ranchi

  • Dec 13 2019 5:38AM
Advertisement

रांची विधानसभा क्षेत्र : सुस्त रही मतदान की रफ्तार, वोट देने घरों से कम निकले मतदाता

रांची विधानसभा क्षेत्र : सुस्त रही मतदान की रफ्तार, वोट देने घरों से कम निकले मतदाता
2.17 लाख लोग वोट देने नहीं निकले
बूथ नंबर 132 की इवीएम हुई खराब
जिला प्रशासन की व्यवस्था हवा-हवाई 
बूथ 74 पर बिजली कटने से परेशानी 
 
रांची : रांची विधानसभा का क्षेत्र पिस्का मोड़ से लेकर चुटिया तक और कांके रोड सीएम आवास से लेकर हरमू नदी तक है. मेन रोड, पुरुलिया रोड, ओवरब्रिज, लालपुर और रेडियम रोड का इलाका रांची विधानसभा में आता है. यह पूर्ण रूप से शहरी विधानसभा है. रांची में कुल 431411 वोट हैं. इनमें से करीब दो लाख 17 हजार मतदाता वोट देेने नहीं निकले. रांची में 49.1 प्रतिशत मतदाता हुआ. शहरी क्षेत्र होने के बावजूद यहां सुबह से ही मतदान की रफ्तार सुस्त रही. 
 
कुछ उत्साही मतदाता पहला वोटर का प्रमाण पत्र पाने के लिए सुबह छह बजे मतदान केंद्र जरूर आ गये थे, पर आठ बजते-बजते मतदान सुस्त होने लगा. स्थिति यह थी कि सुबह नौ बजे तक रांची विधानसभा में सिर्फ 10.64 प्रतिशत मतदान पड़ा था. शाम पांच बजे तक मतदान की स्थिति कमोबेश यही रही. कुछ इलाकों चुटिया, किशोरगंज, रातू रोड, न्यू मधुकम, मधुकम, हिंदपीढ़ी  में मतदान केंद्रों पर अच्छी खासी भीड़ देखी गयी, पर अपर बाजार, गांधी चौक, लालपुर, सर्कुलर रोड व एटीआइ में मतदाताओं की लाइन नहीं मिली.  रांची में कुछ जगहों पर आधे से एक घंटे तक इवीएम खराब होने की शिकायत मिली. 
 
इरगू टोली संत ज्ञानोदय स्कूल स्थित बूथ संख्या 132 की इवीएम दिन के 12.45 बजे खराब हो गयी. उस समय तक 411 वोट पड़ चुके थे. बाद में भाजपा प्रत्याशी सह विधायक सीपी सिंह वहां पहुंचे. उन्होंने एसडीओ से बात की, तब जाकर इवीएम को बदला गया. दिन के 2.25 बजे दोबारा यहां मतदान आरंभ हो सका.  प्रशासन द्वारा दिव्यांगों व वृद्ध मतदाताओं के लिए वाहन की व्यवस्था किये जाने की बात कही गयी थी, पर कहीं भी प्रशासन की यह व्यवस्था नहीं दिख रही थी.  
 
चुटिया क्षेत्र के लोगों में उत्साह कम देखा गया :  चुटिया स्थित महादेव मंडा बूथ, कृष्णापुरी स्थित सरस्वती शिशु मंदिर बूथ व ओवरब्रिज स्थित बीएसवी स्कूल की हालत तो यह थी कि लोग आने के साथ ही वोट देकर निकल जा रहे थे. हालांकि दिन के एक बजे के बाद मतदाता में थोड़ी तेजी अायी. 
 
रातू रोड से लेकर अोटीसी ग्राउंड के बूथों पर  मतदाता काफी उत्साहित दिखे.   प्राथमिक विद्यालय  पिस्का मोड़ स्थित बूथ संख्या-74 पर बिजली कटने के बाद अंधेरे में वोटिंग  होती रही. मेट्रो गली में दिन भर  गहमागहमी का माहाैल बना रहा.  केबी गर्ल्स बालिका उच्च विद्यालय, श्रद्धानंद सेवाश्रम विद्यालय,  गाैरीदत्त मंडेलिया उच्च विद्यालय, श्रद्धानंद प्राथमिक विद्यालय में लगभग  16 बूथों पर मतदान होता रहा. उम्मीदवारों व पार्टियों के अभिकर्ता,  कार्यकर्ता आदि की भीड़ लगती रही. 
 
यहां पर रातू रोड व मेट्रो गली में  ट्रैफिक जाम होता रहा.  दिन के लगभग 1.30 बजे  झामुमो उम्मीदवार महुआ माजी अपने समर्थकों के साथ केबी गर्ल्स स्कूल के पास  पहुंची. बूथ के अंदर श्रीमती माजी के साथ समर्थक भी अंदर जाने लगे. इस पर  थोड़ा हो हंगामा हुआ, लेकिन मामला शांत हो गया. लगभग तीन बजे उपायुक्त सह  जिला निर्वाचन पदाधिकारी राय महिमापत रे अधिकारियों के साथ पहुंचे.  उन्होंने मतदान का जायजा लिया.  
 
राज्यपाल, डीसी, एसएसपी ने भी डाले वोट : 
 
रांची में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने अपना वोट दिया. साथ ही डीसी, एसएसपी और  एसडीओ ने भी अपना-अपना वोट दिया. अार्च बिशप फेलिक्स टोप्पो के साथ  प्रत्याशी सीपी सिंह, महुआ माजी , पवन शर्मा, सुनील गुप्ता ने भी अपना वोट  डाला.  
 
दृष्टि बाधितों ने किया मतदान : संत मिखाईल नेत्रहीन विद्यालय के दृष्टि बाधित कौशल्या कुमारी, एतवारी कुमारी, बेबी कुमारी, अजय होरो, कमलेश सिंह, सूरज लोहरा व रवि चौधरी ने संत पॉल स्कूल चर्च रोड मतदान केंद्र में वोट दिया़  वे सभी शिक्षक प्रदीप टूटी, प्रेम उदय हेमरोम, ममता राय और सुनीता तीड़ू की मदद से पैदल बूथ तक पहुंचे थे़
 
सुबह छह बजे से ही पहुंचने लगे थे लोग 
 
रांची विस क्षेत्र के मेन रोड, पुरुलिया रोड, पीपी कंपाउंड, हिंदपीढ़ी व कर्बला चौक इलाके के लोग सुबह साढ़े छह बजे से ही मतदान केंद्रों पर जुटने लगे थे. रांची आर्चडायसिस के आर्चबिशप फेलिक्स टोप्पो व ऑग्जीलरी बिशप थियोडोर मास्करेन्हास पत्त्थलकुदवा स्थित राजकीय उर्दू प्राथमिक विद्यालय की बूथ संख्या 245 के क्रमश: पहले और दूसरे वोटर बने़  गोस्सनर कंपाउंड स्थित बेथेसदा स्कूल, गोस्सनर मध्य विद्यालय, चर्च रोड के संत पॉल स्कूल, पुरुलिया रोड के संत अलोइस स्कूल, संत अन्ना स्कूल व एक्सआइएसएस हॉस्टल में वोटिंग औसत रही़  कर्बला चौक के राजकीय उर्दू मध्य विद्यालय, आजाद हाई स्कूल, पीपी कंपाउंड व हिंदपीढ़ी क्षेत्र के गुरुनानक स्कूल, आरसी मिशन स्कूल, इदरीसिया स्कूल, उर्दू मिडिल स्कूल, पुरानी रांची के प्राथमिक विद्यालय मतदान केंद्रों में दिन के नौ बजे के बाद मतदान में कुछ तेजी आयी. इन मतदान केंद्रों में अल्पसंख्यक वोटर्स की संख्या काफी है़ 
 
वृद्ध वोटर
 
आनेवाली पीढ़ी का भविष्य उज्जवल हो. उन्हें रोजी रोजगार मिले. इसी उम्मीद में वोट दिया. राज्य के युवाओं से भी अपील है कि वे अपनी ताकत को पहचानें. जीतने वाले प्रत्याशी से भी उम्मीद है कि वे क्षेत्र की समस्याओं को दूर करें. 
 
मनमासी तिग्गा, बुजुर्ग वोटर

महिला वोटर
 
एक किलोमीटर पैदल चल कर संत अन्ना कॉन्वेंट के बूथ पर वोट डालने पहुंची. देश के लिए वोट देना जरूरी है़  जब तक शरीर में ताकत रहेगी, मैं वोट जरूर दूंगी़  एक सुयोग्य उम्मीदवार चुनना चाहती हूं, जो प्रदेश को खुशहाल बनाये़ 
 
सिस्टर एवलीन लकड़ा, महिला वोटर

युवा वोटर
 
मैं सुबह सात बजे ही वोट डालने संत अन्ना स्कूल के मतदान केंद्र पहुंच गयी़ मैं चाहती हूं कि लड़कियाें काे सुरक्षित माहौल मिले़  नौकरियों के अच्छे अवसर मिले़ं  सभी लोगों को दुरुस्त कानून- व्यवस्था चाहिए़  इसी उम्मीद को लेकर मैं वोट करने पहुंची. 
 
वर्षा कुमारी, युवा वोटर

फर्स्ट टाइम वोटर
 
हमें उम्मीद है कि आनेवाले दिनों में हमारे चुने हुए जनप्रतिनिधि शहर के पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को दुरुस्त करेंगे. साथ ही शहर को जाममुक्त करने में अपनी भूमिका निभायें. अच्छे प्रतिनिधि चुन कर आयेंगे, तो क्षेत्र का ठीक तरीके से विकास होगा. 
चांदनी मुंडा, फर्स्ट टाइम वोटर 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement