Advertisement

crime

  • Apr 21 2017 7:25AM

20 सादा पेपर पर विक्रम शर्मा से पुलिस ने कराये हस्ताक्षर

रांची/जमशेदपुर: देहरादून से गिरफ्तार विक्रम शर्मा को जेल भेजने से पहले जिला पुलिस ने बिष्टुपुर थाना में 20 सादे पेपर पर हस्ताक्षर कराये. देहरादून में विक्रम की पत्नी से भी पुलिस ने कुछ पेपर पर हस्ताक्षर कराये. विक्रम के अधिवक्ता ने जिला जज 12 रमेश चंद्रा की अदालत में अर्जी देकर पुलिस द्वारा सादे पेपर पर हस्ताक्षर कराने की बात से अवगत कराया है. 

अर्जी में  अधिवक्ता ने यह आशंका जतायी है कि पुलिस विक्रम शर्मा को रिमांड पर लेने के लिए किसी भी थाना में झूठा मामला दर्ज कर सकती है. कोर्ट ने अर्जी पर कोई अॉर्डर नहीं दिया है. वहीं, दूसरी तरफ जिला पुलिस की तरफ से नियुक्त स्पेशल पीपी जयप्रकाश ने विक्रम शर्मा को रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में अर्जी दी, लेकिन कोर्ट ने रिमांड देने से इनकार कर दिया. इसके बाद स्पेशल पीपी ने अर्जी वापस ले ली. मालूम हो कि विक्रम शर्मा पर दर्ज सभी मामलों में जिला पुलिस द्वारा चार्जशीट दाखिल की गयी है. विक्रम को रिमांड पर लेने के लिए पुलिस उस पर फर्जी दस्तावेज तैयार करने का मामला दर्ज करने की तैयारी में है. इसी के मद्देनजर विक्रम शर्मा ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से गुरुवार को कोर्ट में अर्जी दाखिल करवायी.
 
क्या लिखा गया है अर्जी में : विक्रम की तरफ से कोर्ट को दी गयी अर्जी में कहा गया है कि 14 अप्रैल को जिला पुलिस की टीम देहरादून पुलिस की मदद से उसके फ्लैट में पहुंची और उसे गिरफ्तार कर ले गयी. देहरादून कोर्ट में उसे 16 अप्रैल को प्रस्तुत किया गया. 16 अप्रैल से लेकर 19 अप्रैल तक पुलिस देहरादून से जमशेदपुर लाने के क्रम में कई बार उससे पूछताछ की है.

Advertisement

Comments