monghyr

  • Oct 16 2019 7:54AM
Advertisement

मुंगेर विवि में मिलेगी पांच साल की पीजी डिग्री, देश में लैटरल एक्जिट देने वाला होगा पहला विश्वविद्यालय

मुंगेर विवि में मिलेगी पांच साल की पीजी डिग्री, देश में लैटरल एक्जिट देने वाला होगा पहला विश्वविद्यालय

राजदेव पांडेय

पटना : मुंगेर विश्वविद्यालय अगले शैक्षणिक सत्र से पांच वर्षीय स्नातकोत्तर उपाधि देने वाला प्रदेश का पहला संस्थान बन जायेगा. इस आशय का प्रस्ताव राजभवन को भेजा जा रहा है. 

खास बात यह होगी कि इस स्नातकोत्तर उपाधि में अध्ययनरत विद्यार्थी तीन साल में भी लैटरल  एक्जिट (बीच में ही कोर्स से बाहर हो जाना) ले सकेंगे. लैटरल एक्जिट में विद्यार्थी को स्नातक की उपाधि दी जायेगी. हालांकि वह डिग्री ऑनर्स नहीं होगी. इस डिग्री से विद्यार्थी केवल प्रतिस्पर्धी परीक्षा दे सकेंगे. विश्वविद्यालय  लैटरल एक्जिट की सुविधा देने वाला  देश की परंपरागत श्रेणी का यह पहला विश्वविद्यालय होगा. 

इस कोर्स को रहेगी यूजीसी की मान्यता

विश्वविद्यालय की परिषद ने इस प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है. अंतिम मंजूरी के लिए प्रस्ताव गुरुवार को राजभवन भेजा जायेगा.  जानकारी के मुताबिक पांच वर्षीय  कोर्स इंटर के बाद चालू होगा. लैटरल एक्जिट लेने के लिए उसे सेकेंड इयर में ही आवेदन देना होगा. इस पर विश्वविद्यालय परंपरागत कोर्स में से कुछ सब्जेक्ट हटाकर उसे कुछ विशेष कोर्स / ब्रिज कोर्स  / इलेक्टिव कोर्स पढ़ायेगा. हालांकि स्नातक की उपाधि उसे उसी  विषय में मिलेगी, जिसमें उसने स्नातकोत्तर डिग्री  चाही थी. खास बात यह होगी कि लैटरल एक्जिट लेने के बाद स्नातक की उपाधि से कभी स्नातकोत्तर और दूसरी अाकादमिक उपाधि हासिल नहीं कर सकेंगे. इस कोर्स को यूजीसी की मान्यता है. मुंगेर विश्वविद्यालय के नये सभी कोर्स में प्रवेश ऑल इंडिया प्रवेश परीक्षा के आधार पर ही लिये जायेंगे.  

पांच वर्षीय स्नातकोत्तर डिग्री देने वाला प्रदेश का पहला और लैटरल एक्जिट देने वाला मुंगेर विश्वविद्यालय देश का पहला संस्थान बन जायेगा.  इसके अलावा कुछ और कोर्स शुरू किये जायेंगे. यह कोर्स अगले शैक्षणिक  सत्र से शुरू होंगे. इन प्रस्तावों को राजभवन भेजा जा रहा है. रोजगार की जरूरत के हिसाब से सभी कोर्स के पाठ्यक्रम तय किये गये हैं. 

डॉ रणजीत कुमार वर्मा,  कुलपति, 

मुंगेर  विश्वविद्यालय 

अगले शैक्षणिक सत्र से कई पाठ्यक्रम होंगे शुरू

अगले शैक्षणिक सत्र से विश्वविद्यालय कुछ गैर पारंपरिक कोर्स शुरू करेगा. इसमें इन्वेस्टीगेशन एंड सिक्योरिटी मैनेजमेंट, फूड शेफ्टी एंड क्वालिटी मैनेजमेंट, फैमिली मैनेजमेंट, डिजाॅस्टर एंड इन्वायरमेंटल मैनेजमेंट और स्कूल 

ऑफ कंटिन्यूइंग लर्निंग एंड प्रोफेशनल डेवलपमेंट शामिल हैं. विश्वविद्यालय  ने  भी इन पर अपनी मुहर लगा दी है. 

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement