Advertisement

patna

  • Sep 12 2019 6:53AM
Advertisement

अब सात समंदर पार पलेगा अनाथ नवनीत, स्वीडन के दंपती ने दानापुर पहुंच लिया गोद

अब सात समंदर पार पलेगा अनाथ नवनीत, स्वीडन के दंपती ने दानापुर पहुंच लिया गोद

दानापुर : नगर के लेखा नगर स्थित नारी गुंजन संस्था द्वारा संचालित सृजनी दत्तक संस्था  में रहने वाले अनाथ  बच्चे नवनीत को स्वीडन की दंपती की गोद मिली. बुधवार को  स्वीडन की एक निजी कंपनी में काम करने वाले  फेलिक्स रोबर्ट हैब्रेल ने अपनी पत्नी मोडिस्टी जोहाना टिनटिन हैब्रेल के साथ यहां पहुंचकर डेढ़ साल के इस बच्चे को गोद  लिया. नवनीत अब सात समुंदर  पार स्वीडन में पलेगा. 

इस दंपती ने अंतरराष्ट्रीय आफा द्वारा केंद्रीय दत्तक ग्रहण संसाधन प्राधिकार  (कारा) की मदद से सृजनी दत्तक संस्था से नवनीत को  गोद लिया है. नारी गुंजन संस्था की सचिव सुधा वर्गीज ने बताया कि  उन्हें बहुत खुशी है कि नवनीत  को नयी जिंदगी मिल गयी है. अब उसकी दुनिया बदल जायेगी.

छोड़ गये थे माता-पिता : सुधा वर्गीज ने बताया कि 21 मार्च, 2018 को आरा सदर अस्पताल में  नवनीत को उसके माता-पिता छोड़  गये थे. अस्पताल प्रशासन ने पटना की प्रयास भारती संस्था को नवनीत को ललन-पालन करने के लिए सौंपा था. 

14  नवंबर, 2018 को  प्रयास भारती ने नारी गुंजन सृजनी दत्तक संस्था को  नवनीत को सौंपा. उन्होंने बताया कि नियमानुसार सारी प्रक्रियाएं पूरी कर नवनीत को स्वीडिश दंपती को सौंप दिया गया. तीन दिनों से नवनीत के साथ दंपती ने पूरा समय बिताया. इस मौके पर जिला बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक दिलीप कुमार कामत व संस्था की सहायिका सविता समेत पूर्व प्राचार्या पूनम मौजूद थीं. 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement