Advertisement

siliguri

  • Sep 12 2019 1:39AM
Advertisement

विकास कार्य पर कुल 74 करोड़ खर्च किये जा रहे

विकास कार्य पर कुल 74 करोड़ खर्च किये जा रहे

 2020 तक विकास कार्य पूरा करने का लक्ष्य

 
कर्सियांग : राज्यसभा सांसद शांता छेत्री ने कर्सियांग क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया. इस दौरान पीडब्लूडी के असिस्टेंट इंजीनियर लाडेंला लामा, सब-असिस्टेंट इंजीनियर शीतल तामांग की उपस्थिति रही. सांसद श्रीमती छेत्री ने बताया कि सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दार्जिलिंग पहाड़ी क्षेत्र को विकसित करने के लिए विविध परियोजनाओं का शुभारंभ किया. इसके तहत कर्सियांग क्षेत्र में मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए अंजुमन-ई-इस्लामिया का भवन दो करोड़ 15 लाख रुपये की लागत से, गोरामुमो के संस्थापक अध्यक्ष व दार्जिलिंग गोरखा पार्वत्य परिषद के पूर्व प्रशासक सुवास घीसिंग के नाम पर डावहिल में सार्वजनिक भवन दो करोड़ 97 लाख रुपये की लागत से, अग्निकांड की चपेट में आने से ध्वस्त हुए बंगाली समुदाय के लोगों का राज राजेश्वरी भवन एक करोड़ 15 लाख रुपये की लागत से (प्रथम चरण के कार्य में 59 लाख रुपये खर्च हुआ है. दूसरे चरण में 56 लाख रुपये का कार्य बाकी है ), डावहिल में प्रेसिडेंसी कॉलेज का हब् (इसमें कॉलेज सहित दो सौ छात्र-छात्राओं के लिए हॉस्टल व शिक्षण कर्मचारियों के लिए आवास शामिल है) आदि का निर्माण कार्य हो रहा है.
 
इसकी कुल लागत खर्च 74 करोड़ रुपये है. यह वर्ष-2020 तक निर्माण हो जायेगा. इसका निर्माण कार्य पूरा होते ही क्रमबद्ध रूप से उद्घाटन किया जायेगा.
 
 उन्होंने बताया कि उत्तर बंगाल के नगर विकास मंत्री रवीन्द्रनाथ घोष इसका क्रमबद्ध रूप से उद्घाटन करेंगे. वर्तमान में सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश पर कर्सियांग क्षेत्र में हो रहे विकासमूलक कार्यों के देखरेख की जिम्मेदारी सांसद शांता छेत्री को दी गयी है. उन्होंने बताया कि विकासमूलक कार्यों के निरीक्षण के दौरान उन्होंने विविध इलाकों में हो रही विकासमूलक कार्यों को गुणस्तरीय पाया. जैसे-जैसे कार्य पूर्ण होता जायेगा, वैसे-वैसे क्रमवद्ध तरीके से इसका उद्घाटन करने का कार्य किया जायेगा.
 
विपक्षी पार्टी द्वारा बीच-बीच में तृणमूल पार्टी को हिंसा की राजनीति करनेवाला पार्टी कहे जाने की बात को उन्होंने सीधे तौर से खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि तृणमूल पार्टी हिंसा करनेवाला दल नहीं है. हिंसा की राजनीति पर यह विश्वास नहीं करता. यह पार्टी शांति की राजनीति पर विश्वास करती है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement