15.1 C
Ranchi
Saturday, February 24, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeबिहारपटनाGanga vilas cruise के पर्यटकों का ‘यक्षिणी’ पर आया दिल, जाते-जाते कहा...

Ganga vilas cruise के पर्यटकों का ‘यक्षिणी’ पर आया दिल, जाते-जाते कहा…

Ganga vilas cruise में सफर कर रहे विदेशी पर्यटक जब मंगलवार को बिहार म्यूजियम पहुंचने, तो उनका जोरदार स्वागत हुआ. म्यूजियम के मेन गेट पर बड़ी संख्या में आम लोग और एक पार्टी विशेष के कार्यकर्ताओं ने सैलानियों को गुलाब का फूल भेंट कर स्वागत किया.

Ganga vilas cruise में सफर कर रहे विदेशी पर्यटक जब मंगलवार को बिहार म्यूजियम पहुंचने, तो उनका जोरदार स्वागत हुआ. म्यूजियम के मेन गेट पर बड़ी संख्या में आम लोग और एक पार्टी विशेष के कार्यकर्ताओं ने सैलानियों को गुलाब का फूल भेंट कर स्वागत किया. अंदर पहुंचने पर बिहार म्यूजियम व पूर्वी क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र, भारत सरकार द्वारा म्यूजियम के प्रवेश द्वार पर परंपरागत तरीके से उनका स्वागत किया गया. सैलानियों के इस दल में स्विट्जरलैंड के 27 और जर्मनी के पांच सैलानी शामिल थे. उन्होंने बिहार म्यूजियम में लगभग डेढ़ घंटे तक समय व्यतीत किया.

ऑडियो विजुअल दी गयी कई जानकारी

बिहार म्यूजियम के ओरियेन्टेशन गैलरी के साथ-साथ विभिन्न गैलरी में प्रदर्शित पुरा अवशेषों को उन्होंने देखा और जानकारी ली. ओरिएंटेशन गैलरी में ऑडियो विजुअल माध्यम से बिहार के गौरवशाली इतिहास से उनका परिचय कराया गया. हिस्ट्री गैलरी में पाषाण काल के पत्थरों से लेकर भगवान बुद्ध की विभिन्न कालखंडों में बनी मूर्तियों जो भारतीय उपमहाद्वीप में कई जगहों से बरामद की गयी हैं को देखा.

पौराणिक अवशेषों को देख हुए रोमांचित

यहां प्रदर्शित यक्षिणी की मूर्ति को वे काफी देर तक मंत्र-मुग्ध होकर निहारते रहें. उन्होंने देश-विदेश से इकट्ठा की गयीं अद्भुत ऐतिहासिक धरोहरों, मूर्तियों, कलाकृतियों को बड़े ध्यान से देखा. बिहार म्यूजियम में सहेजे गए अद्भुत पौराणिक अवशेषों को देखकर सैलानी काफी रोमांचित हुए. उन्होंने बिहार संग्रहालय के आर्किटेक्चर की भी जमकर तारीफ की और इसे विश्व का अद्वितीय म्यूजियम बताया. विदेशी सैलानियों ने बिहार म्यूजियम में जमकर तस्वीरें भी ली और इस पल को यादगार बनाया.

बिहार की लोक संस्कृति से हुए परिचित

बिहार म्यूजियम की विभिन्न गैलरी को देखने के बाद विदेशी सैलानियों ने बिहार म्यूजियम के मुक्तावकाश मंच में पूर्वी क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र के सौजन्य से आयोजित संगीत एवं नृत्य का भी आनंद लिया. बिहार के कलाकारों ने नृत्य एवं लोक गायन के माध्यम से बिहार की पारंपरिक लोक संस्कृति को बारहमासा नृत्य के माध्यम से प्रस्तुत किया. उन्होंने अपनी प्रस्तुति में चैता, छठ गीत, वट सावित्री पूजा गीत, होली गीत, कजरी गीत, विदाई गीत, सोहर गीत गाया. जिसमें मुख्य कलाकार हरिकृष्ण सिंह मुन्ना और सुदामा पांडेय समेत कई अन्य ने शानदार प्रस्तुति दी. इसके गायक मो. जॉनी और श्वेत प्रीति थी. प्रस्तुति का नृत्य निर्देशन जितेंद्र कुमार ने किया जबकि सूत्रधार सुदीपा बोस थी.

वाहे गुरु की जाप कर सैलानियों ने किया अरदास

श्री गुरु गोविंद सिंह जी महाराज की जन्मस्थली तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब में मंगलवार को हाजिरी लगाने स्विट्जरलैंड व जर्मनी के 31 विदेशी सैलानी पटना सिटी पहुंचे. तख्त साहिब के मुख्य गेट पर उनके आते ही, ढोल नगाड़ों की थाप के साथ पुष्प बरसा की गयी और गुलाब भेंट कर उनका स्वागत किया गया. ढोल ताशे की थाप पर थिरकते सैलानी को तिलक लगा अभिवादन करने के साथ राजस्थानी चुनरी ओढ़ायी गयी. नमामि गंगे के प्रदेश संयोजक प्रभाकर मिश्र की अध्यक्षता में भाजपा की ओर से आयोजित कार्यक्रम में सांसद रामकृपाल यादव, महापौर सीता साहू, प्रदेश मंत्री रूप नारायण मेहता, प्रवक्ता राजेश साह, महामंत्री विनय केसरी, प्रदीप काश ने सैलानियों का स्वागत किया. इस दौरान स्कूली बच्चों की टोली भी थी. आयोजन में सन्नी यादव, सुरेश पटेल, संजय यादव, सरोज जायसवाल, कांति केसरी, शशि बलिदहार, संगीता गुप्ता समेत अन्य उपस्थित थे. प्रशासन की ओर से एसडीओ मुकेश रंजन ने सैलानियों का स्वागत किया.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें