Advertisement

patna

  • Nov 9 2018 8:06AM

पटना : ...जब दीपावली के दिन दो लाख से अधिक बेघरों को मिला अपना आशियाना

पटना : ...जब दीपावली के दिन दो लाख से अधिक बेघरों को मिला अपना आशियाना
दीपावली के दिन प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभुकों को कराया गया गृह प्रवेश 
 
पटना : प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दीपावली के दिन दो लाख लोगों को अपने घरों में गृह प्रवेश कराया गया. राज्य में तीन लाख लोगों को आवास देने का लक्ष्य रखा गया था. इनमें से दो लाख को आवास मुहैया कर दिया गया है. उम्मीद है जल्द ही बाकी को भी अपना घर मिल जायेगा. 
 
इसकी जानकारी ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार दी. वे मुख्य सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में संवाददाताओं को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में दीपावली के मौके पर  सामूहिक गृह प्रवेश कार्यक्रम आयोजित कर इन्हें नया आशियाना दिया गया है. वेबसाइट पर एक लाख 82 हजार से ज्यादा आवासों की फोटो अपलोड कर दी गयी है. सामूहिक गृह प्रवेश का कार्यक्रम सभी प्रखंडों में आयोजित किये गये थे. 

ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा, अच्छा काम करनेवाले होंगे सम्मानित

आवास निर्माण में भोजपुर सबसे आगे 
 
उन्होंने कहा कि आवास निर्माण करवाने में भोजपुर जिला  सबसे आगे रहा. इसके बाद नालंदा, नवादा, दरभंगा, समस्तीपुर और पटना का नंबर  आता है. 
 
इन जिलों के पदाधिकारियों और कर्मियों ने आवास निर्माण में बेहतर  काम किया है, उन्हें पुरस्कृत किया जायेगा. साथ ही जिन लाभुकों ने आवास का  निर्माण निर्धारित समय से पहले कर लिया है, उन्हें भी एक हजार रुपये की  प्रोत्साहन राशि दी जायेगी. वहीं समय पर आवास नहीं बनानेवालों पर कार्रवाई की जायेगी.

कुछ जिलों में निर्माण की रफ्तार धीमी
 
मंत्री ने बताया कि कुछ जिलों में आवास निर्माण की रफ्तार धीमी है. सूबे में अररिया का प्रदर्शन सबसे खराब है. मधेपुरा, पूर्णिया, सुपौल समेत अन्य जिलों में भी गति ठीक नहीं है. इसकी समीक्षा की जायेगी और दोषी पदाधिकारियों पर कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने कहा कि कई जिलों में आवास सहायक और आवास पर्यवेक्षक की हड़ताल होने से भी गृह निर्माण की गति काफी कम हुई है. पूर्वी चंपारण और मुजफ्फरपुर में हड़ताल चल रही है. उउन्होंने बताया कि सिर्फ एक दिन में सात हजार 952 आवासों का निर्माण पूरा कराया गया.

Advertisement

Comments

Advertisement