Advertisement

crime

  • Jun 8 2019 12:34AM
Advertisement

पानी के लिए हुए विवाद में पुलिस ने चाकूबाजी के आरोपी को भेजा जेल

पानी के लिए हुए विवाद में पुलिस ने चाकूबाजी के आरोपी को भेजा जेल

 रांची  : कोतवाली थाना क्षेत्र के भुइंया टोली में टंकी से पानी भरने को लेकर हुए विवाद में चाकूबाजी करने का आरोपी भरत प्रसाद साहू को शुक्रवार को काेतवाली पुलिस ने जेल भेज दिया. इस मामले में दोनों ओर से प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. पहली प्राथमिकी जख्मी सोना देवी के पुत्र शिव कुमार यादव ने व दूसरी प्राथमिकी आरोपी भरत प्रसाद साहू ने करायी है. 

 
इधर, सेवा सदन में भर्ती घायल लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है़  शिव कुमार यादव सेवा सदन अस्पताल में एंबुलेंस का चालक है. उसने प्राथमिकी में लिखा है कि मेरे पिता देव राय ने बताया कि भरत प्रसाद साहू उर्फ बाबू ने मेरी मां सोना देवी, भाई सुनील यादव, भतीजा अजय यादव, ऋषभ राज व सोनू सिंह को चाकू से मार कर जख्मी कर दिया  है.  जब मैं घटनास्थल पर पहुंचा, तो सभी को घायल देखा. इसके बाद सभी को मैंने सेवा सदन अस्पताल में भर्ती कराया़  
 
घटना को लेकर दोनों पक्षों की ओर से दर्ज करायी गयी प्राथमिकी 
आरोपी ने कहा : चाकू मैंने नहीं, सोनू सिंह ने चलाया, आरोप मुझ पर लगा दिया गया 
इधर, न्यू किशोरगंज शिव शक्ति नगर, हरमू रोड रांची निवासी भरत प्रसाद साहू ने प्राथमिकी मेें लिखा है कि मैं गाड़ीखाना के भुइंया टोली पानी लेने गया था. लेकिन अगल-बगल के लोगों ने मुझे पानी लेने से रोक दिया. मैंने उनसे कई बार कहा कि पीने के लिए थोड़ा पानी लेने दीजिये. इस पर अगल-बगल के लोग इकट्ठा हो गये और गाली-गलौज करने लगे.  मैं अकेला था और अपने बचाव में हाथ झटकने लगा. 
 
उसी भीड़ में से सोनू सिंह नामक व्यक्ति चाकू निकाल कर अंधाधुंध चलाने लगा. चाकू का एक वार मेरे सिर में भी लगा. साेनू सिंह के चाकू चलाने पर उसके वार से ही कई व्यक्ति घायल हुए हैं. इसके बाद सभी लोग शोर मचाने लगे. फिर उन लोगों  ने चाकू मारने का आरोप  मुझ पर लगा दिया.  
 
इस दौरान सोनू व उसके साथियों ने मुझ पर हमला कर दिया.  उन लोगों ने ईंट-पत्थर से मार कर मुझे घायल कर दिया. सोनू व उसके साथियों ने मेरा मोबाइल, पर्स में रखे दस हजार रुपये लूट लिया. मौके पर यदि पुलिस कुछ और देेर से पहुंचती, तो मेरी जान भी जा सकती थी. उसने पुलिस से आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है़ 
 
स्थानीय लोग बोले : एक जाति विशेष के लोग पानी लेने पर करते हैं गाली-गलौज   
इस मामले में पार्षद एहतेशाम ने पुलिस को बताया कि भुइंया टोली में उन्होंने दो पानी की टंकी लगवायी है. वहां पानी की कोई कमी नहीं है. यदि वहां 24 घंटा भी पानी भरा जाये, तो पानी की कमी नहीं होगी. ऐसे में पानी के लिए विवाद होना समझ से परे है़  इधर, मुहल्ले के कुछ लोगों ने पुलिस को बताया कि वहां एक जाति विशेष के लोग पानी की टंकी को अपनी संपत्ति समझते हैं और दूसरे लोगों के पानी लेने पर गाली-गलौज करते हैं.  वे लोग दूसरों को पानी लेने नहीं देते.  
 
स्थानीय लोगों का कहना है कि पानी की टंकी सार्वजनिक है, तो किसी के पानी लेने पर एतराज नहीं हाेना चाहिए.  लेकिन कुछ लोग अपना वर्चस्व कायम करने के उद्देश्य से दूसरों को पानी लेने से रोकते हैं. इलाके में सप्लाई पानी भी आता है़  अधिकतर लोगों के घरों में वाटर सप्लाई की भी सुविधा है. ऐसे में वहां पानी की कोई दिक्कत नहीं है. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement