Advertisement

gopalgunj

  • Jan 6 2018 4:31AM
Advertisement

नितिन हत्याकांड : पुलिस को चार पर शक, हुई पहचान

 गोपालगंज  : शहर के मानिकपुर में पहली जनवरी को हुई नितिन की हत्या के मामले में पुलिस को चार लोगों पर शक है. वारदात के बाद में सभी आरोपित फरार हैं. हत्याकांड की जांच कर रही पुलिस आरोपितों की पहचान कर लेने का दावा कर रही है. पुलिस को हत्याकांड से जुड़े सीसीटीपी फुटेज के अलावा आरोपितों के कई और साक्ष्य भी मिले हैं.

जिसके आधार पर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी हो रही है. पुलिस सूत्रों की माने तो नितिन की हत्या के बाद से ही मानिकपुर गांव के उसके साथी भी फरार हैं. नितिन की हत्या किस कारणों से हुई, इसका खुलासा अबतक नहीं हो पाया है. बहरहाल वारदात के बाद से परिजन बेसूद हैं. पीड़ित परिजनों ने नितिन के हत्या में शामिल आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग की है. हालांकि पुलिस अधिकारियों ने भी परिजनों को जल्द ही हत्याकांड का खुलासा कर लेने तथा वारदात में शामिल आरोपितों की गिरफ्तारी करने का आश्वासन दिया है. 

मोबाईल से भी खंगाली जा रही रिकॉर्ड : एक जनवरी को नितिन का शव तिवारी टोला में मिला था. नितिन के पास मोबाईल था, लेकिन वारदात में शामिल आरोपितों ने मोबाइल को तिवारी टोला में शव के पास पानी में डूबो दिया था. काफी खोजबीन के बाद मोबाईल मिला. अब मोबाइल के आधार पर पुलिस ने रिकॉर्ड खंगालनी शुरू कर दी है. 
बिसरा रिपोर्ट से होगा खुलासा : हत्याकांड की जांच में जुटी पुलिस को बिसरा रिपोर्ट का इंतजार है. पुलिस ने हत्या के कारणों को अबतक स्पष्ट नहीं किया है. परिजनों ने गला दबाकर हत्या करने की आशंका जताते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी है. वहीं कुछ लोग नशीली पदार्थ पीने से मौत होने की बात पुलिस को बता रहे थे. हालांकि पुलिस ने पोस्टमार्टम व बिसरा रिपोर्ट आने पर मौत का खुलासा होने की बात बतायी है. पुलिस को जल्द ही दोनों रिपोर्ट मिलने की संभावना है.
सरेंडर भी कर सकते हैं आरोपित, छापेमारी में जुटी पुलिस 
मानिकपुर में हुई थी नितिन की हत्या, जल्द होगा खुलासा 
कौन था नितिन 
नगर थाना के मानिकपुर गांव निवासी अभय कुमार श्रीवास्तव का पुत्र नितिन कुमार था. गत 31 दिसंबर की रात घर से पार्टी में शामिल होने के लिए बुलाया गया था. दूसरे दिन एक जनवरी का तिवारी टोला में शव मिला था. पुलिस ने शव को बरामद करने के बाद सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया था. इस मामले में अज्ञात लोगों के विरुद्ध पीड़ित पिता ने हत्या की प्राथमिकी दर्ज करायी थी. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement