26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सड़क हादसे में टोटो चालक की हुई मौत

सड़क हादसे में टोटो चालक की हुई मौत

घर का इकलौता कमाऊ सदस्य था अशोक बौंसी. बौंसी- भागलपुर मुख्य मार्ग पर गुरुधाम के समीप सड़क दुर्घटना में 40 वर्षीय टोटो चालक की गुरुवार को मौत हो गयी. जानकारी के अनुसार सुबह करीब 5:30 बजे ढाका मोड़ के समीप छोटी ढाका निवासी स्व. राज किशोर साह का पुत्र अशोक कुमार साह अपना टोटो वाहन लेकर मंदारहिल स्टेशन आ रहा था. बताया जाता है कि यहां ट्रेन से उतरने वाले पैसेंजर को लेकर गंतव्य की ओर जाता. गुरुधाम के समीप पहुंचने के साथ ही बौंसी की ओर से जा रहे अज्ञात हाईवा ने टोटो में जोरदार टक्कर मार दी. घटना के बाद टोटो का चालक सड़क किनारे गिर पड़ा. जिससे उसके सिर में गंभीर चोटें आयी. बताया जाता है कि मौके पर ही चालक की मौत हो गयी. घटना के बाद अज्ञात हाइवा वहां से फरार होने में सफल रहा. जबकि इस हृदय विदारक घटना को देखकर आक्रोशित लोगों ने कुछ समय के लिए मुख्य मार्ग को जाम कर दिया था. घटना की जानकारी मिलने के बाद बौंसी पुलिस के द्वारा घटनास्थल पर पहुंचकर शव को जब्त कर लिया गया और पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया गया. परिजनों पर टूटा गमों का पहाड़ 40 वर्षीय टोटो चालक की मौत के बाद परिजनों पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा है. मालूम हो कि पुलिस के द्वारा आक्रोशित भीड़ को समझाने के बाद लोगों के द्वारा जाम हटा दिया गया, लेकिन घर का इकलौता कमाऊ बेटा की मौत के बाद परिजन बदहवास हो गये हैं. घटना के बाद मां सुशीला देवी, पत्नी संगीता देवी, 15 वर्षीय पुत्र प्रीतम, 13 वर्षीय पुत्र कृष्ण कुमार और 11 वर्षीय पुत्री चांदनी कुमारी का रो-रो कर बुरा हाल है. परिजनों के द्वारा बताया गया कि टोटो वाहन चलाकर ही घर का गुजारा के साथ-साथ बच्चों की पढ़ाई लिखाई भी होती थी. दुर्घटना में सिर में चोट लग जाने की वजह से मौके पर ही उनकी मौत हो गयी थी. सुबह के समय टोटो खाली रहने की वजह से एक बड़ा हादसा भी टल गया. अन्यथा अन्य यात्री भी दुर्घटना के शिकार हो सकते थे. जानकारी हो कि बौंसी- हंसडीहा नेशनल हाइवे पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में ओवरलोडेड ट्रक चलते हैं. जिसकी रफ्तार इतनी ज्यादा होती है कि हल्की सी ठोकर लगने पर बचना मुश्किल हो जाता है. स्थानीय लोगों के द्वारा ओवरलोडेड वाहनों पर रोक लगने के साथ-साथ रफ्तार पर विराम लगाने की मांग की गयी है ताकि इस तरह की दुर्घटनाओं से बचाव हो सके.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें