Advertisement

ranchi

  • Apr 16 2019 7:08AM

रांची : पूर्व मंत्री योगेंद्र साव ने सरेंडर किया, होटवार जेल भेजे गये

रांची : पूर्व मंत्री योगेंद्र साव ने सरेंडर किया, होटवार जेल भेजे गये
रांची : पूर्व मंत्री योगेंद्र साव ने सोमवार को एजेसी एसएस प्रसाद की अदालत में सरेंडर कर दिया. योगेंद्र साव की अोर से अदालत में जमानत याचिका भी दाखिल की गयी, जिसे सुनवाई के बाद खारिज कर दिया गया. अदालत ने साव को 23 अप्रैल तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. 
 
योगेंद्र साव बड़कागांव थाना कांड संख्या 228/16 सहित अन्य मामलों में आरोपी हैं. पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने उनकी सशर्त जमानत रद्द कर दी थी अौर निचली अदालत में सरेंडर करने को कहा था. सुप्रीम कोर्ट ने पाया था कि योगेंद्र साव ने जमानत की शर्तों का उल्लंघन किया है. आज कोर्ट में सरेंडर के समय योगेंद्र साव की दो बेटियां (अधिवक्ता अंबा प्रसाद सहित) भी मौजूद थी. 
 
अंबा प्रसाद ने कहा कि हमारी अोर से शर्तों का उल्लंघन नहीं हुआ था, पर सुप्रीम कोर्ट में हमारे अधिवक्ता की अोर से हमारा पक्ष ठीक से नहीं रखा जा सका. गौरतलब है कि एक अक्तूबर 2016 को हजारीबाग के बड़कागांव में एनटीपीसी के भूमि अधिग्रहण के खिलाफ चल रहे आंदोलन के दौरान योगेंद्र साव सहित अन्य के खिलाफ केस दर्ज हुआ था. 
 
बेटियों की भर आयी आंखें, दिया दिलासा : न्यायिक हिरासत में भेजने के समय योगेंद्र साव की दोनों बेटियों की आंखें भर आयीं. अंबा व उसकी बहन पिता को देख कर रोने लगी. योगेंद्र साव ने अपनी दोनों बेटियों को गले लगाकर दिलासा दिया.
 

Advertisement

Comments

Advertisement