1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. madhubani
  5. madhubani to delhi not get confirmed railway ticket before august asj

अगस्त से पहले मधुबनी से दिल्ली का नहीं मिलेगा ट्रेन में कंफर्म टिकट, RAC भी जुलाई के अंतिम सप्ताह तक फुल

परदेस आने-जाने वाले यात्रियों को अगस्त माह के प्रथम सप्ताह से कंफर्म टिकट मिलेगा. रेलवे यात्रियों को बेहतर व गुणवत्ता पूर्ण सुविधा उपलब्ध कराने के लिए नित नई योजनाओं को लागू कर रहा है. जिस क्रम में स्टेशन पर यात्री सुविधा को विस्तार करते हुए रेलवे द्वारा लिफ्ट लगाने की कवायद शुरू कर दी गई है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
ट्रेन में प्रवासी की भीड़
ट्रेन में प्रवासी की भीड़
प्रभात खबर

मधुबनी. परदेस आने-जाने वाले यात्रियों को अगस्त माह के प्रथम सप्ताह से कंफर्म टिकट मिलेगा. रेलवे यात्रियों को बेहतर व गुणवत्ता पूर्ण सुविधा उपलब्ध कराने के लिए नित नई योजनाओं को लागू कर रहा है. जिस क्रम में स्टेशन पर यात्री सुविधा को विस्तार करते हुए रेलवे द्वारा लिफ्ट लगाने की कवायद शुरू कर दी गई है. लेकिन विडंबना यह है कि जिला से दिल्ली जाने के लिए महज एक ट्रेन स्वतंत्रता सेनानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस का परिचालन किया जा रहा है. पूर्व में दिल्ली जाने के लिए तीन जोड़ी ट्रेनों का परिचालन होता था.

अनारक्षित टिकट से 1 लाख 50 हजार राजस्व प्राप्ति

वर्तमान समय में जयनगर अमृतसर शहीद व जयनगर अमृतसर सरयू यमुना एक्सप्रेस का रूट परिवर्तित करके परिचालन किया जा रहा है. स्टेशन के आरक्षण काउंटर से प्रतिदिन 800-1000 यात्रियों का आरक्षित व लगभग 1500 यात्रियों का अनारक्षित टिकट निर्गत किया जा रहा है. जिससे रेलवे को प्रतिदिन आरक्षित टिकट से 4 लाख व अनारक्षित टिकट से 1 लाख 50 हजार रुपए राजस्व की प्राप्ति हो रही है.

स्लीपर के किराए से 3 गुना किराया

रेलवे द्वारा जयनगर नई दिल्ली स्वतंत्रता सेनानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस व दरभंगा नई दिल्ली बिहार संपर्क क्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस के 4-4 स्लीपर बोगी को कम कर दिया गया है. इसके जगह दोनों ट्रेनों में 6-6 थर्ड एसी कोच लगा दिया गया है. जिसके कारण रेलवे के राजस्व में तो बढ़ोत्तरी हुई है, लेकिन इन ट्रेनों में स्लीपर में यात्रा करने वाले सामान्य व मजदूर वर्ग के लोगों के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. अब लोगों को स्लीपर की जगह थर्ड एसी में आसानी से टिकट मिल जा रहा है. जिसके एवज में उन्हें स्लीपर के किराए से 3 गुना किराया देने की मजबूरी है.

दिल्ली जाने वाले यात्रियों को केवल दो ट्रेन का ही सहारा

विदित हो कि मधुबनी से नई दिल्ली स्वतंत्रता सेनानी में स्लीपर के लिए ₹575 का टिकट किराया लगता है. जबकि इसी ट्रेन के थर्ड एसी में यह किराया 1505 रुपए का होता है. इतना ही नहीं जिले से दिल्ली के लिए प्रतिदिन स्वतंत्र सेनानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस व सप्ताह में 2 दिन जयनगर आनंद विहार गरीब रथ का परिचालन हो रहा है. जयनगर अमृतसर शहीद एवं सरयू जमुना एक्सप्रेस के दिल्ली रूट में बदलाव किया गया है. जिसके कारण दिल्ली जाने वाले यात्रियों को केवल दो ट्रेन का ही सहारा है.

अगस्त के प्रथम सप्ताह से मिलेगा कंफर्म टिकट

जिला से परदेस आने जाने वाले यात्रियों को अगस्त माह के प्रथम सप्ताह से कंफर्म टिकट उपलब्ध हो पाएगा. रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जयनगर नई दिल्ली स्वतंत्रा सेनानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस, दरभंगा नई दिल्ली बिहार संपर्क क्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस में अगस्त के प्रथम सप्ताह से कंफर्म टिकट मिलेगा. जयनगर आनंद विहार गरीब रथ, जयनगर एलटी पवन एक्सप्रेस, जयनगर अमृतसर शहीद एक्सप्रेस, जयनगर अमृतसर सरयू यमुना एक्सप्रेस मे जुलाई के अंतिम अगस्त सप्ताह से कंफर्म टिकट मिलेगा. इन सभी ट्रेनों में 20 जुलाई से यात्रियों को आर ए सी टिकट उपलब्ध हो सकेगा.

20 जुलाई से‌ कन्फर्म टिकट मिलेगा

वहीं जयनगर सियालदह गंगासागर एक्सप्रेस, जयनगर कोलकाता मिथिलांचल एक्सप्रेस साप्ताहिक, जयनगर राउरकेला, दरभंगा बेंगलुरु बागमती एक्सप्रेस, दरभंगा पुणे एक्सप्रेस में 20 जुलाई से‌ कन्फर्म टिकट मिलेगा. जयनगर पुरी एक्सप्रेस में जुलाई के प्रथम सप्ताह से कन्फर्म टिकट मिलेगा.

प्रतिदिन होता है 5.50 लाख रुपए की टिकट बिक्री

स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे द्वारा लंबे समय के बाद दो आरक्षण काउंटर चालू किया गया है. जिसमें काउंटर नंबर 1 पर दिव्यांग, महिला, बुजुर्ग, गंभीर रूप से ग्रस्त मरीजों को विशेष सुविधा उपलब्ध कराया जाता है. कांउटर नंबर एक से सोमवार से शनिवार को सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक संचालित होता है. जिससे कि यात्रियों को परेशानी नहीं हो.

800-1000 यात्रियों का आरक्षित टिकट निर्गत

रेलवे सूत्रों की माने तो प्रतिदिन दोनों आरक्षण काउंटर से लगभग 800-1000 यात्रियों का आरक्षित टिकट निर्गत किया जाता है. जिससे रेलवे को प्रतिदिन 4 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त होता है. जबकि अनारक्षित टिकट काउंटर से प्रतिदिन 1500 यात्रियों का टिकट निर्गत किया जाता है. जिससे रेलवे को प्रतिदिन 1 लाख 50 हजार रुपए राजस्व प्राप्त होता है.

स्टेशन परिसर में लिफ्ट लगाने का काम शुरू

स्टेशन पर यात्री सुविधाओं का विस्तार करते हुए लिफ्ट लगाने का काम शुरू कर दी गई है. लिफ्ट लगाने का काम पूरा होने से बुजुर्ग व बीमार यात्रियों को एक नंबर प्लेटफॉर्म से दो नंबर व तीन नंबर प्लेटफॉर्म पर जाने में सुविधा होगी. स्टेशन भले ही साफ सफाई में नंबर वन हो पर रेल यात्रियों के मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव है. प्लेटफार्म नंबर 1, 2 व 3 में शौचालय एवं यूरिनल उपलब्ध नहीं है. प्लेटफार्म नंबर एक पर फर्स्ट क्लास एवं सेकंड क्लास प्रतिक्षालय में शौचालय की सुविधा है, लेकिन इसकी सुविधा आम यात्रियों को नहीं मिल रही है.

Prabhat Khabar App: देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, क्रिकेट की ताजा खबरे पढे यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए प्रभात खबर ऐप.

FOLLOW US ON SOCIAL MEDIA
Facebook
Twitter
Instagram
YOUTUBE

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें