Advertisement

simdega

  • Jul 13 2019 1:36AM
Advertisement

ठाकुरबाड़ी लौटे भगवान जगन्नाथ

सिमडेगा : जिले में शुक्रवार को घुरथी रथ यात्रा धूमधाम से निकाली गयी. मौसीबाड़ी से भगवान जगन्नाथ भाई बलभद्र व बहन सुद्रभा के विग्रहों को रथ पर सवार कर उनके घर ठाकुरबाड़ी पहुंचाया गया. इस दौरान रथ खींचने के लिए श्रद्धालुओं में होड़ लगी रही. रथ यात्रा के दौरान प्रसाद का भी वितरण किया जा रहा था. लोग जगन्नाथ स्वामी के जयकारे लगा रहे थे.

 
सिमडेगा में रामजानकी मंदिर स्थित मौसीबाड़ी से सभी विग्रहों को रथ में स्थापित कर रथ यात्रा निकाली गयी. रथ यात्रा में शामिल लोग मुख्य पथ, नीचे बाजार, भट्ठीटोली, खैरनटोली होते हुए टुकुपानी स्थित जगन्नाथ मंदिर पहुंचे, जहां विधि विधान के साथ सभी विग्रहों को जगन्नाथ मंदिर में स्थापित किया गया. इस अवसर पर रामजानकी मंदिर परिसर में श्याम मित्र मंडल की ओर से भंडारा का आयोजन किया गया.
 
कोलेबिरा. कोलेबिरा में घुरती रथ यात्रा के साथ ही नौ दिवसीय रथ मेला भी संपन्न हो गया. कोलेबिरा मौसीबाड़ी  से भगवान जगन्नाथ स्वामी, भाई बलभद्र व बहन सुभद्रा  के विग्रह को रथ में सवार कर रथ खींच कर भंवरपहाड़गढ़ स्थित मंदिर ले जाया गया. मंदिर में पंडित मनोज पति  ने विधि-विधान से विग्रहों को स्थापित किया. कार्यक्रम को सफल बनाने में  पुरेंद्र सिंह, अमरनाथ सिंह, तपेश्वर सिंह, दिलेश्वर सिंह ,जनेश्वर बिल्हौर, जीतन साहू  व अभिमन्यु सिंह के अलावा अन्य लोगों का महत्वपूर्ण योगदान रहा.
 
बानो. कोलेबिरा प्रखंड के लचरागढ़ स्थित देवी मंडप स्थित  मौसीबाड़ी में घुरती रथ यात्रा निकाली गयी. इस अवसर पर भंडारा का आयोजन किया गया. भंडारा को सफल बनाने में जगरनाथ पंडा, भरतु दुबे, सुदर्शन दुबे, संजय दुबे, विनित पंडा, अमित पंडा सहित अन्य की भूमिका सराहनीय रही. वहीं हुरदा में भी रथ यात्रा निकाली गयी. 
 
जलडेगा. जलड़ेगा, परबा तथा कोनमेरला में भी घुरती रथ यात्रा निकाली गयी. विधि-विधान के साथ भगवान के विग्रहों की पूजा कर रथ पर सवार किया गया, फिर रथ को खींच कर मौसीबाड़ी से पुन: जगन्नाथ मंदिर वापस लाया गया. जलडेगा में सामाजिक कार्यकर्ता सुभाष साहू, रामेश्वर सिंह, हेमशरण सिंह, रामावतार अग्रवाल, अमित गोयल, विश्वनाथ साहू, पन्नालाल साहू, बसंत साहू, कमल अग्रवाल, प्रदीप अग्रवाल, गोविंद अग्रवाल सहित अन्य लोगों का सराहनीय योगदान निभायी.
 
वहीं कोनमेरला रथ यात्रा के आयोजन में हरि ओम बाबा,  रामनिवास सिंह, तिलकधारी सिंह,प्रदीप सिंह, जितेंद्र झोरा, गोविंद दुबे, गोंरांगो दुबे सहित अन्य लोगों की भूमिका सराहनीय रही. परबा घुरती रथ यात्रा के आयोजन में विश्वनाथ, युगल किशोर नाथ, सोनु नाथ, सुरेंद्र साहू सहित कई अन्य लोगों ने अहम भूमिका निभायी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement