1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. lakhisarai
  5. coronavirus pandemic in india big relief news from bihar amid the threat of covid 19 in lakhisarai corona positive patient reports turn negative

Coronavirus Pandemic in India : बिहार में कोविड-19 से जंग के बीच राहत भरी खबर, लखीसराय जिले के तीन और लोगों ने कोरोना को किया पराजित

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Big Relief News Amid the threat of Covid-19
Big Relief News Amid the threat of Covid-19
FILE PIC

लखीसराय : कोरोना महामारी देश और दुनिया में लगातार अपना कहर बरपा रहा है. आज लगभग पूरा विश्व कोरोना से त्राहिमाम कर रहा है. इसके संक्रमण को रोकने के लिए कई देशों में लॉकडाउन लागू किया गया है. इस सबके बीच, शनिवार को एक बार फिर से बिहार में लखीसराय वासियों के लिए अच्छी खबर निकल कर सामने आयी है. जिले में आइसोलेशन में चल रहे तीन पॉजिटिव मरीजों ने कोरोना को परिजित कर दिया. तीनों मरीज का शनिवार को लगातार दूसरी बार कोरोना टेस्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें जिला प्रशासन के द्वारा बनाये गये आइसोलेशन वार्ड से घर जाने की अनुमति दे दी गयी.

रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद कोरोना पॉजिटिव हुई हलसी की सात साल की एक बच्ची के साथ ही रामगढ़ चौक प्रखंड के गुणसागर व चानन प्रखंड के खुटुकपार निवासी दो अन्य युवकों को सदर अस्पताल परिसर से शनिवार को सिविल सर्जन डॉ आत्मानंद कुमार के नेतृत्व में फूलों की बरसात कर हर्षोल्लास के साथ विदायी दी गयी. मौके पर सिविल सर्जन डॉ कुमार ने तीनों को आगे भविष्य की शुभकानाएं देते हुए कहा कि उनलोगों की धैर्य व साहस का ही परिणाम है कि वे लोग कोरोना जैसे वैश्विक बीमारी पर विजय होने में कामयाब रहे.

उन्होंने लोगों से भी कहा कि धैर्य से काम लें घबरायें नहीं. कोरोना से लड़ा जा सकता है, बशर्ते सही समय पर सामने आकर इसके इलाज में स्वास्थ्य विभाग को सहयोग करें. आज तीनों ने अपने धैर्य व साहस का परिचय देकर ही कोरोना पर विजय प्राप्त की है. हालांकि, उन्होंने तीनों को अभी 14 दिनों तक होम क्वारेंटिन में ही रहने की सलाह दी तथा 14 दिनों के बाद एक बार फिर से अपनी स्वास्थ्य जांच करवाने की बात कही. मौके पर सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ एके सिंह, डीपीएम मो. खालिद हुसैन, सदर अस्पताल के अस्पताल प्रबंधक नंद किशोर भारती सहित अस्पताल के अनेक चिकित्सक व पारा मेडिकल स्टॉफ मौजूद थे.

यहां बता दें कि विगत 24 अप्रैल को मुंगेर की एक महिला जो तेतरहाट थाना क्षेत्र के गुणसागर में अपनी बेटी के यहां इलाज के लिए आयी थी. उसकी रिपोर्ट पटना से पॉजिटिव आने के बाद जिला में उसके संपर्क में आये लोगों की कोरोना जांच करायी गयी थी, जिसमें उक्त महिला का इलाज करने वाले चिकित्सक का एक कंपाउंडर तथा उसका गुणसागर का ही एक अन्य साथी का रिजल्ट कोरोना पॉजिटिव आया था. उसके साथ ही हलसी में सर्वे के दौरान एक बच्ची में कोरोना के लक्ष्ण पाये जाने पर जांच के बाद उसका भी रिजल्ट पॉजिटिव पाये जाने के बाद जिला में हड़कंप मच गया था. जिसके बाद तीनों प्रभावित लोगों के गांवों के साथ साथ शहर में भी बैरिकेटिंग लगाकर प्रशासन ने पूरी सख्ती दिखानी शुरू कर दी थी.

इससे पूर्व भी जिला के सूर्यगढ़ा प्रखंड की एक महिला बिहार के पहले कोरोना पॉजिटिव मुंगेर निवासी के संपर्क में आने से कोरोना का शिकार हुई थी. जो पटना के एनएमसीएच में इलाज के बाद कोरोना को पराजित किया था. अब शेष तीनों मरीजों का भी कोरोना टेस्ट निगेटिव आने के बाद लखीसराय जिला कोरोना के प्रकोप से बाहर निकल सका है, लेकिन पुलिस प्रशासन अपनी सतर्कता में कोई कसर नहीं छोड़ते हुए लोगों से भी पूरी सतर्कता बरतने की अपील कर रहा है.

लॉकडाउन नियम तोड़ने वाले हार्डवेयर दुकानदार पर मामला दर्ज

लखीसराय शहर के मुख्य सड़क स्थित थाना चौक के आगे सिन्हा हार्डवेयर के दुकानदार द्वारा लॉकडाउन का नियम तोड़ने के आरोप में उनपर मामला दर्ज किया गया है. थाना चौक से आगे सिन्हा हार्डवेयर के दुकानदार द्वारा सुबह में दुकान खोलकर जुगाड़ गाड़ी पर हार्डवेयर का समान रखकर कहीं भेजा जा रहा था. पुलिस ने दुकान पर पहुंचकर जुगाड़ गाड़ी पर रखे पाइप, रड आदि जप्त कर लिया एवं हार्डवेयर के दुकानदार पर लॉकडाउन तोड़ने के आरोप सुसंगत धारा के साथ एक मामला दर्ज किया. थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने बताया कि जमानती धारा होने के कारण उसे वेल पर छोड़ दिया गया है. उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा दुकान खोलने का दिन निर्धारित किया गया. निर्धारित दिन पर ही दुकानदार द्वारा दुकान खोला जायेगा. अन्य दिन दुकान खुला रहने पर कार्रवाई की जायेगी.

रेड जोन से आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए बनेगा विशेष क्वारेंटाइन सेंटर

बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार एवं स्वास्थ्य विभाग के आलाधिकारियों की ओर से संयुक्त रूप से शनिवार को विशेष वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राज्य में कोविड-19 वायरस संक्रमण प्रभावित रेड जोन से आ रहे प्रवासी मजदूरों का जिले में आगमन के पश्चात प्रखंड बार विशेष क्वारेंटाइन सेंटर बनाये जाने को लेकर समीक्षात्मक बैठक आयोजित किया गया. इस दौरान मुख्य सचिव की ओर से जिला प्रशासन को निर्देशित किया गया कि देश भर के कई कोविड-19 के रेड जोन प्रभावित इलाकों से प्रवासी मजदूरों का लगातार राज्य के तमाम जिलों में आगमन हो रहा है.

उन्होंने कहा रेड जोन से आने वाले प्रवासी मजदूरों के आगमन के मद्देनजर जिला प्रशासन को अलग से विशेष प्रखंड वाइज क्वारेंटाइन सेंटर बनाया जाना है, ताकि रेड जोन से आने वाले प्रवासी मजदूरों का विशेष स्वास्थ्य परीक्षण एवं निगरानी की जाय. इस बीच मुख्य सचिव के निर्देश के आलोक में जिले के सभी प्रखंडों में रेड जोन इलाकों से आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए विशेष क्वारेंटाइन सेंटर बनाये जाने को लेकर जिला प्रशासन की जिलाधिकारी शोभेंद्र कुमार चौधरी की अध्यक्षता में मैराथन बैठक जारी है. संबंधित आशय की जानकारी जिला जनसंपर्क पदाधिकारी एवं जिलाधिकारी के विशेष कार्य पदाधिकारी ब्रजेश कुमार विकल ने दी.

डीपीआरओ श्री विकल ने बताया कि इस संबंध में जिला प्रशासन की ओर से अंचलवार प्रवासी मजदूरों के आगमन के सूची तैयार कर सभी प्रखंडों में अलग से रेड जोन से आने वाले मजदूरों के लिए क्वारेंटाइन सेंटर बनाये जायेंगे एवं उसी विशेष क्वारेंटाइन सेंटर में रेड जोन से आने वाले मजदूरों एवं अन्य लोगों को क्वरेंटाइन पर रखा जायेगा. संबंधित मामलों को लेकर जिला प्रशासन की ओर से विशेष विचार-विमर्श जारी है. इस बीच वीडियो कांफ्रेंसिंग कार्यक्रम के दौरान समाहरणालय अवस्थित मंत्रणा कक्ष में जिलाधिकारी शोभेंद्र कुमार चौधरी सिविल सर्जन डॉ आत्मानंद कुमार, पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार, डीपीएम मो खालिद हुसैन सहित संबंधित अन्य विभागीय अधिकारीगण भी मौजूद थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें