dhanbad

  • Jan 13 2020 9:45AM
Advertisement

घनुडीह : लुटेरों की धमकी से दहशत में कर्मी

घनुडीह : तिसरा थाना क्षेत्र के केओसीपी एनसी पैच पार्ट टू ओबी डंप में शनिवार को अपराधियों द्वारा की गयी फायरिंग की जांच करने रविवार को डीएसपी अजीत कुमार सिन्हा बीजीआर कैंप पहुंचे. डीएसपी ने बीजीआर प्रबंधक एन स्वरूप रेड्डी साईं रेड्डी, साइट इंचार्ज विनोद सिंह से घटना की जानकारी ली. 
 
उन्होंने  परियोजना में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को देखा. कल अलस्सुबह करीब चार बजे अपराधी डीजल लूटने के उद्देश्य से हमला बोल दिये थे. इस दौरान फायरिंग भी की. जवाब में बीजीआर के सुरक्षा गार्ड ने भी फायरिंग कर अपराधियों को खदेड़ दिया. डीएसपी अजीत कुमार सिन्हा तिसरा थानेदार शाहवीर उरांव, घनुडीह ओपी प्रभारी चंद्रशेखर सिंह के साथ बीजीआर एनसी पैच कैंप पहुंचे. श्री रेड्डी ने बताया कि डीजल लुटेरे रात में अचानक हमला कर भारी वाहनों से डीजल लूट लेते हैं. 
 
पूर्व में भी कई बार घटना हो चुकी है. बताया कि लुटेरों ने कर्मियों को जान से मारने व मशीन जलाने की धमकी भी दी है. इससे रात पाली के कर्मी भयभीत हैं. डीएसपी ने प्रबंधक से अपराधियों के गिरोह का नाम व उनकी पहचान आदि के बारे में पूछा. इस पर प्रबंधक ने अनभिज्ञता जतायी. बताया कि वे चेहरा ढक कर आते हैं. 
 
सुरक्षा गार्डों से होगी पूछताछ : डीएसपी ने कंपनी के सुरक्षा गार्डों के बारे में पूछा. प्रबंधक ने बताया कि रात सात बजे से सुरक्षा गार्डों की ड्यूटी रहती है. सभी एक एजेंसी द्वारा मुहैया कराये गये हैं. डीएसपी ने तिसरा थानेदार शाहवीर उरांव को मामले की जांच कर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया. 
 
साथ ही सभी सुरक्षा गार्डों से एक-एक कर पूछताछ करने की बात कही. श्री सिन्हा ने घटना में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी करने का आदेश भी थानेदार को दिया है. इससे पूर्व आज सुबह तिसरा थानेदार शाहवीर उरांव व घनुडीह ओपी प्रभारी चंद्रशेखर सिंह दलबल के साथ एनसी पैच ओबी डंप पहुंचे. वहां खोखा की तलाश की गयी, लेकिन बरामद नहीं हो सका. शाहवीर उरांव ने कहा कि सुरक्षा गार्ड की बंदूक की जांच की जायेगी. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement