Advertisement

saharsa

  • Oct 17 2019 7:41PM
Advertisement

नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा लालू प्रसाद से डरते है : तेजस्वी

नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा लालू प्रसाद से डरते है : तेजस्वी
तेजस्वी यादव के साथ जफर सहित अन्य

सहरसा : बिहार के सहरसा में गुरुवार को सलखुआ स्थित महंत मिट्ठू दास उच्च विद्यालय में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सूबे के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने एनडीए सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आज डिग्री लेने के बाद भी नौकरी नहीं मिल रहा है. हम नौजवानों से वादा करते है कि आपलोग मेरे हाथों को मजबूत करे, हम सभी को रोजगार दिलवायेंगे. राज्य में कई लाख पद खाली है उसे भरने का काम करेंगे.

तेजस्वी यादव ने कहा कि जफर आलम पार्टी के वफादार सिपाही है. हर बार सिमरी बख्तियारपुर की जनता ने हमें प्यार देने का काम किया है. 21 तारीख को लालटेन को वोट दे और लालू जी के हाथ मजबूत करे. उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि हम सभी लोकसभा चुनाव हारे नहीं, हराये गये. तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री की सभा में आदमी नहीं दिखता था और हमारी सभा में तिल रखने की जगह नहीं मिलती थी. लेकिन, हमें साजिश के तहत हराया गया. आप वोट दीजिये, चुनाव में हार जीत लगा रहता है. हमलोग निराश नहीं है क्योंकि हमें मालूम है कि लालू जी आपके दिल में बसते है. हमें पूरा विश्वास है कि जफर आलम जीतेंगे.

तेजस्वी ने कहा कि केंद्र सरकार ने लालू जी को जेल में डाला गया और आज जेल में बीमार है, लेकिन आजतक लालू जी ने विचार से समझौता नहीं किया. राजद ने आज तक सांप्रदायिक शक्ति से समझौता नहीं किया. जब लालू जी डरे नहीं और झुके नहीं तो उनके बेटे-बेटियों को फंसाया गया. नरेंद्र मोदी जी सबसे ज्यादा लालू जी से ही डरते है. लालू जी को मजबूत करने के लिए सरकार बदलना होगा. उन्होंने कहा कि यदि जफर जी जीतेंगे तो लालू जी मजबूत होंगे. लालू जी मजबूत होंगे तो हर कोई मजबूत होगा.

उन्होंने कहा कि आज के समय में मंदिर, मस्जिद, इमरान, पाकिस्तान का हल्ला किया जा रहा है. एक तरफ बाढ़ और सुखाड़ है, लेकिन कोई देखने वाले नहीं है. महंगाई चरम सीमा पर है. सत्तर साल में सबसे बड़ी मंदी आयी है. कारखाने बंद हो रहे है. जो मजदूर दूसरे राज्य में गये वह भी लौट कर आ रहे है. जाति प्रमाण पत्र तक बनाने में भी घूस दिए नहीं काम नही होता है. सब कोई इस सरकार में परेशान है.

तेजस्वी ने आगे कहा कि बात करे शराबबंदी की तो अभी बिहार में होम डिलीवरी जारी है. 200 का 1500 में मिल रहा है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने चोर दरवाजे से बीजेपी को सत्ता में लाया. आज डबल इंजन की सरकार का एक इंजन भ्रष्टाचार और एक अपराध में है. सुपौल में दो बहनों का रेप हुआ. दिनोंदिन घटनायें बढ़ रही है. दंगा- फसाद और मॉब लिंचिंग जारी है. कुर्सी के लिए वह कुछ भी कर सकते है. आजकल 25 हजार के स्कूटी पर 30 हजार का चालान हो रहा है. जो गरीब आदमी है वह परेशान है.

उन्होंने कहा कि पटना में अतिक्रमण के नाम पर झुग्गी झोपड़ियों को हटाया जा रहा है. गरीब मजदूरों को नीतीश कुमार उजाड़ने में लगे. लालू जी इनको बसाने का काम करते थे. हम सभी जाति-धर्मों के लिए काम करेंगे. हिंदू-मुसलमान के चक्कर में नहीं रहना है. इस देश की यही खूबसूरती और पहचान है. इस संस्कृति को बिगड़ने मत दीजियेगा.

इसके पूर्व सभा को संबोधित करते हुए कम्युनिस्ट नेता ओम प्रकाश नारायण ने कहा कि 2014 में नरेंद्र मोदी ने हमसे जो वादा किया उन वादों को भूला 2019 में सिलेबस बदल दिया. आजादी के लड़ाई में जिनके खून बहे वह सभी जाति और धर्म के थे. बंद गले का कोट और चूड़ीदार पायजामा पहनने से कोई पंडित नेहरू हो जाता है. आज नमो देश को बेच रहे है.

वहीं लोजद नेता रितेश रंजन ने कहा कि अंग्रेजों की तर्ज पर एनडीए समाज में फूट डाल चुनाव जीतना चाहती है. बापू सेवा आश्रम की जमीन को हड़पने वाले और हत्याओं की साजिश रचने वाले जनता के वोट के हकदार नहीं हो सकते. सभा की अध्यक्षता रतिलाल यादव और संचालन विनोद यादव ने किया.

महगठबंधन के प्रत्याशी जफर आलम ने कहा कि जब गरीबो का राज था और लालू-राबड़ी मुख्यमंत्री थे. उस दौरान रिलीफ क्विंटल-क्विंटल मिलता था. अब रिलीफ के लिए चक्कर लगाना पड़ता है. हम हमेशा आपके बीच रहते है. हम ना रात देखते है ना दिन देखते है. आज हमारे नेता को साजिश के तहत जेल में रख दिया गया. हाथ जोड़ कर निवेदन करता हूं कि आठ महीने के लिए मौका दे. मैं गरीब का विधायक बनूंगा. 21 को दो क्रमांक पर लालटेन पर बटन दबाए.

इस मौके पर पूर्व मंत्री अशोक सिंह, महिषी विधायक अब्दुल गफूर, मधेपुरा विधायक प्रो चंद्रशेखर, पिपरा विधायक यदुवंश यादव, विधायक अरुण यादव, शक्ति यादव, सुरेश यादव, हैलाल असरफ, मीर रिजवान, धीरेंद्र यादव, लक्ष्मीकांत शर्मा, बरकत अली , साकिब अशरफ, विनोद यादव, बिजय यादव, राजेंद्र यादव, मो फैजुर रहमान, गुंजन देवी, विक्रांत, मिथिलेश विजय सहित अन्य मौजूद थे.

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement