सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला: नयी शर्तों को साथ मुंबई में फिर से खुलेंगे डांस बा..
Advertisement

ranchi

  • Jan 12 2019 2:25AM

रांची : गलत कागजात दिखा 56.48 लाख रुपये ले लिया मुआवजा

रांची  : गलत कागजात दिखा 56.48 लाख रुपये ले लिया मुआवजा
रांची  : बिरसा मुंडा एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के लिए जमीन अधिग्रहण के नाम पर मुअावजा घोटाला प्रकाश मेें आया है़  एयरपोर्ट के निकट  हेेथू मौजा के खाता संख्या-30 के प्लॉट 1298, 1299 व 1301 का 56़ 48 लाख रुपये का मुआवजा रुक्मणी देवी और उर्मिला देवी ने लिया है, जबकि जमीन दिनेश प्रसाद की है़  इस संबंध में दिनेश प्रसाद ने कोतवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी है़  कोतवाली पुलिस मामले की जांच कर रही है़ 

गलत शपथ व बंध पत्र प्रस्तुत करने का आरोप 
 दिनेश प्रसाद ने शिकायत में लिखा है कि हिनू मेन रोड होटल क्राउन प्लाजा के पीछे बुधु सिंह बिल्डिंग निवासी विशेशर सिंह की पत्नी रुक्मणी देवी और उर्मिला देवी द्वारा जालसाजी कर दो मई 2012 को गलत शपथ पत्र  रांची समाहरणालय मेें दाखिल किया गया.
 
 इसके बाद  पुन: 18 सितंबर 2012 को गलत बंध पत्र जिला भू-अर्जन पदाधिकारी के समक्ष  दाखिल कर गलत तरीके से दो खंडों में 56,48,966 रुपये (14़ 15 लाख तथा 42़ 33 लाख) बतौर मुआवजा ले लिया़    दिनेश प्रसाद का कहना है कि रुक्मणी  देवी  व उर्मिला देवी द्वारा दिये गये शपथ पत्र व बंध पत्र गलत है़ं  
 
पत्नी और पुत्र का नाम छिपा कर किया दावा 
 कहा कि उनके कागजात से यह स्पष्ट हो जायेगा कि दोनाें महिलाओं ने जालसाजी की है़   शपथ पत्र व बंध पत्र में रुक्मणी  देवी  व उर्मिला देवी ने खुद को स्व बुधु सिंह की उत्तराधिकारी के रूप में पेश कर दावा किया है कि वे दोनों बहनें उनकी उत्तराधिकारी है़ं  
 
 स्व बुधु सिंह की  पत्नी मनोतरणी देवी व पुत्र मंशा सिंह उर्फ राजेश सिंह का नाम उनलोगों ने षडयंत्र के तहत छोड़ दिया है़, जबकि दो मई 2012  को दाेनों जीवित थे़    
 
मंशा सिंह का  परिवार आज भी यहीं है़   मनोतरणी देवी का निधन 2015 में हो गया था. मनोतरणी देवी ही बुधु सिंह की पत्नी थी. इसकी पुष्टि मतदाता सूची, मतदाता पहचान पत्र व अन्य कागजात से भी होती है़    
 
दो महिलाओं ने खुद को उत्तराधिकारी बता ली राशि
जमीन मालिक िदनेश प्रसाद ने कहा : रुक्मणी  देवी  और उर्मिला देवी द्वारा दिये गये शपथ पत्र व बंध पत्र गलत है
 
जमीन  पर कई रैयतों का दखल-कब्जा
हेथू की उक्त जमीन  पर कई रैयतों का दखल-कब्जा है़  इसी में दिनेश प्रसाद की भी जमीन है़   दखल-कब्जा की जांच के लिए सीओ नामकुम को आदेश दिया गया था, लेकिन रूक्मणी देवी व उर्मिला देवी ने अपने शपथ व बंध पत्र में इस तथ्य काे छिपा दिया था.  इधर दिनेश प्रसाद ने कोतवाली पुलिस से प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच करने की मांग की है़
 

Advertisement

Comments

Advertisement