Advertisement

crime

  • Feb 9 2019 4:02AM

पटना : कुख्यात पंकज शर्मा समेत पांच गिरफ्तार

पटना :  कुख्यात पंकज शर्मा समेत पांच गिरफ्तार

 पटना : शास्त्री नगर थाने के कृषि नगर में 90 फीट इलाके से कुख्यात पंकज शर्मा समेत पांच अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. इन लोगों के पास से खुखरी और चाकू बरामद किये गये है. पुलिस जब इन लोगों के पास पहुंची, तो उस समय सभी शराब के नशे में थे और अपराध की योजना बना रहे थे.

पंकज शर्मा (मथुरापुर, विदुपुर, वैशाली) के अलावा राजीव रंजन उर्फ टेनी कुमार  (दमरिया, गर्दनीबाग), वीरेंद्र कुमार (उत्तरी शिकारपुर, शाहपुर), विनोद कुमार (खगौल) व निशांत सिंह (पुलिस कॉलोनी, गर्दनीबाग) शामिल हैं. पंकज शर्मा कुख्यात अपराधी है और यह वर्ष 2003 से पटना में अपराध की दुनिया में सक्रिय है.

2005 में पटना में हुए चर्चित गोलू अपहरण कांड के साथ ही इसके खिलाफ 25 से 30 आपराधिक मामले दर्ज हैं. यह 2015 में जेल गया था और कुछ दिन के बाद जमानत पर निकल गया. इस दौरान यह चेन स्नेचिंग जैसी वारदात को अंजाम देने लगा.  यह मूल रूप से वैशाली का रहने वाला है, लेकिन पटना के शास्त्री नगर थाना इलाके में अपना ठिकाना बना रखा था.

 

इसके सबसे ज्यादा आपराधिक मामले शास्त्री नगर थाने में ही दर्ज हैं. शास्त्री नगर इलाके में इसके खिलाफ रंगदारी व हत्या के कई मामले हैं. सोना-चांदी के व्यवसायी को एजी कॉलोनी में रंगदारी नहीं देने के कारण गोली मार दी थी. इसके अलावा राजीव रंजन उर्फ टेनी पर कई मामले दर्ज हैं. 

पुलिस पहुंची तो की भागने की कोशिश 
 
 सभी अपराधी एक व्यवसायी से पैसे लूटने और विरोध करने पर हत्या करने की योजना बना रहे थे. इसी बीच शास्त्री नगर थानाध्यक्ष निहार भूषण को भनक लग गयी और उन्होंने उस इलाके की घेराबंदी कर सभी को पकड़ लिया. इस दौरान अपराधियों ने भागने की कोशिश की. लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली. इसके बाद पुलिस ने पांचों के नाम व पता का सत्यापन किया, तो उसमें पंकज शर्मा भी निकल गया.
 
दानापुर : थाना क्षेत्र के  गाभतल स्थित त्रिभुवन पार्क के पास बिजली मरम्मत कार्य में जुटे  बिजली मिस्त्री  नवी आलम की करेंट लगने से  शुक्रवार की अहले सुबह मौत हो गयी, जबकि  उसके दो सहयोगी जख्मी हो गये.
 
जख्मी  मानवबल अभिषेक कुमार का गोलापर निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है.  नवी आलम मौत की खबर सुनकर परिजन अनुमंडलीय अस्पताल से शव को उठाकर घर दीघा ले गये. परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर  दानापुर -गांधी मैदान मुख्य मार्ग को दीघा विद्युत केंद्र के  पास  सड़क जाम कर प्रदर्शन किया. जाम के कारण आधा घंटे तक यातायात बाधित रहा. 
 
पुलिस ने मृतक के परिजनों को  आश्वासन देकर सड़क जाम हटाया. घटना उस वक्त कि है जब शटडाउन लेकर बिजली मिस्त्री नवी आलम गाभतल स्थित त्रिभुवन पार्क के पास ट्रांसफाॅर्मर पर चढ़कर हाइ वोल्टेज तार को ठीक कर रहा था. तभी अचानक बिजली आपूर्ति बहाल होने से करेंट लगने से नवी आलम की मौत हो गयी और उसका सहयोगी अभिषेक सीढ़ी से  नीचे गिरने से गंभीर रूप से जख्मी हो गया.
 
 उसके एक और सहयोगी घायल होने की सूचना है. जख्मी अभिषेक चौधराना रोड निवासी अनिल कुमार का पुत्र है. जख्मी अभिषेक ने बताया कि शुक्रवार की अहले सुबह साढ़े तीन बजे शटडाउन लेकर ट्रांसफाॅर्मर पर काम करने चढ़े थे. कार्य कर ही रहे थे. लाइन चालू हो गया. घटना के समय गोला रोड के कनीय अभियंता अनुराग कुमार मौजूद थे. उन्होंने ही शटडाउन लिया था.  
 
‘जांच के बाद दोषियों पर होगी कार्रवाई’ 
विभाग के कार्यपालक अभियंता शिव शंकर प्रसाद ने बताया कि गोला रोड के कनीय अभियंता अनुराग कुमार व कनीय अभियंता नीरज पाठक ने शटडाउन करा कर बिजली मिस्त्री से मरम्मत करा रहे थे. इसके बाद कैसे विद्युत केंद्र से आॅपरेटर लाइन चालू कर दिया है. इसकी जांच की जा रही है. जांच में दोषी पाये जाने वाले कर्मियों को बख्शा नहीं जायेगा. 
 

Advertisement

Comments

Advertisement