वीं बीपीएससी में बहाल 20 पदाधिकारियों से होगी पूछताछ, इओयू ने भेजी नोटिस

आर्थिक अपराध इकाइ इओयू ने बिहार लोक सेवा आयोग की 67 वीं प्रारंभिक पेपर लीक मामले में 20 अधिकारियों को नोटिस जारी किया है.

संदिग्ध तरीके से बहाल होने की आशंका संवाददाता,पटना आर्थिक अपराध इकाइ इओयू ने बिहार लोक सेवा आयोग की 67 वीं प्रारंभिक पेपर लीक मामले में 20 अधिकारियों को नोटिस जारी किया है. इन सभी अधिकारियों को इसी महीने पूछताछ के लिए बुलाया गया है. अप्रैल के अंतिम सप्ताह में सभी को इओयू कार्यालय तलब किया गया है. यह सभी अधिकारी राज्य के विभिन्न जिलों में पोस्टेड हैं. इन पर संदिग्ध बहाली की आशंका है.इओयू 2022 में हुए बीपीएससी की 67 वीं परीक्षा में पेपर लीक मामले की जांचकर रही है. इस मामले में बिहार पुलिस सेवा के एक अधिकारी को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. इसी मामले में कई परीक्षा केंद्रों के प्रभारियों से भी पूछताछ की गयी है. परीक्षा शुरू होने से पहले बीपीएससी के प्रश्न- पत्रों के एक सेट की स्कैन कॉपी कथित रूप से प्रसारित करने के आरोप में डीएसपी स्तर के उक्त पदाधिकारी को 23 जून, 2022 को गिरफ्तार किया गया था. गौरतलब है कि आठ मई, 2022 को आयोजित बीपीएससी 67वीं संयुक्त (प्रारंभिक) प्रतियोगी परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक हो गये थे. मामले की जांच का जिम्मा बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (इओयू) को दिया गया था. जिसने अब तक छह सरकारी अधिकारियों समेत 17 लोगों को गिरफ्तार किया है. जिन अधिकारियों को नोटिस देकर तलब किया गया है, उनमें पुलिस उपाधीक्षक, एसडीओ, उत्पाद निरीक्षक आदि शामिल हैं. हालांकि, इओयू के अधिकारी इस बाबत कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक इओयू पदाधिकारियों से परीक्षा पास करने से लेकर नियुक्ति प्रक्रिया की पूरी जानकारी लेगी. सभी से अलग-अलग पूछताछ की जायेगी, जिसका पूर्व के आरोपितों से हुई पूछताछ से मिलान किया जायेगा. क्रॉस वेरिफिकेशन करने के बाद यह स्पष्ट हो पायेगा कि इन पदाधिकारियों की बहाली प्रक्रिया में कोई गड़बड़ी हुई थी या नहीं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें