Advertisement

crime

  • May 23 2017 6:54AM
Advertisement

तारा शाहदेव मामले में रकीबुल हसन पर लगी प्रताड़ना व दुष्कर्म की धाराएं

तारा शाहदेव मामले में रकीबुल हसन पर लगी प्रताड़ना व दुष्कर्म की धाराएं
रांची : नेशनल शूटर तारा शाहदेव से जुड़े दहेज प्रताड़ना मामले  में सीबीआइ ने चार्जशीट दाखिल कर दी है़  सीबीआइ के विशेष न्यायिक  दंडाधिकारी फहीम किरमानी की अदालत में सीबीआइ ने हाइकोर्ट के पूर्व रजिस्ट्रार मुस्ताक  अहमद, तारा शाहदेव के कथित पति रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हसन, उसकी मां कौशल देवी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है.
 
ठोस साक्ष्य के साथ  चार्जशीट समर्पित की गयी है़  सीबीआइ ने कांड संख्या आरसी 9/2015 का तफ्तीश पूरी  करते हुए चार्जशीट दाखिल की है़   अधिवक्ता अविनाश कुमार पांडेय से मिली  जानकारी के अनुसार  तारा के तथाकथित पति रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हसन पर प्रताड़ना के साथ  दुष्कर्म की धारा लगायी गयी है़   मां कौशल देवी पर प्रताड़ित करने  एवं हाइकोर्ट के पूर्व रजिस्ट्रार मुस्ताक  अहमद पर रकीबुल का साथ देने का आरोप लगाया गया है़   
 
श्री पांडेय ने बताया कि  चार्जशीट दाखिल होने के बाद मामले में जल्द ही अदालत  संज्ञान लेकर आरोपियों को सम्मन जारी करेगी.  मालूम हो कि हाइकोर्ट के आदेश के  बाद दिल्ली सीबीआइ की टीम ने कोहली से जुड़े तीनों मुकदमों को टेक ओवर करते हुए वर्ष 2015 में जांच  प्रारंभ कर दी थी़  उक्त मामले में रंजीत सिंह कोहली 27 अगस्त 2014 से लगातार न्यायिक हिरासत में है़  उसकी मां जमानत पर है़  
 
गौरतलब है तारा शाहदेव ने 23 अगस्त 2014 को हिंदपीढ़ी थाना में रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हसन, उसकी मां कौशल देवी व कई न्यायिक अधिकारी पर प्राथमिकी दर्ज करायी थी़ तारा शाहदेव को घर में बंद कर उसके साथ मारपीट की गयी थी़  उसे सिगरेट से दागा गया था़ किसी प्रकार से तारा के घर वालों ने उसे जख्मी हालत में रिम्स में भरती कराया गया था़ 
 
बाद में तारा शाहदेव ने जबरन धर्म परिवर्तन और शारीरिक संबंध बनाने का मामला भी दर्ज कराया था़  तारा शाहदेव ने पूछताछ के क्रम में पुलिस को बताया था कि रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल ने उसे सब्ज बाग दिखाया था कि वह उसे काफी ऊंचाई पर पहुंचा देगा़  उसका बड़े-बड़े लोगाें के साथ उठना-बैठना था़ जिससे तारा शाहदेव उसके झांसे में आ गयी़  इसके बाद तारा शाहदेव ने उससे शादी कर ली थी़  हालांकि शादी के कुछ दिन बाद ही  उसके सामने  सारी सच्चाई  आ गयी़  जब वह विरोध करने लगी, तो उसके साथ मारपीट व तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाने लगा.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement