18.7 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

लखीसराय के इंजीनियरिंग कॉलेज की छात्रा ने की खुदकुशी, छात्रों ने किया हंगामा, एंबुलेंस में भी तोड़फोड़

वैशाली की रहने वाली छात्रा संजना कॉलेज के हॉस्टल के कमरा नंबर-105 में रहकर पढ़ाई कर रही थी. जहां उसने शनिवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस घटना के बाद कॉलेज के छात्र उग्र हो गए और जमकर हंगामा किया.

लखीसराय जिले के हलसी प्रखंड क्षेत्र के शिवसोना इंजीनियरिंग कॉलेज के गर्ल्स हॉस्टल में शनिवार की सुबह 10 से 11 बजे के बीच एक छात्रा ने गले में फंदा डालकर पंखे से लटककर खुदकुशी कर ली. छात्रा की पहचान वैशाली जिला के भगवानपुर थाना क्षेत्र के अष्टपुर सतपुरा निवासी सुनील चौधरी की पुत्री संजना कुमारी के रूप में की गई है. इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद कॉलेज के छात्र-छात्राएं आक्रोशित हो गये और जमकर बवाल शुरू कर दिया.

छात्रों ने एंबुलेंस में किया तोड़ फोड़

आक्रोशित स्टूडेंट्स द्वारा एम्बुलेंस के लेट से पहुंचने की वजह से उसके साथ भी तोड़फोड़ की की गई. घटना की सूचना मिलते ही एएसपी रौशन कुमार एवं एसडीएम निशांत कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और उग्र छात्रों को समझाने की कोशिश में जुट गये थे. हालांकि आक्रोशित छात्र कॉलेज प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाकर घंटों हंगामा करते रहे. काफी प्रयास के बाद भी छात्र शांत होने को तैयार नहीं थे.

डीएम के आश्वासन पर शांत हुए छात्र

आखिर में जिलाधिकारी अमरेंद्र कुमार कॉलेज पहुंचे और मामले को लेकर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया. इसके बाद घटनास्थल पर ही शव का पंचनामा कराया गया. तब जाकर आक्रोशित छात्र कुछ शांत हुए.

कमरा नंबर-105 में रहती थी छात्रा

बताया जाता है कि वैशाली की रहने वाली छात्रा संजना कॉलेज के हॉस्टल के कमरा नंबर-105 में रहकर पढ़ाई कर रही थी. जहां उसने शनिवार की सुबह करीब दस बजे पंखे में फंदा डालकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली.

Also Read: बिहार: परिवार से वीडियो कॉल पर बात करते-करते युवक ने होटल में लगा की फांसी, पत्नी ने बताई आत्महत्या की वजह

कई मुद्दों को लेकर आक्रोश में थे छात्र

इस घटना के संबंध में एसडीओ डॉ निशांत ने बताया कि घटना की जानकारी पाकर सभी छात्र-छात्राएं अपने-अपने क्लास से बाहर आ गए थे और कॉलेज प्रबंधन के विरोध जमकर हंगामा कर रहे थे. छात्रों के द्वारा बताया जा रहा था कि 14 जुलाई से बिना पुस्तक उपलब्ध कराये सेमेस्टर वन की पढ़ाई प्रारंभ की गयी और अक्तूबर में परीक्षा थी. इसलिए छात्रों का रिजल्ट काफी खराब हुआ था. मृत छात्रा को इस परीक्षा में मात्र दो सीजीपीए मिला था. जिससे छात्रा डिप्रेशन में थी और उसी वजह से यह कदम उठायी है. उन्होंने बताया कि पढ़ाई को लेकर पर्याप्त समय दिये बिना परीक्षा लेने, शिक्षकों की कमी आदि को लेकर छात्र आक्रोशित दिख रहे थे.

मौके पर पुलिस ने किया कैंप

कॉलेज प्रशासन का पक्ष रखते हुए एसडीओ ने कहा कि पाटलिपुत्र इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी से संबंध इस कॉलेज के द्वारा परीक्षा का आयोजन से कोई लेना देना नहीं है. इस पर यूनिवर्सिटी द्वारा ही फैसला लिया जाता है. घटना के बाद से ही गर्ल्स हॉस्टल में ताला लगा दिये जाने से छात्र और भी उग्र हो गये थे. मौके पर एसपी पंकज कुमार, एएसपी रोशन कुमार, थानाध्यक्ष राहुल कुमार आदि भी लगातार कैंप किये हुए थे.

Also Read: जमुई पॉलिटेक्निक कॉलेज की छात्रा ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- मां-बाप से लड़ते-लड़ते मैं थक…

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें